देश में 40 वेबसाइट बैन: मोदी सरकार का बड़ा फैसला, किया ‘डिजिटल एनकाउंटर’

मोदी सरकार ने देश विरोधी गतिविधियों में शामिल वेबसाइटों पर बड़ा फैसला लिया है। भारत के खिलाफ मुहीम चलाने वाली ऐसी 40 वेबसाइटों को बैन कर दिया है।

नई दिल्ली: मोदी सरकार का ‘डिजिटल एनकाउंटर’ जारी है। सरकार ने देश विरोधी गतिविधियों में शामिल वेबसाइटों पर बड़ा फैसला लिया है। भारत के खिलाफ मुहीम चलाने वाली ऐसी 40 वेबसाइटों को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बैन कर दिया है। बता दें कि ये सभी वेबसाइट्स प्रतिबंधित संगठन सिख्स फॉर जस्टिस (SFJ) से जुड़ी हुईं हैं। इन पर अलगाववादी गतिविधियों को प्रोत्साहित किया जाता है।

40 वेबसाइटों को सरकार ने किया बैन

केंद्र सरकार ने खालिस्तान समर्थक समूह से जुड़ी 40 वेबसाइटों को बंद करने का फैसला लिया है। ये वेबसाइट भारत विरोधी गतिविधियों को बढ़ावा दे रहीं थी। दरअसल यूएस में सिख्स फॉर जस्टिस (SFJ) एक खालिस्तान समर्थक समूह है। ये वेबसाइट्स इसी समूह से सम्बंधित हैं।

ये भी पढ़ेंः विकास दुबे का खुलासा: उस रात की सामने आई सच्चाई, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

खालिस्तान समर्थक समूह से जुड़ी थी वेबसाइट

गृह मंत्रालय ने इन वेबसाइटों के बारे में जानकारी देते हुए बताया, ‘ग़ैर क़ानूनी गतिविधि (निरोधक) अधिनियम (UAPA), 1967 के तहत सिख्स फॉर जस्टिस (SFJ) एक गैरकानूनी संगठन है। उसने अपने उद्देश्य के लिए समर्थकों के पंजीकरण करने के वास्ते एक अभियान शुरू किया था। गृह मंत्रालय की सिफारिश पर इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MEITY) ने सूचना प्रौद्योगिकी कानून, 2000 के सेक्शन 69 ए के तहत एसएफजे की 40 वेबसाइट पर रोक लगाने के आदेश जारी किये।’

ये भी पढ़ेंः पाकिस्तान को रोको: तैयार कर रहा भयानक हथियार, सीमा पर जारी अलर्ट

भारत विरोधी गतिविधियों में शामिल

बता दें कि इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MEITY) साइबर स्पेस की निगरानी करने वाली भारत की एक एजेंसी है।खालिस्तानी समर्थक लगातार भारत का माहौल ख़राब करने में लगे हुए हैं। इनकी गतिविधियों को भारत में पिछले साल ही प्रतिबंधित कर दिया गया था।

ये भी पढ़ेंः ICMR के दावे पर विज्ञान मंत्रालय ने नकारा, कोरोना वैक्सीन के बारे में कही ये बात

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।