बढ़ेगा लॉकडाउन: मोदी सरकार ने बताई अपनी मंशा, होगा ये ऐलान

 देश में केंद्र सरकार द्वारा 21 दिनों का लॉकडाउन लगाया गया था, लेकिन सरकार इसे बढ़ा सकती है। बात ये है कि कई प्रदेश सरकारों ने लॉकडाउन को बढ़ाने का सुझाव दिया है।

नई दिल्ली : देश में केंद्र सरकार द्वारा 21 दिनों का लॉकडाउन लगाया गया था, लेकिन सरकार इसे बढ़ा सकती है। बात ये है कि कई प्रदेश सरकारों ने लॉकडाउन को बढ़ाने का सुझाव दिया है। देश में लॉकडाउन अभी भी चल रहा है लेकिन फिर भी कोरोना संक्रमण के केस बढ़ते ही जा रहे हैं। ऐसे में सरकारों ने कुछ हफ्तों के लिए इसे बढ़ाने की बात कही है। हालातों को मद्देनजर रखते हुए लॉकडाउन की तारीख 14 अप्रैल से आगे जा सकती है।

ये भी पढ़ें… बदल गया WhatsApp: अब एक समय में सिर्फ एक चैट, आप भी जान लें

3 दिनों कोरोना के हजार से अधिक मामले

कोरोनो संक्रमण के केस देश में बढ़ते ही जा रहे हैं, जबकि संपूर्ण लॉकडाउन हो रखा है। अप्रैल के शुरू होते ही संक्रमण के बढ़ने में तेजी से इजाफा हुआ है। बीते 3 दिनों कोरोना के हजार से अधिक मामले आए हैं और दो दर्जन से अधिक लोगों की मौत हुई है। ताजा रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारत में 4481 कोरोना मरीज हैं, जिसमें से 114 की मौत हो चुकी है।

दिल्ली, महाराष्ट्र, तमिलनाडु सहित कई प्रदेशों में मरीजों की संख्या बहुत तेजी से बढ़ी है। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने केंद्र सरकार को सुझाव दिया था कि लॉकडाउन को और दो हफ्तों के लिए बढ़ा दिया जाए। केसीआर ने जिस रिपोर्ट के आधार पर यह सुझाव दिया था, उसमें 2 जून तक लॉकडाउन लागू करने की अपील की गई थी।

इसके बाद महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे और राजस्थान सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि लॉकडाउन को तुरंत नहीं हटाया जाना चाहिए। इसको चरणबद्ध तरीके से हटाया जाना चाहिए।

ये भी पढ़ें…कोरोना से मरने वालों में ये बात है सामान्य, स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी किए आंकड़े

लॉकडाउन हटाने का फैसला स्थानीय आधार पर

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि केंद्र सरकार को राज्य सरकारों को लॉकडाउन हटाने और लगाने का अधिकार देना चाहिए। लॉकडाउन हटाने का फैसला स्थानीय आधार पर होना चाहिए।

उत्तर प्रदेश की बात करें तो यहां 308 कोरोना पॉजिटिव केस हैं, इनमें 168 केस तबलीगी जमात से जुड़े हैं। पिछले कुछ दिनों में उत्तर प्रदेश में कोरोना के पॉजिटिव केस बढ़े हैं।

प्रदेश के सभी 24 मेडिकल कॉलेजों को अपग्रेड किया गया है। इनमें से 10 में पहले से ही कोरोना टेस्ट करने की सुविधा है, बाकी 14 मेडिकल कॉलेजों में जल्द ही लैब स्थापित कर दी जाएगी।

ये भी पढ़ें… UP: अस्पताल से फरार हुआ कोरोना पॉजिटिव मरीज, मचा हड़कंप