Top

महबूबा के बयान पर हंगामा: युवाओं ने PDP दफ्तर को घेरा, तिरंगा फहराने पर बवाल

महबूबा का विरोध करने के लिए पीडीपी के दफ्तर पर सैकड़ों की संख्‍या में युवा पहुंचे। युवाओं ने महबूबा मुफ्ती के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और वंदे मातरम के नारे लगाए।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 25 Oct 2020 1:27 PM GMT

महबूबा के बयान पर हंगामा: युवाओं ने PDP दफ्तर को घेरा, तिरंगा फहराने पर बवाल
X
युवाओं ने पीडीपी के दफ्तर पर धावा बोल दिया और उसके ऊपर तिरंगा फहराने का प्रयास किया। लेकिन पुलिस ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

श्रीनगर: पीडीपी प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के तिरंगा न थामने वाले के बयान पर राजनीतिक तूफान आ गया है। बीजेपी नेता लगातार महबूबा मुफ्ती निशाना साध रहे हैं। महबूबा मुफ्ती के खिलाफ जम्‍मू कश्‍मीर में प्रदर्शन हो रहे हैं। रविवार को युवाओं ने पीडीपी के दफ्तर पर धावा बोल दिया और उसके ऊपर तिरंगा फहराने का प्रयास किया। लेकिन पुलिस ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया।

महबूबा का विरोध करने के लिए पीडीपी के दफ्तर पर सैकड़ों की संख्‍या में युवा पहुंचे। युवाओं ने महबूबा मुफ्ती के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और वंदे मातरम के नारे लगाए। युवाओं को पीडीपी दफ्तर तिरंगा फहराने से पुलिस ने रोक दिया। युवाओं और पीडीपी नेताओं के बीच बहस भी हुई।

इन युवाओं का नेतृत्‍व एक्टिविस्‍ट अमनदीप सिंह ने किया। उन्होंने कहा कि तिरंगे का अपमान बर्दाश्‍त नहीं करेंगे। अमनदीप सिंह के नेतृत्व में युवाओं ने महबूबा के खिलाफ प्रदर्शन किया। पुलिस अधिकारियों ने कानून व्‍यवस्‍था का हवाला देते हुए युवाओं को वापस लौटा दिया। अमनदीप ने पत्रकारों से कहा कि हमारा किसी दक्षिणपंथी पार्टी से कोई संबंध नहीं है। हम मूल रूप से राष्ट्रवादी हैं और तिरंगे के लिए किसी भी अपमान को बर्दाश्त नहीं करेंगे।

ये भी पढ़ें...चीन-पाकिस्तान से जंग: हो गया एलान, पीएम मोदी ले चुके हैं तारीख पर फैसला

Mehbooba Mufti

अमनदीप सिंह ने पीडीपी कार्यालय के मुख्‍य द्वार पर शनिवार को राष्‍ट्रीय ध्‍वज तिरंगा फहराया था। इसके बाद पीडीपी नेताओं से काफी देर तक हुई थी। इस दौरान अमनदीप ने कहा था कि वह रविवार को फिर आएंगे और पीडीपी कार्यालय पर तिरंगा फहराएंगे।

ये भी पढ़ें...चीनी सेना मारी जाएगी: बैलेस्टिक मिसाइल से होगा हमला, नहीं बचेगा दुश्मन देश

''पांच अगस्त को किए गए बदलावों को वापस लेने के ही थामेंगे तिरंगा''

महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को कहा था कि जब तक जम्मू-कश्मीर को लेकर बीते साल पांच अगस्त को संविधान में किए गए बदलावों को वापस नहीं ले लिया जाता, तब तक उन्हें चुनाव लड़ने और तिरंगा थामने में कोई दिलचस्पी नहीं है। इसके साथ ही मुफ्ती ने यह भी कहा था कि वह तिरंगा झंडा तभी थामेंगी जब जम्मू कश्मीर को पूर्ववर्ती राज्य का झंडा वापस मिल जाएगा।

ये भी पढ़ें...बॉलीवुड में खलबली: अभिनेत्री खरीद रही थी ड्रग्स, NCB ने किया गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को बीते साल अगस्त में समाप्त कर दिया गया था। इसके बाद पीडीपी प्रमुख महबूबा हिरासत में थीं। मुफ्ती ने कहा कि पहली बार मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि वह तभी तिरंगा उठाएंगी, जब पूर्व राज्य का झंडा और संविधान बहाल किया जाएगा।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story