महाराष्ट्र के बाद झारखंड में BJP को लगा बड़ा झटका, LJP-आजसू ने…

महाराष्ट्र के बाद अब विधानसभा चुनाव से पहले झारखंड में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। प्रदेश में बीजेपी की अगुवाई वाले एनडीए में फूट पड़ गई है। रामविलास पासवान की पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) ने झारखंड विधानसभा चुनाव में बीजेपी से अलग होकर चुनाव लड़ने का ऐलान किया है।

रांची: महाराष्ट्र के बाद अब विधानसभा चुनाव से पहले झारखंड में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। प्रदेश में बीजेपी की अगुवाई वाले एनडीए में फूट पड़ गई है। रामविलास पासवान की पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) ने झारखंड विधानसभा चुनाव में बीजेपी से अलग होकर चुनाव लड़ने का ऐलान किया है।

लोजपा झारखंड में 81 में से 50 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने बताया कि मंगलवार को प्रत्याशियों की पहली सूची जारी की जाएगी। इससे पहले लोजपा ने बीजेपी से संपर्क साधा था और झारखंड विधानसभा चुनाव में गठबंधन के तहत चुनाव लड़ने की पेशकश की थी।

यह भी पढ़ें…दो ट्रेनों की आपस में भीषण टक्कर, 15 की मौत, कई घायल

लोजपा ने बीजेपी से संथाल परगना के जरमुंडी विधानसभा समेत 6 सीटें मांगी थी, लेकिन बीजेपी ने इन सीटों पर अपना प्रत्याशी उतार दिया गया। इस बाद मंगलवार को चिराग पासवान ने प्रदेश में अकेले चुनाव लड़ने की अधिकारिक घोषणा कर दी।

यह भी पढ़ें…स्वर कोकिला लता मंगेशकर की हालत नाजुक, वेंटिलेटर पर रखा गया

सहयोगी आजसू ने भी बीजेपी के खिलाफ उतारे कैंडिडेट

सरकार में शामिल सुदेश महतो की पार्टी आजसू ने भी कुछ सीटों पर बीजेपी उम्मीदवारों के खिलाफ उम्मीदवार उतारे हैं। इसमें बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा की सीट चक्रधरपुर भी शामिल है। आजसू की 12 प्रत्याशियों की पहली में चंदनकियारी और लोहरदगा सीट के साथ 4 ऐसी सीटें हैं। इन सीटों पर बीजेपी पहले ही उम्मीदवारों की घोषणा कर चुकी है।

यह भी पढ़ें…औद्योगिक उत्पादन में 8 साल बाद हुई इतनी बड़ी गिरावट, जानें पूरी बात

एक भी सीट पर नहीं जीती LJP

लोजपा ने 2005 में 38 सीटों पर कैंडिडेट उतारे थे लेकिए सभी प्रत्याशी हार गए। तो वहीं 2009 के चुनाव में लोजपा ने झारखंड में 10 सीट और 2014 में एनडीए गठबंधन के तहत एक सीट पर चुनाव लड़ा था। इस बार भी लोजपा के हाथ हार लगी।