तेजस्वी-राबड़ी ने तोड़े लॉकडाउन के नियम, काफिले के साथ गोपालगंज मार्च पर रवाना

विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ गोपालगंज कूच करने के लिए राबड़ी आवास से निकले, लेकिन उनके काफिले को पुलिस ने रोक दिया।

पटना: गोपालगंज में ट्रिपल मर्डर केस के मामले पर सियासत तेज हो गई है। आरजेडी नेता जेपी यादव के घर पर हुए हमले पर राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) और विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ गोपालगंज कूच करने के लिए राबड़ी आवास से निकले, लेकिन उनके काफिले को पुलिस ने रोक दिया। तेजस्वी यादव, राबड़ी देवी और तेजप्रताप यादव के काफिले को पुलिस ने रोका है। इन लोगों पर लाॅकडाउन के नियमों को तोड़ने का आरोप है।

तेजस्वी यादव ने राबड़ी आवास से बाहर आने के बाद कहा कि अगर सरकार हमको रोक रही है तो समझा जाए कि सरकार अपराध की जननी है। गोपालगंज रेड जोन में है हम जोर-जबरदस्ती कहां कर रहे हैं। हम लोग सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों के मुताबिक गोपालगंज जाना चाहते हैं, लेकिन हमें सरकार रोक रही है और अपराधियों को खुला छूट दे रखी है।

यह भी पढ़ें…पालघर में पुजारियों को जान से मारने की कोशिश, ऐसे बची साधुओं की जान

तेजस्वी यादव ने पत्रकारों से कहा कि क्या अपराधियों के लिए लॉकडाउन नहीं है। हम पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे हैं। हम सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रख रहे हैं। राबड़ी के आवास के बाहर खुद पटना के एसएसपी मोर्चा संभाला हुआ है। तेजस्वी के घर के बाहर पार्टी समर्थकों का भारी जमावड़ा लगा हुआ है।

यह भी पढ़ें…UAE में चढ़ा पारा: हुई इतनी गर्मी, आज मौसम बदल सकता है करवट

पटना के एसएसपी विनय तिवारी का कहना है कि लॉकडाउन की वजह से कोई राजनीतिक कार्यक्रम की इजाजत नहीं है। इस वजह से हमने किसी भी तरह की इजाजत नहीं दी है और कोशिश की जा रही है कि लॉकडाउन के नियमों का पालन हो। घर से बाहर गाड़ी आ गई है, लेकिन हम अपनी ओर से प्रयासरत हैं।

यह भी पढ़ें…भारत की बड़ी जीत, UNSC में मिलेगा ये अहम पद, कोई नहीं विरोध करने वाला

बता दें कि गोपालगंज में ट्रिपल मर्डर की वारदात हुई थी। इस घटना से नाराज तेजस्वी यादव ने शुक्रवार को गोपालगंज जाने की घोषणा की थी। इसके साथ ही अपने विधायकों से भी गोपालगंज कूच करने के लिए कहा है। लेकिन गोपालगंज रेड जोन का जिला है, इसलिए पुलिस उन्हें जाने की अनुमति दे रही है।