कश्मीर दौरे पर विदेशी सांसद, राहुल, ओवैसी समेत विपक्ष का केंद्र पर हमला

यूरोपियन यूनियन(EU) के सांसदों का प्रतिनिधिमंडल जम्मू-कश्मीर दौरे के लिए मंगलवार को श्रीनगर पहुंचा। सांसदों का दल मंगलवार सुबह करीब 8 बजे दिल्ली से श्रीनगर के लिए रवाना हुआ था।

नई दिल्ली: यूरोपियन यूनियन(EU) के सांसदों का प्रतिनिधिमंडल जम्मू-कश्मीर दौरे के लिए मंगलवार को श्रीनगर पहुंचा। सांसदों का दल मंगलवार सुबह करीब 8 बजे दिल्ली से श्रीनगर के लिए रवाना हुआ था। केंद्र सरकार के जम्मू-कश्‍मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्‍छेद 370 को खत्म किए जाने के बाद यह किसी विदेशी प्रतिनिधिमंडल की पहली कश्मीर यात्रा है।

सोमवार को करीब 27 EU सांसदों ने प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से मुलाकात की थी। ये सभी सांसद जम्मू-कश्मीर के स्थानीय लोगों, अधिकारियों से मुलाकात करेंगे और हालात का जायजा लेंगे। इस प्रतिनिधिमंडल में दो टीमें हैं।

यह भी पढ़ें…जिंदगी की जंग हार गया मासूम, 4 दिन फंसा रहा बारेवेल में

ये सभी सांसद कश्मीर में ही रुकेंगे जिसके बाद बुधवार को दिल्ली वापस लौटेंगे। EU सांसदों को जम्मू-कश्मीर जाने की अनुमति देने पर राजनीतिक विरोध शुरू हो गया है।

सांसदों की पहली टीम राज्यपाल, एडवाइजर्स से मुलाकात करेगी, इसके साथ ही वह चुने हुए प्रतिनिधियों से भी मुलाकात करेंगे। जहां पर वह स्थानीय निवासियों और DC से मुलाकात करेंगे। दोनों ही टीम श्रीनगर की मशहूर डल झील भी जाएंगी।

यह भी पढ़ें…अभी-अभी भीषण हादसा: सैन्य अधिकारी समेत छह की मौत, पांच घायल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने EU सांसदों के जम्मू-कश्मीर दौरे को लेकर और भारतीय सांसदों के बैन पर सवाल खड़े किए हैं। इसके साथ ही बीजेपी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने भी केंद्र के इस फैसले पर हैरानी जताई है।

यह भी पढ़ें…कश्मीर में फिर दहशत! एक और हत्या, पाकिस्तान के साथ मिलकर खतरनाक साजिश

राहुल गांधी ने ट्वीट कर सरकार के फैसले पर सवाल खड़ा करते हुए लिखा है कि EU के सांसदों को जम्मू-कश्मीर जाने की इजाजत है, लेकिन भारत के नेताओं या सांसदों को जाने नहीं दिया जा रहा है। इस बात में काफी कुछ गलत है।

यह भी पढ़ें…सऊदी अरब-भारत में ये अहम समझौते, FII फोरम को संबोधित करेंगे PM मोदी

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी, AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी, बसपा प्रमुख मायावती ने भी EU सांसदों के इस दौरे के लिए केंद्र सरकार पर निशाना साधा है।

प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा कि कश्मीर में यूरोपियन सांसदों को सैर-सपाटा और हस्तक्षेप की इजाजत, लेकिन भारतीय सांसदों और नेताओं को पहुंचते ही हवाई अड्डे से वापस भेजा गया! बड़ा अनोखा राष्ट्रवाद है यह।

असदुद्दीन ओवैसी ने तंज कसते हुए कहा है कि यूरोपियन पार्लियामेंट के सांसद जो इस्लामोफोबिया के शिकार हैं उनका चुनाव किया गया है, ऐसे लोग मुस्लिम बहुल घाटी जा रहे हैं। ओवैसी ने दल में शामिल सांसदों को नाजी लवर भी बताया है। ओवैसी ने केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए मशहूर गाने का जिक्र किया है।

यह भी पढ़ें…महाराष्ट्र में बीजेपी को बड़ा झटका, शिवसेना ने दिया ये बयान

बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में संविधान की धारा 370 को समाप्त करने के उपरान्त वहां की वर्तमान स्थिति के आकलन के लिए यूरोपीय यूनियन के सांसदों को जेके भेजने से पहले भारत सरकार अगर अपने देश के खासकर विपक्षी पार्टियों के सांसदों को वहां जाने की अनुमति दे देती तो यह ज्यादा बेहतर होता।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App