×

यहां पर अस्पताल से गायब हुआ कोरोना वायरस का मरीज, मचा हड़कंप

मध्य प्रदेश के छतरपुर में एक कोरोना वायरस का संदिग्ध मरीज हॉस्पिटल से गायब हो गया, जिसके चलते पूरे अस्पताल में हड़कंप मच गया। छतरपुर के जिला अस्पताल से कोरोना वायरस का जो संदिग्ध मरीज गायब हुआ है, वह चीन के वुहान शहर से पढ़ाई करके भारत वापस लौटा था।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 3 Feb 2020 4:18 AM GMT

यहां पर अस्पताल से गायब हुआ कोरोना वायरस का मरीज, मचा हड़कंप
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

छतरपुर: मध्य प्रदेश के छतरपुर में एक कोरोना वायरस का संदिग्ध मरीज हॉस्पिटल से गायब हो गया, जिसके चलते पूरे अस्पताल में हड़कंप मच गया। छतरपुर के जिला अस्पताल से कोरोना वायरस का जो संदिग्ध मरीज गायब हुआ है, वह चीन के वुहान शहर से पढ़ाई करके भारत वापस लौटा था।

अस्पताल प्रबंधन में मचा हड़कंप

छात्र दो दिन पहले ही नौगांव के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज कराने के लिए आया था, जिसके बाद संदिग्ध मरीज को जांच के लिए जिला अस्पताल के विशेष आइसोलेशन वार्ड में अलग रखा गया था। फिलहाल कोरोना वायरस के मरीज के हॉस्पिटल से लापता होने की खबर से अस्पताल प्रबंधन में हड़कंप मच गया है। बता दें कि चीन के वुहान शहर से कोरोना वायरस का संक्रमण शुरू हुआ, जिसने एक महामारी का रूप ले लिया है।

यह भी पढ़ें: चीन में कोरोना वायरस के बाद इस भयानक बीमारी ने दी दस्तक

चीन में MBBS की पढ़ाई कर रहा था छात्र

छात्र अभिषेक राजपूत छतरपुर के नौगांव का रहने वाला है और चीन में मेडिकल (MBBS) की पढ़ाई कर रहा था। अभिषेक 20 दिन पहले ही अपने घर लौटा था। तभी से छात्र के गले में दर्द और सर्दी-जुकाम की शिकायत थी। जब वह शनिवार को नौगांव के स्वास्थ्य केंद्र में जांच कराने के लिए पहुंचा तो उसे जिला अस्पताल में बनाए गए विशेष आइसोलेशन वॉर्ड में भर्ती किया गया था। छात्र का कोरोना वायरस की जांच के लिए सैंपल लिया जाना था, लेकिन अचानक रविवार शाम को मरीज अस्पताल से कहीं गायब हो गया। जिसके बाद अस्पताल प्रबंधन सकते में आ गया।

वहीं छतरपुर जिला अस्प ताल के डॉक्टर्स ने बताया कि मरीज में कोरोना वायरस के स्पष्ट लक्षण नहीं हैं, फिर भी शासन के निर्देशानुसार, उसे निगरानी में रखा गया था। डॉक्टर्स का कहना है कि रिपोर्ट सामने आने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा कि मरीज कोरोना वायरस से संक्रमित है या नहीं।

मरने वालों की संख्या बढ़कर 304

चीन में कोरोना वायरस के बाद इस भयानक बीमारी ने दी दस्तक

बता दें कि, चीन में फैले घातक कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मरने वालों की संख्या बढ़कर 304 हो गई है और इससे 14,380 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) ने अपनी दैनिक रिपोर्ट में बताया कि शनिवार तक इस बीमारी के कारण 304 लोगों की मौत हो गई और 14,380 लोगों के इस विषाणु से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।

यह भी पढ़ें: शाहीन बाग़-जामिया के अब सुधरेंगे हालात! EC ने उठाया ये बड़ा कदम…

4,562 नए संदिग्ध मामले सामने आए

चीन के एनएससी के अनुसार सभी लोगों की मौत हुबेई प्रांत में हुई है। आयोग ने बताया कि शनिवार को इस संक्रमण के 4,562 नए संदिग्ध मामले सामने आए। उसने बताया कि शनिवार को 315 मरीज गंभीर रूप से बीमार हो गए और 85 लोगों को स्वास्थ्य सुधार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

आयोग ने बताया कि कुल 2,110 मरीजों की हालत गंभीर बनी हुई है और कुल 19,544 लोगों के इस वायरस से संक्रमित होने का संदेह है। कुल 328 लोगों को स्वास्थ्य में सुधार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

सड़कों पर मिल रहे पालतू जानवरों के शव

वहीं अब कोरोना वायरस का कहर चीन में इस कदर छा चुका है कि वहां सड़क पर लोगों के शव मिल रहे हैं। लोग राह चलते-चलते लोग अचानक गिर जा रहे हैं। इसके अलावा अब स्थिति इतनी भयावह हो गई है कि लोग अपने पालतू जानवरों को मारकर गलियों में फेंक दे रहे हैं। सड़कों पर इधर-उधर पालतू जानवरों के मृत शव मिल रहे हैं।

पालतू जानवरों से भी कोरोना वायरस फैल रहा

एक रिपोर्ट के मुताबिक चीन के कोरोना प्रभावित शहरों में पालतू जानवरों के मालिकों ने उनकी बिल्लियों और कुत्तों को अपार्टमेंट से बाहर फेंक दिया गया है, वे बाहर मरे हुए मिले हैं। और उन्होंने ऐसा सिर्फ इस आधार पर किया क्योंकि ऐसा दावा किया गया कि पालतू जानवरों से भी कोरोना वायरस फैल रहा है।

यह भी पढ़ें: इस दिग्गज नेता ने सांसद को मारा था थप्पड़, अब भाजपा का मिला साथ

Shreya

Shreya

Next Story