दिल्ली बनी छावनी: केजरीवाल ने मांगी फोर्स से मदद, नहीं संभल रही राजधानी

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में नागरिक संशोधन कानून (CAA) को लेकर एक बार फिर से हिंसा भड़क चुकी है। उत्तर पूर्वी दिल्ली में CAA को लेकर पिछले दो दिनों से पत्थरबाजी और आगजनी का माहौल देखने को मिल रहा है।

Published by Shreya Published: February 26, 2020 | 1:54 pm
दिल्ली बनी छावनी: केजरीवाल ने मांगी फोर्स से मदद, नहीं संभल रही राजधानी

दिल्ली बनी छावनी: केजरीवाल ने मांगी फोर्स से मदद, नहीं संभल रही राजधानी

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में नागरिक संशोधन कानून (CAA) को लेकर एक बार फिर से हिंसा भड़क चुकी है। उत्तर पूर्वी दिल्ली में CAA को लेकर पिछले दो दिनों से पत्थरबाजी और आगजनी का माहौल देखने को मिल रहा है। उत्तर पूर्वी दिल्ली नफरत की आग में झुलस रही है। दिल्ली हिंसा में अब तक 20 लोगों की मौत हो चुकी है, जिसमें दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्सटेबल रतन लाल का नाम भी शामिल है। जबकि कई 190 से ज्यादा लोग घायल हैं।

हिंसा पर काबू पाने के लिए 800 अधिक जवानों की होगी तैनाती

अब दिल्ली में हो रहे हिंसा पर काबू पाने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय एक्शन में आ गया है। स्थिति पर नियंत्रण पाने और उपद्रवियों को काबू करने के लिए अब दिल्ली में और अधिक सुरक्षा बढ़ाए जाने की तैयारी है। दिल्ली में अब 800 अधिक जवानों की तैनाती की जाएगी। बता दें कि मंगलवार तक दिल्ली में 37 अर्धसैनिक बलों की कंपनियां तैनात थी, लेकिन इनकी संख्या को बढ़ाकर 45 कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: हादसे से दहला भारत: 18 मौतों से कांप उठे लोग, अभी भी निकल रही लाशें

अरविंद केजरीवाल ने सेना के लिए की मांग

वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हालात पर काबू पाने के लिए सेना की मांग की है। उन्होंने कहा है कि दिल्ली पुलिस से राजधानी की शांति व्यवस्था नहीं संभाली जा रही है, अब यहां सेना की जरुरत है। लेकिन गृह मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि अभी सेना की जरुरत नहीं है।

सुरक्षाबलों ने संभाला मोर्चा

वहीं दिल्ली के भजनपुरा इलाके में हिंसा के बाद अब सुरक्षाबलों ने मोर्चा संभाल लिया है। यहां पर बीएसएफ (BSF) द्वारा मार्च किया जा रहा है। बता दें कि भजनपुरा इलाके में उपद्रवियों ने एक पेट्रोल पंप को आग के हवाले कर दिया था और साथ ही गाड़ियों में तोड़फोड़ भी की गई थी। अर्धसैनिक बलों के जवान पुलिस के साथ मिलकर कई इलाकों में मार्च कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: जली दिल्ली और SC का इनकार: कैसे होगी सुनवाई, आखिर किस बात का इंतज़ार

अजित डोभाल ने हिंसाग्रस्त इलाकों का किया दौरा

बता दें कि हिंसा के बाद अब राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (National Security Advisor- NSA) अजित डोभाल भी एक्शन में आ गए हैं। रात दिल्ली तनाव के बीच अजित डोभाल पुलिस के कमिश्नर अमूल्य पटनायक के साथ मंगलवार देर हालात का जायजा लेने हिंसाग्रस्त इलाकों में पहुंचे। उन्होंने गाड़ी में बैठकर सीलमपुर, भजनपुरा, मौजपुर, यमुना विहार जैसे हिंसा प्रभावित इलाकों की स्थिति का जायजा लिया। इसके बाद पुलिस कमिश्नर, संयुक्त सीपी, डीसीपी समेत कई वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की।

‘शूट एट साइट’ का मिला आदेश

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर किये जा रहे बवाल को देखते हुए उत्तर पूर्वी दिल्ली में 4 जगहों पर कर्फ्यू लगा दिया गया है। वहीं नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में पुलिस को उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने (शूट एट साइट) का आदेश जारी किया गया है। बता दें कि नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून के नाम पर हो रही हिंसा ने उग्र शक्ल अख्तियार कर ली है। सोमवार से अब तक तोड़फोड़ और आगजनी की कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं।

यह भी पढ़ें: कब बंद होगी आतंक की दुकान: बालाकोट एयरस्ट्राइक की बरसी पर पाक ने की नापाक हरकत