LAC पर 40,000 जवान: चीनी सैनिकों से बराबर का मुकाबला, बोफोर्स भी तैनात

भारत और चीन के विदेश मंत्रियों के मध्य मॉस्को में बैठक हुई है। ऐसे में ध्यान दिया जाए तो चीन भारत के साथ बैठक, बातचीत कर रहा है, पर वहीं दूसरी तरफ चीन की सेना पैंगोंग इलाके में अपनी मुस्तैदी को बढ़ाने के साथ-साथ सैनिकों और सैन्य ताकत को भी बढ़ाती जा रही है।

Indian troops

फोटो-सोशल मीडिया

नई दिल्ली। भारत और चीन के विदेश मंत्रियों के मध्य मॉस्को में बैठक हुई है। ऐसे में ध्यान दिया जाए तो चीन भारत के साथ बैठक, बातचीत कर रहा है, पर वहीं दूसरी तरफ चीन की सेना पैंगोंग इलाके में अपनी मुस्तैदी को बढ़ाने के साथ-साथ सैनिकों और सैन्य ताकत को भी बढ़ाती जा रही है। ऐसे में अब लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर चीन की हरकतों को देखते हुए भारतीय सेना ने अब 155 मिमी की होवित्जर तोप तैनात करने शुरू किया है।

ये भी पढ़ें… घाटी में हिंसक झड़प: सामने आया वीडियो, सैनिक हाथ-पैर और डंडों से मारपीट करते हुए

चीन की नापाक कोशिशें कायम

ऐसे में सीमा पर बोफोर्स तोप तैनात करना भारतीय सेना का बड़ा और अहम कदम है। सबसे जरूरी बात तो ये है कि ये फैसला ऐसे समय में लिया गया है, जब चीनी घुसपैठ की अपनी नापाक कोशिशों से बाज नहीं आ रहे।

लाइन ऑफ एक्च्यूअल कंट्रोल(LAC) पर इन दिनों लगभग 40,000 भारतीय जवान तैनात हैं। साथ ही वायुसेना भी तैनात है और अब होवित्जर तोप भी सरहद पर भेजे जा रहे हैं। चीन ने छोटी से छोटी गलती भी की तो उसे बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

Lac army deploy
फोटो-सोशल मीडिया

ये भी पढ़ें…उद्धव के बाद सोनिया: कंगना के निशाने पर अब कांग्रेस, भेदभाव पर कही ये बड़ी बात…

चीन को सबक सीखाने के लिए तैयार

LAC TENSION
फोटो-सोशल मीडिया

बॉर्डर की बात करें तो भारतीय जवानों की टोली अब फिंगर 4 तक पहुंच हो गई है। सामरिक रूप से बेहद अहम ऊंचाई वाले इलाकों पर जवानों का दबदबा हो चुका है। तनाव के बीच LAC पर हालात बदल गए हैं। हिन्दुस्तान के जवानों ने पूर्वी लद्दाख के अलग-अलग इलाकों में अपनी पकड़ मजबूत की है। माउंटेन वारफेयर के उस्ताद माने जाने वाले जवान चीन को सबक सीखाने के लिए तैयार हैं।

ऐसे में पेैंगोंग झील के उत्तरी और दक्षिणी इलाकों में चीन की बेचैनी बढ़ी हुई है। चीन भले ही अपने जवान, गाड़ियां और हथियार तैनात कर चुका है, लेकिन इन इलाकों में ऊंचाइयों पर भारत की पकड़ मजबूत होने से चीनी सेना के पसीने छूट रहे हैं।

ये भी पढ़ें…ताबड़तोड़ झटकों से कांपा देश: दहशत के साए में लोग, लगातार भूकंप से बढ़ता खतरा

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App