PM मोदी के सामने CM ममता ने उठाया CAA-NRC का मुद्दा

पीएम मोदी रविवार को कोलकाता बंदरगाह ट्रस्ट की 150वीं वर्षगांठ के मौके पर आयोजित समारोह में शामिल होंगे। इसके अलावा पीएम मोदी अन्य धरोहर इमारतों को भी राष्ट्र को समर्पित करने जा रहे हैं।

Published by SK Gautam Published: January 11, 2020 | 9:48 am
Modified: January 11, 2020 | 5:48 pm

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल में सीएए और एनआरसी को लेकर जारी विरोध के बीच आज शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोलकाता पहुंचे । पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ और कोलकाता के मेयर और बंगाल के शहरी विकास और नगरपालिका मामलों के मंत्री फिरहाद खान ने पीएम मोदी का एयरपोर्ट पर स्वागत किया। हालांकि कुल मिलाकर देखा जाए तो बतौर प्रधानमंत्री यह उनकी 20वीं यात्रा है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कोलकाता एयरपोर्ट से पश्चिम बंगाल के राजभवन पहुंचे जहां ममता बनर्जी ने उनसे मुलाकात की। पीएम मोदी से मुलाकात के दौरान हुई बात-चीत में ममता बनर्जी बोलीं कि बंगाल CAA और NRC स्वीकार नहीं करेगा।

ये भी देखें : केजरीवाल CM तो भाई है ऐसा: ये काम कर पालता है परिवार

सरकार को सीएए और एनआरसी पर विचार करना चाहिए

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कोलकाता एयरपोर्ट पर पहुंच गए हैं। एयरपोर्ट के बाहर पीएम मोदी के इस दो दिवसीय दौरे का छात्र संगठन स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI)  विरोध कर रहा है जिसको लेकर प्रदर्शन कर रहा है। एयरपोर्ट से प्रधानमंत्री मोदी सीधे राजभवन के लिए रवाना हो गए हैं।

मुलाकात के दौरान सीएम ममता ने पीएम मोदी से नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के मुद्दे पर बात की और कहा कि हम इसके विरोध में हैं। बंगाल सीएए और एनआरसी को स्वीकार नहीं कर रहा है। यह सुनिश्चित होना चाहिए कि कोई भी देश से न निकाला जाए। सरकार को सीएए और एनआरसी पर विचार करना चाहिए।

हालांकि इस मुद्दे पर पीएम मोदी ने ममता बनर्जी को जवाब देते हुए कहा कि वो यहां किसी अन्य कार्यक्रम में शामिल होने आए हैं। इस मुद्दे पर दिल्ली में बात होगी। इसके साथ ही पीएम मोदी ने सीएम ममता को दिल्ली आने के लिए भी कहा है।

ये भी देखें : भारत से डर रहा है पाकिस्तान, यूएन में कही ऐसी बात

 

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कोलकाता एयरपोर्ट पर पहुंच गए हैं। एयरपोर्ट के बाहर पीएम मोदी के इस दो दिवसीय दौरे का छात्र संगठन स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI)  विरोध कर रहा है जिसको लेकर प्रदर्शन कर रहा है। एयरपोर्ट से प्रधानमंत्री मोदी सीधे राजभवन के लिए रवाना हो गए हैं।

 

पीएम मोदी के साथ ममता बनर्जी मंच भी साझा करेगी

बता दें कि के नजरिए से पीएम मोदी की पश्चिम बंगाल यात्रा के अलग मायने हैं, लेकिन इस बार के दौरे को राजनीतिक नहीं बताया गया है। इसकी जानकारी तृणमूल पार्टी के सूत्रों की ओर से दी गई। बताया जा रहा है कि पीएम मोदी के साथ ममता बनर्जी मंच भी साझा करेगी। हालांकि पार्टी की तरफ से अभी तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।

ये भी देखें : गर्लफ्रेंड को नहीं था पसंद, तो ऋषभ पंत ने इस बॉलीवुड एक्ट्रेस को किया ब्लाक

