×

लाखों यूजर्स खतरे में: लीक हो रही सारी जानकारी, इस ऐप से बढ़ी दिग्गजों की भी मुसीबतें

Koo ऐप देसी ट्विटर जो इन दिनों काफी चर्चा का विषय बना हुआ है। केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद सहित कई बड़े नेता अब इसका हिस्सा भी बन चुके हैं। ऐसे में इस बीच एक फ्रेंच सिक्योरिटी रिसर्चर के हवाले से ये जानकारी मिली है कि Koo ऐप सेफ नहीं है और इससे यूजर्स के पर्सनल डेटा लीक हो रहे हैं।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 11 Feb 2021 7:24 AM GMT

लाखों यूजर्स खतरे में: लीक हो रही सारी जानकारी, इस ऐप से बढ़ी दिग्गजों की भी मुसीबतें
X
Koo ऐप देसी ट्विटर जो इन दिनों काफी चर्चा का विषय बना हुआ है। केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद सहित कई बड़े नेता अब इसका हिस्सा भी बन चुके हैं।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: Koo ऐप देसी ट्विटर जो इन दिनों काफी चर्चा का विषय बना हुआ है। केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद सहित कई बड़े नेता अब इसका हिस्सा भी बन चुके हैं। ऐसे में इस बीच एक फ्रेंच सिक्योरिटी रिसर्चर के हवाले से ये जानकारी मिली है कि Koo ऐप सेफ नहीं है और इससे यूजर्स के पर्सनल डेटा लीक हो रहे हैं। वहीं इनमें ई-मेल ID, फोन नंबर्स और डेट ऑफ बर्थ शामिल हैं। दरअसल फ्रेंच साइबर सिक्योरिटी रिसर्चर Robert Baptiste जिनकों उनके ट्विटर अकाउंट की वजह से Elliott Anderson नाम से भी जाना जाता है। इसके साथ ही उन्होंने कू पर थोड़ी रिसर्च और पाया कि ये सेफ नहीं है।

ये भी पढ़ें... ट्विटर ने दिखाई हेकड़ी: भारत सरकार से लिया पंगा, बंद नहीं किये अकाउंट

लाखों यूजर्स के डेटा अभी तक लीक

ऐसे में पिछले रात Baptiste ट्वीट कर लिखा है, 'आपके कहने पर मैंने 30 मिनट नए कू ऐप पर गुजारे हैं। ये ऐप यूजर्स के पर्सनल डेटा को लीक कर रहा है। इसके साथ ही इनमें ईमेल, डेट ऑफ बर्थ, नेम, मैरिटल स्टेटस और जेंडर शामिल हैं।'

इस बारे में सिक्योरिटी रिसर्चर ने इसे लेकर स्क्रीनशॉट्स भी शेयर किए हैं। इन स्क्रीनशॉट को देखकर ये साफ हो जाता है कि ऐप कई पर्सनल डेटा लीक कर रहा है। वहीं ये आशंका भी है कि ऐप के लाखों यूजर्स के डेटा अभी तक लीक हो चुके होंगे।

mobile फोटो-सोशल मीडिया

ये भी पढ़ें...गणतंत्र दिवस पर किसानों का बवाल, ट्विटर पर ट्रेंड #दिल्ली_पुलिस_लठ_बजाओ

डोमेन Kooapp.com का Whois रिकॉर्ड भी शेयर

अब ध्यान देने वाली बात ये है कि कुछ भारतीय सरकारी विभाग और मंत्री भी इस प्लेटफॉर्म से जुड़े हुए हैं। और इस लिस्ट में इनका नाम भी शामिल हो सकता है।

इसके चलते Baptiste ने डोमेन Kooapp.com का Whois रिकॉर्ड भी शेयर किया है। ऐसे में जो एक चीनी कनेक्शन दिखाता है, जो पूरी तरह से सही नहीं है। जिन डोमेन डिटेल्स को रिसर्चर ने शेयर किया है वो डोमेन के हिस्टोरिकल ओनरशिप का हिस्सा है।

ये भी पढ़ें...ट्रंप का ट्विटर अकाउंट बंद होने के बाद चर्चा में ये भारतीय महिला, जानिए क्या है वजह

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story