आप के बागी नेता कपिल मिश्रा बीजेपी में शामिल, बताया- क्यों छोड़ा केजरीवाल का साथ

आम आदमी पार्टी के बागी नेता कपिल मिश्रा ने शनिवार को भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) का थाम लिया। इस दौरान बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी, बीजेपी के वरिष्ठ नेता विजय गोयल मौजूद थे। कपिल मिश्रा ने एक दिन पहले ही ट्वीट कर कहा था कि वह शनिवार को 11 बजे बीजेपी में शामिल होंगे।

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के बागी नेता कपिल मिश्रा ने शनिवार को भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) का थाम लिया। इस दौरान बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी, बीजेपी के वरिष्ठ नेता विजय गोयल मौजूद थे। कपिल मिश्रा ने एक दिन पहले ही ट्वीट कर कहा था कि वह शनिवार को 11 बजे बीजेपी में शामिल होंगे। कपिल मिश्रा ने ‘दिल्ली चले मोदी के साथ’ नारा भी लिखा था।

यह भी पढ़ें…माइग्रेन से पाना है छुटकारा तो ये करें ये काम, नहीं होगी कोई दिक्कत

बता दें कि कपिल मिश्रा और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बीच लंबे समय से सब ठीक नहीं चल रहा था। कपिल मिश्रा ने लोकसभा चुनावों के दौरान खुलकर बीजेपी के लिए प्रचार किया था।

यह भी पढ़ें…हर-हर मोदी से गूंज उठा भूटान, कुछ इस तरह हुआ पीएम का स्वागत

इसी वजह से आम आदमी पार्टी ने कुछ दिन पहले ही उनकी विधानसभा की सदस्यता रद्द कर दी थी। विधानसभा अध्यक्ष ने दल-बदल कानून के तहत मिश्रा को अयोग्य भी ठहरा दिया था।

साल 2017 में कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल पर दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन से 2 करोड़ रुपये रिश्वत लेने का आरोप लगाया था।

यह भी पढ़ें…अरुण जेटली की सेहत में नहीं हो रहा सुधार, हाल जानने AIIMS पहुंचीं मायावती

इस मौके पर कपिल मिश्रा ने कहा कि करीब दो साल तक पार्टी में रहते हुए भ्रष्‍ट सरकार का विरोध करना आसान नहीं था। अन्ना के साथ जिन भ्रष्टाचारियों का विरोध किया उसके साथ केजरीवाल जा मिले, ऐसे में विरोध ही एकमात्र रास्ता है।

यह भी पढ़ें…रेलवे से भी मिली आजादी के सेनानियों को काफी मदद

‘आप को एक भी सीट नहीं मिलेगी’

विधायकी से ज्यादा गर्व भाजपा का कार्यकर्ता बनना है। केजरीवाल कह रहे हैं कि इसबार 70 सीटें मिलेगी। उन्हें किसी टेंट हॉउस से 70 सीटें मिल सकती है, विधानसभा में तो आप को एक भी सीट नहीं मिलेगी। भाजपा में इसलिए शामिल हो रहा हूं कि खुलकर भारत माता की जय बोल सकें।