पीएम मोदी और सीएम ममता बनर्जी की राजभवन में मुलाकात तय

शाम को पीएम मोदी और सीएम ममता बनर्जी की राजभवन में मुलाकात तय है। प्रधानमंत्री की यात्रा को देखते हुए बड़ी संख्‍या में छात्रों ने प्रदर्शन का फैसला किया है। पीएम मोदी की यह यात्रा ऐसे समय पर हो रही है जब केंद्र सरकार ने नागरिकता संशोधन कानून लागू कर दिया है और ममता इसका पुरजोर विरोध कर रही हैं।

राजभवन के आसपास धारा 144 लागू

उच्च अधिकारी ने बताया कि निर्धारित समय के अनुसार शनिवार को शाम करीब चार बजे प्रधानमंत्री के शहर पहुंचने के बाद दोनों नेताओं के बीच बैठक होगी। हालांकि ,अधिकारी ने बैठक के अजेंडे का खुलासा नहीं किया। छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए राजभवन के आसपास धारा 144 लगा दी गई है। राजभवन और एयरपोर्ट के आसपास भारी संख्‍या में सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं। पीएम मोदी अगर सड़क मार्ग से राजभवन जाते हैं तो उसके लिए एयरपोर्ट से राजभवन तक पूरी सड़क पर बैरिकेडिंग कर दी गई है। पूरी सड़क पर सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं।

ये भी देखें : 13 को है सकट चौथ, सिर्फ पुत्र के लिए है या पुत्री के लिए भी, जानिए इस व्रत का महत्व

उधर वाममोर्चा ने मोदी के कोलकाता आगमन के दौरान विरोध प्रदर्शन व काले झंडे दिखाने की घोषणा की है। राज्य पुलिस व कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के अधिकारियों से प्राप्त मोदी की यात्रा कार्यक्रम के अनुसार कोलकाता के मैदान में उतरने के बाद वे दो आयोजनों में शिरकत करने मध्य व पश्चिम कोलकाता जाएंगे। इसके बाद हावड़ा स्थित बेलुर मठ जाएंगे।

कोलकाता बंदरगाह ट्रस्ट की 150वीं वर्षगांठ समारोह में होंगे शामिल

पीएम मोदी रविवार को कोलकाता बंदरगाह ट्रस्ट की 150वीं वर्षगांठ के मौके पर आयोजित समारोह में शामिल होंगे। इसके अलावा पीएम मोदी अन्य धरोहर इमारतों को भी राष्ट्र को समर्पित करने जा रहे हैं। प्रधानमंत्री कार्यालय ने इस बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार को प्रधानमंत्री कोलकाता में चार धरोहर इमारतों को राष्ट्र को समर्पित करेंगे।

ये भी देखें :अब जंग से नहीं, इस नए तरीके से ईरान को हराएगा अमेरिका

सांस्कृतिक स्थलों का विकास

बयान में कहा गया है कि इन इमारतों में पुराना करेंसी बिल्डिंग, बेल्वेदेरे हाउस, मेटकॉफ हाउस और विक्टोरिया मेमोरियल हाल शामिल है। संस्कृति मंत्रालय ने इनकी मरम्मत एवं साज सज्जा का काम किया है। दरअसल केंद्र सरकार विभिन्न मेट्रो शहरों, जैसे- कोलकाता, दिल्ली, मुम्बई, अहमदाबाद और वाराणसी में प्रसिद्ध इमारतों के आसपास सांस्कृतिक स्थलों का विकास कर रही है।

हावड़ा पुल को रंग-बिरंगी लाइट्स से सजाया गया

पीएम मोदी शनिवार और रविवार को कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। वे कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के वर्तमान एवं सेवानिवृत कर्मचारियों के पेंशन फंड के लिए 501 करोड़ रूपये का चेक भी भेंट करेंगे। पीएम मोदी की आगवानी के लिए शुक्रवार को हावड़ा पुल को रंग-बिरंगी लाइट्स से सजाया गया है।

ये भी देखें : भारत ने तैनात किया जंगी जहाज, चीन और पाकिस्तान कर रहे…

पीएम कार्यालय द्वारा साझा जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के हल्दिया डॉक कॉम्पलेक्स पर रिवरफ्रंट डेवलपमेंट स्कीम को हरी झंडी दिखाएंगे। इसके अलावा रेलवे इंफ्रास्ट्रक्टर को बढ़ावा देने के उद्देश्य से भी नई फुल रेक हैंडलिंग सुविधा की भी शुरुआत की जाएगी।