Top

चुनाव पर बड़ी तैयारी: बैलट पेपर से होंगे मतदान, विधेयक ला सकती है सरकार

महाराष्ट्र सरकार मार्च में राज्य विधानसभा के बजट सत्र में इससे संबंधित विधेयक पेश कर सकती है। महाराष्ट्र विधानसभा के अध्यक्ष नाना पटोले ने एक न्यूज चैनल से बातचीत में इस बात का जिक्र किया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 3 Feb 2021 6:19 AM GMT

चुनाव पर बड़ी तैयारी: बैलट पेपर से होंगे मतदान, विधेयक ला सकती है सरकार
X
महाराष्ट्र की ठकरे सरकार यह बड़ा कदम उठाती है, तो महाराष्ट्र बैलट पेपर और ईवीएम से एक साथ चुनाव कराने के लिए ऐसा कानून लाने वाला प्रदेश बन जाएगा।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुंबई: देश में ईवीएम मशीन पर विपक्ष लगातार सवाल खड़ा करता आ रहा है। विपक्ष की मांग की है देश में फिर से बैलेट पेपर से चुनाव कराया जाए। अब इस बीच बड़ी खबर महाराष्ट्र से सामने आई है। महाराष्ट्र की उद्धठ ठाकरे सरकार बैलेट पेपर से चुनाव कराने की तैयारी कर रही है।

बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र सरकार मार्च में राज्य विधानसभा के बजट सत्र में इससे संबंधित विधेयक पेश कर सकती है। महाराष्ट्र विधानसभा के अध्यक्ष नाना पटोले ने एक न्यूज चैनल से बातचीत में इस बात का जिक्र किया है। उन्होंने चैनल से बातचीत में कहा कि प्रदेश में उद्धव ठाकरे सरकार को ईवीएम के साथ बैलेट पेपर पर चुनाव कराने के लिए एक ड्राफ्ट तैयार करने को कहा है। पटोले का कहना है कि अगर ड्राफ्ट तैयार है, तो आगामी बजट सत्र में विधेयक को सरकार पेश कर सकती है।

अगर विधेयक विधानसभा में लाया जाता है, तो सिर्फ प्रदेश विधानसभा चुनावों और स्थानीय चुनावों में लागू किया जाएगा। अगर महाराष्ट्र की ठकरे सरकार यह बड़ा कदम उठाती है, तो महाराष्ट्र बैलट पेपर और ईवीएम से एक साथ चुनाव कराने के लिए ऐसा कानून लाने वाला प्रदेश बन जाएगा।

udhhav thackeray

ये भी पढ़ें...हिंसा पर तगड़ा एक्शन: झंडे का अपमान करने वाला नहीं बचेगा, रखा 1 लाख इनाम

कानून बनाने की शक्ति राज्य सरकार के पास

महागठबंधन में शिवसेना, नेश्नलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस के गठबंधन वाली महाअघाड़ी सरकार है। इस मामले को लेकर तीनों पार्टियां सहमत है। पटोले संभावित विधेयक के कानूनी पक्ष के बारे में जानकारी दी। उन्होंने चैनल से कहा कि प्रदेश में चुनाव के लिए ऐसे कानून को बनाने को लेकर संविधान के अनुच्छेद 328 की शक्तियां मिली हैं।

ये भी पढ़ें...तेजस का सौदाः HAL को मिला लड़ाकू विमान का कॉन्ट्रैक्ट, राजनाथ ने कही ये बात

उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग के अधिकारियों समेत इससे संबंधित कई लोगों के साथ बैठक कई बार बैठकें हुई हैं। पटोले ने बताया कि अनुच्छेद 328 प्रदेश सरकार को इस तरह का कानून बनाने का अधिकार प्रदान करता है।

माहाराष्ट्र विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि चुनाव, ईवीएम से होना है या बैलेट पेपर से यह फैसला प्रदेश करेगा। उन्होंने जिन लोगों का लोकतंत्र में विश्वास है और बैलेट पेपर में यकीन रखते हैं। वह इस फैसले से खुश होंगे।

ये भी पढ़ें...दो और किसानों की मौत: आंदोलन के दौरान तोड़ा दम, बढ़ रही मरने वालों की संख्या

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story