Top

केंद्र सरकार पर जमकर बरसीं महबूबा मुफ्ती, दिया ऐसा बयान, मच गई सनसनी

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 23 Jan 2021 6:23 AM GMT

केंद्र सरकार पर जमकर बरसीं महबूबा मुफ्ती, दिया ऐसा बयान, मच गई सनसनी
X
सज्जाद लोन के गुपकार गठबंधन छोडऩे के बाद अब महबूबा मुफ्ती पर भी इस समूह को छोड़ने का दबाव बढ़ा रहा है। पीडीपी के नेता ही यह प्रेशर बना रहे हैं।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार (भाजपा) पर बड़ा जुबानी हमला बोला है। महबूबा मुफ्ती केंद्र सरकार पर 'संविधान की धज्जियां उड़ाने' का आरोप लगाया है।

मुफ्ती ने कहा कि भाजपा जम्मू-कश्मीर को ''राजनीतिक प्रयोगशाला'' की तरह देखती है। वह भाजपा को फिर कभी अपना सहयोगी नहीं बनाएंगी यानी उसके साथ कभी गठबंधन नही करेंगी।

उन्होंने इस बात को भी माना है कि पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी और भाजपा के बीच गठबंधन करना उनके पिता का विचार था। महबूबा मुफ्ती के मुताबिक भाजपा के साथ जुड़ना मेरे पिता (मुफ्ती मोहम्मद सईद) के लिए एक बड़ा कारण था, और मैंने इसका सम्मान किया। ये तमाम बातें मुफ्ती ने एक इंटरव्यू में कही हैं।

Mehbooba Mufti महबूबा मुफ्ती (फोटो:सोशल मीडिया)

पुलवामा अटैक साजिश: चुनाव के लिए किया गया ऐसा, शिवसेना का बड़ा आरोप

इशारों में दिया गठबंधन को लेकर गलतफहमी का संकेत

उन्होंने अपने जवाबों के जरिये इस बात की तरफ इशारा किया कि गठबंधन को लेकर उन्हें गलतफहमी थी। उन्होंने कहा मैं भाजपा की बहुत बड़ी प्रशंसक न होने के बावजूद भी अपने पिता के निर्णय से दूर नहीं जा सकती थी।

उन्होंने बीजेपी पर “चुनावी लाभ” के चश्मे से सब कुछ देखने का आरोप लगाया। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा के पास दृष्टि की कमी है और निर्णय लेने की भी।

देश का निर्माण करने के लिए संकल्प लेना चाहिए। इसके बजाय, उसने भारत को अल्पसंख्यकों के लिए विभाजन, कट्टरता और घृणा में डूबी एक अंधेरे रास्ते पर ले जाने के लिए चुना है। दुर्भाग्य से, जम्मू कश्मीर एक राजनीतिक प्रयोगात्मक प्रयोगशाला बन गई।

Gupkar Meeting गुपकार गठबंधन के नेता (फोटो: सोशल मीडिया)

कांग्रेस का नया अध्यक्ष: मई में होगा बड़ा ऐलान, कार्यसमिति की बैठक में फैसला

गुपकार गठबंधन छोड़ सकती हैं महबूबा मुफ्ती

सूत्रों से मिली जनकारी के मुताबिक सज्जाद लोन के गुपकार गठबंधन छोडऩे के बाद अब महबूबा पर भी इस समूह को छोड़ने का दबाव बढ़ा रहा है।

महबूबा की पार्टी पीडीपी के नेता ही यह प्रेशर बना रहे हैं। डीडीसी (जिला विकास परिषद) चुनावों के परिणाम आने के बाद महबूबा वैसे ही गुपकार से अलग चल रही है। अब नेताओं के प्रेशर को देखते हुए महबूबा कभी भी गुपकार को छोडऩे की घोषणा कर सकती है।

मोदी का बंगाल दौराः देगा बड़ा सियासी संदेश, जवाब में ममता करेंगी शक्ति प्रदर्शन

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story