झारखंड विधानसभा चुनाव: BJP ने अभी तक नहीं घोषित किए 8 उम्मीदवारों के नाम

झारखंड में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और बीजेपी ने 72 उम्मीदवारों की 4 लिस्ट जारी कर दी है। बीजेपी ने अभी तक झारखंड की 81 सदस्यीय विधानसभा के लिए केवल 72 उम्मीकेदवारों की ही लिस्ट जारी की है।

झारखंड विधानसभा चुनाव: BJP ने अभी तक नहीं घोषित किए 8 उम्मीदवारों के नाम

पटना: झारखंड में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और बीजेपी ने 72 उम्मीदवारों की 4 लिस्ट जारी कर दी है। बीजेपी ने अभी तक झारखंड की 81 सदस्यीय विधानसभा के लिए केवल 72 उम्मीकेदवारों की ही लिस्ट जारी की है। पहली लिस्ट में बीजेपी ने एक साथ 52 उम्मीदवारों के नाम जारी किया। अब तक बीजेपी उम्मीदवारों की 4 लिस्ट जारी कर चुकी है, जिसमें 72 उम्मीदवारों के नाम है। उम्मीदवारों को सबसे तेजी से टिकट बांटने वाली बीजेपी, अभी तक पांचवीं लिस्ट जारी नहीं कर पाई है और सीधे जमशेदपुर पश्चिम के लिए सिंबल जारी कर दिया है। वहीं हुसैनाबाद में पार्टी समर्थित उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं।

यह भी पढ़ें: सरकार-सरकार-सरकार आखिर कब बनेगी महाराष्ट्र सरकार? चल रहा मीटिंग का दौर

73 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम कंफर्म

साफ है कि, पार्टी 73 सीटों पर अपने उम्मीदवारों को उतार चुकी है, जबकि कांके समेत 8 सीटों पर पार्टी का रुख अभी साफ नहीं हो पाया है। वहीं भाजपा के स्तर से तकरीबन तय हो चुका है कि आजसू प्रमुख सुदेश महतो की सिल्ली सीट से प्रत्याशी नहीं दिया जाएगा। अब ऐसी स्थिति में बीजेपी को 7 सीटों पर अपने उम्मीदवार देगी। साथ ही कांके से पार्टी के वर्तमान विधायक जीतू चरण राम के टिकट कटने की भी अटकलें जोरों पर हैं।

12 विधायकों को लिस्ट में नहीं दी गई जगह

बीजेपी ने जीतू चरण राम को छोड़कर सभी विधायकों पर अपनी स्थिति को स्पष्ट कर दिया है। पार्टी ने अपने करीब 12 विधायकों को इस लिस्ट में शामिल नहीं किया है। जिसमें पार्टी के वरिष्ठ नेता सरयू राय का नाम भी शामिल है, जिस पर वो बेहद नाराज हैं। जिसके बाद उन्होंने अपनी ये नाराजगी बगावत में बदल ली है और अब वह निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे। सरयू राय ने सोमवार को जमशेदपुर पूर्वी से सीएम रघुवर दास के खिलाफ अपना नामांकन दाखिल किया।

यह भी पढ़ें: जानिए इंदिरा गांधी को ‘दुर्गा’ कहने का ‘अटल सत्य’, क्या है सच

बता दें कि, अब तक पार्टी ने इन सीटों पर अपना फैसला स्पष्ट नहीं किया, ये हैं- सिल्ली, बड़कागांव, रामगढ़, गोमिया, कांके, डुमरी, टुंडी व पाकुड़। सिल्ली सीट पर सुदेश के खिलाफ प्रत्याशी न देने पर लगभग सहमति बन गई है। प्रदेश में पांच चरणों में विधानसभा चुनाव होंगे।

इन 12 मंत्रियों को नहीं मिली जगह

मंत्री सरयू राय (जमशेदपुर पश्चिम)

गंगोत्री कुजूर (मांडर)

ताला मरांडी (बोरियो)

गणेश गंझू (सिमरिया)

जय प्रकाश सिंह भोक्ता (चतरा)

विमला प्रधान (सिमडेगा)

हरिकृष्ण सिंह (मनिका)

राधाकृष्ण किशोर (छतरपुर)

फूल चंद मंडल (सिंदरी)

लक्ष्मण टूडू (घाटशिला)

शिवशंकर उरांव (गुमला)

झरिया विधायक संजीव सिंह (उनकी पत्नी रागिनी सिंह को टिकट दिया गया)

यह भी पढ़ें: शीतकालीन सत्र का दूसरा दिन आज, दिल्ली-प्रदूषण पर होगी चर्चा

पांच चरणों में होंगे विधानसभा चुनाव

प्रदेश में पांच चरणों में विधानसभा चुनाव होंगे। झारखंड विधानसभा का कार्यकाल 5 जनवरी को खत्म होगा। उपायुक्तों ने 17-18 अक्टूबर को ही प्रदेश का दौरा किया था। झारखंड के 19 जिले और 67 सीटें नक्सल प्रभावित हैं।

पहले चरण में 13 सीटों पर मतदान 30 नवंबर को होगा। 7 दिसंबर को दूसरे में 20 सीटों पर वोटिंग होगी। 12 दिसंबर को तीसरे चरण में 17 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। तो वहीं चौथे चरण में 16 दिसंबर को 15 सीटों पर वोटिंग होगी। जबकि पांचवें चरण में 20 दिसंबर को 16 सीटों पर मतदान होगा।

मतदान के बाद 23 दिसंबर को वोटों की गिनती होगी और नतीजे आएंगे। सभी राजनीतिक पार्टियां प्रचार के लिए पूरे दमखम के प्रचार करने में लगी हुई हैं।

यह भी पढ़ें: JNU बवाल: पुलिस ने नेत्रहीन छात्र को जूते से कुचला, ट्रामा सेंटर में भर्ती