LAC पर गद्दार चीन: सामने आई ये हरकत, रात भर पेट्रोलिंग करते रहे चिनूक

चीन ने भारत के खिलाफ लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर अक्साई चिन में पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की तैनाती की है। जिसके बाद भारतीय वायुसेना के चिनूक हेलिकॉप्टर रातभर पेट्रोलिंग करते रहे।

Chinook kept patrolling throughout the night

Chinook kept patrolling throughout the night

नई दिल्ली: पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच तनाव जारी है। चीन एक तरह तो शांति की बातें कर रहा है, वहीं दूसरी ओर लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर अक्साई चिन में पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की तैनाती की है। चीन ने ये तैनाती भारत के खिलाफ की है। वहीं चीन की इस हरकत के बाद भारतीय वायुसेना के चिनूक हेलिकॉप्टर रातभर पेट्रोलिंग करते रहे।

यह भी पढ़ें: मौत से हिला झारखंड: दर्दनाक हादसे से कांप उठे लोग, कई लोगों की हुई मौत

रात में भी पेट्रोलिंग कर रहे चिनूक हेलिकॉप्टर

चीन की हरकतों पर IAF का ये लड़ाकू विमान दौलत बेग ओल्डी और काराकोरम दर्रे के आसपास रात में भी पेट्रोलिंग कर रहे हैं। चिनूक हेलिकॉप्टर बॉर्डर से लगे इलाके में 16 हजार फीट की ऊंचाई पर उड़ान भरता नजर आया। बता दें कि अभी एक दिन पहले ही भारत और चीनी सेनाओं के वरिष्ठ कमांडरों के बीच सैनिकों के बीच तनाव कम करने के लिए बैठक हुई थी। यह बैठक पूर्वी लद्दाख के दौलत बेग ओल्डी में हुई थी।

यह भी पढ़ें: हो जाइए तैयार: Xiaomi ला रहा ये धांसू स्मार्टफोन, 11 अगस्त को हो रहा लॉन्च

PLA

डेप्सांग में चीनी सैनिकों की भीड़

इस बातचीत का मुख्य एजेंडा डेप्सांग की वर्तमान स्थिति का आकलन करना था। बता दें कि बीते दिनों डेप्सांग में चीनी सैनिकों की भीड़ देखी गई थी। डेप्सांग के दूसरी ओर चीन के करीब 15 हजार से अधिक सैनिकों की तैनाती की गई। जिसके बाद भारत की ओर से भी उन इलाकों में सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी गई है। भारत ने उस क्षेत्र में टी -90 टैंकों को भी तैनाती कर दिया है।

यह भी पढ़ें: लापरवाही बनेगी हादसा: दो साल से खुला है नाला, कहीं हो न जाए कोई शिकार

LAC

विषम परिस्थियों के लिए तैयार किए जा रहे सैनिक

डेप्सांग इलाके में चीन की हरकतों के बाद भारतीय वायुसेना का लड़ाकू विमान चिनूक हेलिकॉप्टर भी चुशुल क्षेत्र में लगातार गश्त करता रहा। इसके साथ ही हमलावर हेलिकॉप्टर अपाचे भी चीन पर नजर बनाए रखने के लिए लगातार इन इलाकों में उड़ान भर रहा है। विषम परिस्थिति में विवादित जगह तक सैनिकों को जल्द से जल्द पहुंचाने की ट्रेनिंग दी जा रही है।

यह भी पढ़ें: चीन-पाक की टेंशन: ये प्रोजेक्ट भारत के लिए बड़ा खतरा, जल्द करना होगा कुछ

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App