अब होगा युद्ध: चीनी सेना है पूरी तरह तैयार, सीमा से मिले ये संकेत

लद्दाख की गलवान घाटी में भारत-चीन हिंसक लड़ाई के बाद से तनातनी काफी ज्यादा बढ़ गई है। ऐसे में लाइन ऑफ एक्च्यूअल कंट्रोल (एलएसी) पर दोनों देशों की तरफ से सेनाएं तैनात हैं।

नई दिल्ली : लद्दाख की गलवान घाटी में भारत-चीन हिंसक लड़ाई के बाद से तनातनी काफी ज्यादा बढ़ गई है। ऐसे में लाइन ऑफ एक्च्यूअल कंट्रोल (एलएसी) पर दोनों देशों की तरफ से सेनाएं तैनात हैं। हालातों को देखते हुए ऐसा लग रहा है कि चीन आपसी बातचीत के बाद भी मानने को तैयार नहीं है। सूत्रों की माने तो सीमा पर युद्ध जैसा माहौल बन गया हैं। वहीं इस बीच ये खबर भी आई है कि चीन सीमा पर अपनी सेना की तैनाती को और दुरस्त करने में लगा हुआ है। चीन अपने सैनिकों को मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग देने जा रहा है। इसके लिए लद्दाख सीमा पर ट्रेनर को भेजा जा रहा है।

ये भी पढ़ें… भारी बारिश का रेड अलर्ट: इन आठ जिलों में रहना होगा सतर्क, NDRF की टीम तैनात

मार्शल आर्ट युद्ध की एक पुरानी कला

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, चीन मार्शल आर्ट के 20 ट्रेनर को तिब्बत भेजा जा रहा है। जानकारी के लिए बता दें कि मार्शल आर्ट युद्ध की एक पुरानी कला है। इसका इस्तेमाल सामान्यत सेल्फ डिंफेस या स्वंय सुरक्षा के लिए किया जाता है।

सन् 1996 की बात है जब भारत और चीन के बीच समझौते के तहत दोनों देश के सैनिक सीमा पर हथियारों का इस्तेमाल नहीं करते हैं। इसके साथ ही गोला-बारूद फेंकने की भी अनुमति नहीं है। तो इस पर ये कहा जा रहा है कि आने वाले दिनों में चीन लाइन ऑफ एक्च्यूअल कंट्रोल पर मार्शल आर्ट का इस्तेमाल कर सकता है।

ये भी पढ़ें…सुष्मिता की आर्या पर आया सलमान का दिल, खुद को नहीं रोक पाई एक्ट्रेस, दिया जवाब

बातचीत का कोई नतीजा नहीं

इसके साथ ही चीन के सरकारी टीवी चैनल सीसीटीवी के अनुसार, मार्शल आर्ट सिखाने के लिए इनबो फाइटर क्लब से 20 ट्रेनर को तिब्बत भेजा जाएगा। हालांकि चीन की सेना की तरफ से इस पर कोई ऑफिशियल बयान नहीं जारी हुआ है।

भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर अब तक दोनों देशों के बीच कई बार आपसी बातचीत हो चुकी है, लेकिन ऐसे में अब तक बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकला है।

ये भी पढ़ें…कोरोना मरीजों में मिली नई बीमारी, पहली बार दिखे ऐसे लक्षण, डॉक्टर परेशान

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App