गजब: 26 की उम्र में ये शख्स कैसे कर लेता हैं 50 लाख रुपये महीने तक की कमाई? यहां जानें

इस इंजीनियर का नाम जुबैर रहमान है। वह 2014 में जुबैर रहमान तमिलनाडु के तिरुपुर में सीसीटीवी ऑपरेटर की नौकरी करते थे। ये जुबैर की पहली नौकरी थी। उस समय उसकी उम्र करीब 21 साल थी।

लखनऊ: कहते है अगर मेहनत की जाए तो वह बेकार नहीं जाती है। संघर्ष ही इंसान को महान बनाता है। जीवन में जितने भी लोग सफल हुए या आगे बढ़े हैं। उनके पीछे संघर्ष जरुर रहा है।

आज हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं। जिसने  इंजीनियरिंग के पेशे से करियर की शुरूआती की थी।

उसने करियर की शुरुआत दस हजार रुपये महीने की सैलरी पाने वाले एक सीसीटीवी ऑपरेटर के तौर पर की और अथक परिश्रम के बल नये आइडियाज के साथ आगे बढ़ता गया।

आज इस इंजीनियर की हर महीने की कमाई 50 लाख रुपये महीने की है। आइये जानते है उसके बारे में सबकुछ…

इस इंजीनियर का नाम जुबैर रहमान है। वह 2014 में जुबैर रहमान तमिलनाडु के तिरुपुर में सीसीटीवी ऑपरेटर की नौकरी करते थे। ये जुबैर की पहली नौकरी थी। उस समय उसकी उम्र करीब 21 साल थी।

वह ऑफिसों में जाकर इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर के तौर पर कैम्पस में में सीसीटीवी लगाते थे।

लेकिन जुबैर का सपना था कि वो अपना खुद का बिजनेस शुरू करें। लेकिन, उन्हें ये समझ नहीं आ रहा था कि आखिर वो शुरुआत कैसे करें।

एक दिन, अचानक उनके दिमाग में एक आइडिया आया जब उन्हें एक ई-कॉमर्स कंपनी के कार्यालय में सीसीटीवी लगाने की रिक्वेस्ट मिली। वह याद करते हैं।

ये भी पढ़ें…अजब गजब: यहां लोग देते हैं दहेज में सांप, जो नहीं देते उनकी बेटी रहती है कुंवारी

ऐसे की कंपनी की शुरुआत

इसके बाद जुबैर को अहसास हुआ कि कपड़ा ही अकेला ऐसा उत्पाद है जिसे वो तिरुपुर से सोर्स कर सकते हैं। ये एक मजबूत कपड़ा निर्माण पारिस्थितिकी तंत्र है, जहां भारत के कपास निटवेअर निर्यात का 90 प्रतिशत का हिसाब किताब होता है।

जुबैर के मुताबिक़ सबसे पहले मैंने ग्राउंड वर्क किया, दो महीने तक तिरुपुर के कई कपड़ा निर्माताओं से मुलाकात की।  मैंने अपने दोस्तों से कपड़ा सोर्स करने में मदद मांगी, वहां से ये पता लगाने के लिए भी बात की कि किस तरह के कपड़े ऑनलाइन माध्यम से ठीक ढंग से बेचा जा सके।

अब तक, उन्होंने अपनी नौकरी छोड़ दी थी और एक उद्यमी बनने के लिए दृढ़ थे। यह उनके लिए एक ठोस कदम था, खासकर बेरोजगारी संकट से गुजर रहे भारत के एक इंजीनियर के लिए।

टैलेंट इवेलुएशन कंपनी एस्पायर माइंड्स की 2019 की एम्प्लॉयबिलिटी रिपोर्ट के अनुसार, 2010 के बाद से भारतीय इंजीनियरिंग स्नातकों की रोजगार क्षमता में कोई सुधार नहीं हुआ है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि स्थिति इतनी भयावह है कि देश के 80 प्रतिशत से अधिक भारतीय इंजीनियर बेरोजगार हैं। इसलिए, जुबैर ने अपनी नौकरी छोड़ने का फैसला संभवतः बिना किसी रिटर्न के किया था।

इसके अलावा, वे आर्थिक रूप से भी ज्यादा मजबूत नहीं थे। 2015 में, उन्होंने अपने घर में ‘फैशन फैक्टरी’ शुरू करने के लिए सिर्फ 10,000 रुपये का निवेश किया।

ये भी पढ़ें…अजब गजब:जानिए सेना के जवानों के छोटे बाल रखने के पीछे छिपे राज…

ऐसे बढ़ते गये आगे

इन शुरुआती दिनों में, जुबैर ने फ्लिपकार्ट और फिर अमेजॉन पर कपड़े लिस्टेड करना शुरू किया। उन्हें दिन में सिर्फ एक या दो ऑर्डर मिल रहे थे, लेकिन रफ्तार बढ़ रही थी।

जुबैर ने पाया कि उनकी पांच या छह यूनिट्स  के कॉम्बो पैक में बच्चों के कपड़े लोगों का ध्यान ज्यादा आकर्षित कर रहे हैं। हालांकि इसका मतलब यह था कि उन्होंने प्रत्येक पैक को 550 रुपये से 880 रुपये के बीच में बेचा और प्रत्येक बिक्री पर उन्होंने जो मार्जिन पाया वह अपेक्षाकृत कम था।

वह बताते हैं कि अलग-अलग कपड़ों की तुलना में कॉम्बो पैक सस्ता था। मुझे हर बिक्री में कम लाभ मिल रहा था, लेकिन ऑर्डर की संख्या बढ़ रही थी। इसी बढ़ती संख्या को देखते हुए जुबैर ने तय किया कि वह अधिक मुनाफा कमाने के लिए बड़े संस्करणों पर ध्यान केंद्रित करेंगे।

वो अपने साथी निर्माताओं के पास गए और उनसे अपनी इनवेंट्री में और अधिक उत्पादों को जोड़ने की मांग की। फिर जैसे जैसे ऑर्डर की संख्या बढ़ी, उन्होंने अपना होम सेटअप से बाहर जाकर एक विनिर्माण इकाई शुरू की जिसमें उन्होंने 30,000 रुपये का निवेश किया।

इसमें न केवल बच्चों के कपड़े बल्कि ब्वॉयज टी शर्ट, पजामा, ट्रैक पैंट, स्वेटशर्ट और भी बहुत कुछ बनाने के लिए ये फैसिलिटी स्थानीय कपड़े का उपयोग करती है।

जुबैर की रणनीति ने इतनी अच्छी तरह से काम किया कि ‘द फैशन फैक्टरी’ को अब हर दिन 200 से 300 ऑर्डर मिलते हैं. दावा है कि उनकी कंपनी हर महीने 50 लाख राजस्व कमाती है।

जुबैर बताते हैं कि उनकी कंपनी फैशन फैक्टरी सालाना 6.5 करोड़ रुपये का राजस्व कमाती है, और अगले एक साल में 12 करोड़ रुपये का लक्ष्य रखा है।

ये भी पढ़ें…अजब-गजब: एक ऐसा देश जहां पिता कर सकता है बेटी से शादी, पति को है रेप का हक