PM मोदी समेत इन दिग्गजों ने दी ईद-ए-मिलाद की बधाई, जानिए क्यों मनाया जाता है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि मिलाद-उन-नबी की शुभकामनाएं। आशा है कि सभी में करुणा और भाईचारा कायम रहे। सब लोग स्वस्थ और प्रसन्न रहें। ईद मुबारक!’

Narendra Modi

PM मोदी समेत इन दिग्गजों ने दी ईद-ए-मिलाद की बधाई, जानिए क्यों मनाया जाता है (फोटो: सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: देश भर में ईद-ए-मिलाद-उन-नबी मनाया जा रहा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को शुभकामनाएं दी। ईद-ए-मिलाद-उन-नबी पैगंबर हजरत मुहम्मद के जन्मदिन के अवसर मनाया जाता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि मिलाद-उन-नबी की शुभकामनाएं। आशा है कि सभी में करुणा और भाईचारा कायम रहे। सब लोग स्वस्थ और प्रसन्न रहें। ईद मुबारक!’ ईद-ए-मिलाद-उन-नबी 29 अक्टूबर की शाम से शुरू हुआ जो 30 अक्टूबर की शाम तक मनाया जाएगा।

राष्ट्रपति कोविंद ने भी दी मुबारकबाद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी मिलाद-उन-नबी की शुभकामनाएं दीं। राष्ट्रपति कोविंद ने मिलाद-उन-नबी की पूर्व संध्या पर कहा कि मैं सभी देशवासियों को, खासतौर पर मुसलमान भाईयों और बहनों को मुबारकबाद देता हूं।

ये भी पढ़ें…सीमा विवाद: चीन की चाल में अब नहीं फंसेगा भारत, चीनी सेना को पीछे हटना ही होगा

उन्होंने कहा कि पैगंबर मुहम्मद ने प्रेम एवं भाईचारा का संदेश दिया तथा दुनिया को मानवता के पथ पर ले गए। वह समानता एवं सौहार्द्र पर आधारित समाज का निर्माण करना चाहते थे। राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि पवित्र कुरान में संकलित पैगंबर मुहम्मद की शिक्षाओं के मुताबिक, हम सभी को समाज की भलाई और देश में अमन-चैन के लिए काम करना चाहिए।

Eid-A-Milad

ये भी पढ़ें…बाइकर्स गैंग सावधान: मनचलों की अब ख़ैर नहीं, पकड़े जाने पर होगी जेल

ईद-ए-मिलाद-उन-नबी की दिल से मुबारकबाद!: राहुल गांधी

तो वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि ईद-ए-मिलाद-उन-नबी के मौके पर दयालुता और भाईचारे की भावना सभी का मार्गदर्शन कर सकती है। ईद-ए-मिलाद-उन-नबी की दिल से मुबारकबाद!

राजनाथ सिंह ने भी दी शुभकामनाएं

देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी देशवासियों को मिलाद-उन-नबी की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि मिलाद-उन-नबी की मुबारकबाद। यह त्योहार सभी को हमारे समाज में सद्भाव और सौहार्द के बंधन को मजबूत करने की दिशा में काम करने के लिए प्रेरित करता है।

ये भी पढ़ें…रक्षा मंत्रालय ने नेताओं से कहा-लेह की यात्रा करना उचित नहीं, वजह जान दंग रह जाएंगे

इसलिए मनाया जाता है मिलाद-उन-नबी

बता दें कि पैगंबर हजरत मुहम्मद का जन्म सऊदी अरब के मक्का में 571 ईस्वी में 12 तारीख को हुआ था। ईद-ए-मिलाद-उन-नबी हर साल पैगम्बर साहब के जन्म दिवस के मौक पर मनाया जाता है। लोगों को अल्लाह के आखिरी पैगंबर की जीवनी के बारे में लोगों को जानकारी दी जाती है। माना जाता है कि पैगंबर साहब के जन्म होने से पहले ही उनके पिता का निधन हो गया था, तो वहीं जब वह 6 साल के थे तो उनकी मां का भी निधन हो गया।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App