भारतीयों को यहां मिल रहे हीरे, ऐसे एक झटके में बन रहे करोड़पति

मध्य प्रदेश में मजदूर लगातार करोड़पति बन रहे हैं और उनकी जिंदगियों में बदलाव आ रहा है। पन्ना में रातोंरात हीरे से मजदूरों की किस्मत बदल जाती है। प्रदेश के हीरों के शहर पन्ना से ऐसी कई खबरें सामने आई हैं। दो और मजदूरों की किस्मत चमक गई है।

प्रतीकात्मक तस्वीर

भोपाल: मध्य प्रदेश में मजदूर लगातार करोड़पति बन रहे हैं और उनकी जिंदगियों में बदलाव आ रहा है। पन्ना में रातोंरात हीरे से मजदूरों की किस्मत बदल जाती है। प्रदेश के हीरों के शहर पन्ना से ऐसी कई खबरें सामने आई हैं। दो और मजदूरों की किस्मत चमक गई है।

बता दें पूरी दुनिया में मध्य प्रदेश का पन्ना शहर हीरों के लिए मशहूर है। एक दिन पहले हुई हीरा नीलामी में 261 नग, 316 कैरेट्स वजन के हीरे रखे गए, जिसमें से 187.10 कैरेट्स वजन के 150 नग हीरे दो करोड़ 43 लाख रुपयों में नीलाम हुए।

इनमें से एक मजदूर का सबसे बड़ा 29.46 कैरेट्स का हीरा 3 लाख 95,500 रुपये की दर से एक करोड़ 16 लाख 51,430 रुपये में नीलाम किया गया तो वहीं दूसरा सबसे बड़ा हीरा एक अन्य मजदूर का 18.13 कैरेट्स का 4 लाख 500 सौ रुपये की दर से 72 लाख 61,065 रुपये में नीलाम हुआ।

प्रतीकात्मक तस्वीर

यह भी पढ़ें…दिल्ली में फिर आग का तांडव, मौके पर 20 फायर ब्रिगेड की गाड़ियां, रेस्क्यू जारी

पन्ना के मजदूर ब्रजेश उपाध्याय के 29.46 कैरेट के हीरे की दो महीने पहले हुई नीलामी में कोई खरीदार नहीं मिला था, लेकिन अब उनकी नीलामी हो गई है। नीलामी के अंतिम दिन 29.46 कैरेट का बेशकीमती पत्थर हीरा व्यापारी नंदकिशोर जदिया ने खरीदा, जबकि 18 कैरेट वजन वाले पन्ना के ही एक हीरा व्यापारी भूपेंद्र ने खरीदा।

यह भी पढ़ें…PM मोदी के सामने CM ममता ने उठाया CAA-NRC का मुद्दा

इस साल सितंबर में 29.46 कैरेट के हीरे का खनन किया गया, जबकि 18 कैरेट के हीरे का खनन हारी मालिक द्वारा करीब एक साल पहले किया गया था, लेकिन हीरा कार्यालय में यह 18.13 केरेट्स का हीरा इसके पहले नहीं नीलम हो सका था।

प्रतीकात्मक तस्वीर

यह भी पढ़ें…अभी-अभी यहां हुआ भीषण सड़क हादसा, लाशों के उड़ गये चीथड़े, कई की मौत

मध्य प्रदेश के पन्ना के हीरा खदानों में हर दिन सैकड़ों मजदूर अपनी किस्मत अजमाते हैं, लेकिन हर महीने किसी न किसी मजदूर के किस्मत चमक जाती है। बृजेश उपाध्याय ने भी कृष्णा कल्याणपुर पट्टी में 13 सिंतबर 2019 को पन्ना के इतिहास का सबसे बड़ा जैम क्वालिटी का हीरा पाया था। हीरा मिलते ही वह अपने साथियों के साथ आकर इसे हीरा कार्यालय में जमा कर दिया था।