×

मोदी की अपील को मिल रहा भारी समर्थन, आज दीपों से जगमग होगा देश

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की दशकों पहले लिखी गई ये पंक्तियां काफी प्रसिद्ध हुई थीं। शनिवार को पीएम मोदी ने वाजपेयी की एक वीडियो क्लिप ट्वीट करते हुए लोगों को फिर दीप जलाने के संकल्प की याद दिलाई।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 5 April 2020 4:37 AM GMT

मोदी की अपील को मिल रहा भारी समर्थन, आज दीपों से जगमग होगा देश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

अंशुमान तिवारी

लखनऊ: भरी दुपहरी में अंधियारा,

सूरज परछाई से हारा,

अंतरतम का नेह निचोड़ें,

बुझी हुई बाती सुलगाएं,

आओ फिर से दिया जलाएं।

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की दशकों पहले लिखी गई ये पंक्तियां काफी प्रसिद्ध हुई थीं। शनिवार को पीएम मोदी ने वाजपेयी की एक वीडियो क्लिप ट्वीट करते हुए लोगों को फिर दीप जलाने के संकल्प की याद दिलाई। इस वीडियो क्लिप में खुद वाजपेयी अपनी इस प्रसिद्ध कविता का पाठ करते दिख रहे हैं।

वाजपेयी की इन पंक्तियों को ट्वीट करते हुए पीएम मोदी ने कोरोना के खिलाफ जंग में देश के 130 करोड़ लोगों से रविवार यानी आज रात में नौ बजे नौ मिनट के लिए घर की लाइटें बुझाकर दिया जलाने की अपील की है। मोदी की अपील को मिल रहे भारी समर्थन को देखते हुए यह तय माना जा रहा है कि आज देशवासी एकजुटता का परिचय देते हुए करोड़ों दीपों से देश के कोने-कोने को जगमग कर देंगे।

देशवासियों से मांगे नौ मिनट

पीएम मोदी ने तीन अप्रैल को एक वीडियो संदेश में देश की जनता से रविवार को नौ बजे नौ मिनट का वक्त मांगा था। उनका कहना था कि कोरोना की महामारी को हराने और भारत को जिताने के लिए देशवासियों को एकजुट होना होगा। उन्होंने कहा था कि रविवार को रात नौ बजे नौ मिनट तक घर की लाइटें बंद कर मोमबत्ती, दिया, टॉर्च और मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाकर सबको दिखा दें कि हम हार मानने वाले नहीं हैं।

यह भी पढ़ें...ट्रेन में करना है सफर तो पढ़ लें ये खबर: लॉकडाउन के बाद रेल यात्रा शुरू, लेकिन…

चारों दिशाओं में फैलाना है उजाला

पीएम मोदी ने कहा कि हमें अंधकार रूपी संकट को पराजित करने के लिए प्रकाश के तेज को चारों दिशाओं में फैलाना है। 130 करोड़ देशवासियों को महाशक्ति का जागरण करना है। ऐसे समय में जब देश इतनी बड़ी लड़ाई लड़ रहा हो तो बार-बार अपनी महाशक्ति का साक्षात्कार करते रहना चाहिए। पीएम के मुताबिक हमारे उत्साह से बड़ी कोई ताकत नहीं है और कोरोना के खिलाफ जंग को भी हमें इसी उत्साह से जीतना है।

सोशल मीडिया हो रही खूब चर्चा

मोदी की इस अपील के बाद ही यह मुद्दा सोशल मीडिया पर सबसे हॉट टॉपिक बन गया। फेसबुक पर तमाम लोगों ने इसके समर्थन में पोस्ट लिखकर कोरोना के खिलाफ जंग में देश की एकजुटता का इजहार किया। कई लोगों ने इसे कामयाब बनाने के लिए बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने की अपील की। लोगों का कहना था कि हमें एकजुट होकर कोरोना संकट से पैदा हुए अंधकार को चुनौती देनी है। मोदी की अपील का वीडियो भी फेसबुक पर जमकर शेयर किया गया।

यह भी पढ़ें...कोरोना पॉजिटिव जमातियों का डेरा लगा यहां, इतने संक्रमितों से दहला प्रदेश

ट्विटर पर करने लगा टॉप ट्रेंड

अगर ट्विटर पर ट्रेंडिंग की बात की जाए तो शुक्रवार को पीएम के संबोधन के बाद ही मोदी वीडियो मैसेज टॉप ट्रेंड करने लगा। इसके साथ ही ट्विटर पर लाइट ऑफ इंडिया, मोमबत्ती, ऑन संडे, अर्थ आवर, दिवाली, कैंडल, टॉर्च हैशटैग के साथ संदेशों की बाढ़ आ गई। शनिवार को भी अर्थ आवर, आई सपोर्ट लैंप लाइटिंग और मोदी द वर्ल्ड वर्ल्ड लीडर हैशटैग के साथ संदेशों की बाढ़ आ गई। रविवार को भी लोग मोदी की इस अपील पर एकजुटता दिखाकर कोरोना को हराने का संदेश फैलाते दिखे। ट्विटर का यह ट्रेंड बताता है कि रविवार को मोदी की अपील को देशवासियों का जबर्दस्त समर्थन मिलने वाला है।

इन अपीलों पर मिला जनता का साथ

मोदी की अपीलों को देश में कितना भारी जन समर्थन मिलता है, इसके लिए हाल के दो उदाहरण पर्याप्त हैं। मोदी ने जब 22 मार्च को देश में जनता कर्फ्यू की अपील की थी तो उसे लोगों का भारी समर्थन मिला था। लोगों ने स्वत: घरों में कैद रखकर यह दिखा दिया था कि कोरोना के खिलाफ जंग में पूरा देश एकजुट खड़ा है। इसके बाद मोदी ने जब थाली और ताली बजाने की अपील की तो उसे भी पूरे देश में भारी समर्थन मिला। देश के बड़े शहरों में ही नहीं बल्कि छोटे शहरों और कस्बों में भी लोग घरों से बाहर निकल आए और ताली और थाली बजाकर कोरोना के खिलाफ जंग में जुटे योद्धाओं को सलाम किया। इस आधार पर मोदी की तीसरी अपील को भी भारी समर्थन मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।

यह भी पढ़ें...कोरोना वायरस के कारण काफी मौतें होंगी, अगले दो हफ्ते मुश्किल होंगे: डोनाल्ड ट्रंप

विभिन्न हस्तियों ने दिया मोदी को समर्थन

मोदी के घरों के बाहर दिया, मोमबत्ती, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाने की अपील करते ही देश में विविध क्षेत्रों से जुड़ी हस्तियों और आम लोगों ने इसे भारी समर्थन देते हुए कोरोना के खिलाफ जंग में एकजुटता दिखाने का वादा किया। हालांकि एक वर्ग ऐसा भी सामने आया जिसमें मोदी की इस अपील को प्रोपेगेंडा और प्रपंच करार दिया और कहा कि चिकित्सा कर्मियों की जरूरतें पूरा करना और लॉकडाउन के कारण तमाम मुसीबतें झेल रहे गरीब वर्ग को सहायता पहुंचाना ज्यादा जरूरी है।

राहुल ने साधा मोदी पर निशाना

मोदी की इस अपील के बाद देश में सियासी तंज भी कसे गए। खास तौर पर कांग्रेस की ओर से पीएम मोदी पर तीखे हमले किए गए। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि देश में कोरोना वायरस से निपटने के लिए पर्याप्त रूप से टेस्ट नहीं हो पा रहे और चिकित्सा कर्मी संसाधनों की कमी से जूझ रहे हैं। ऐसे में लोगों के ताली और थाली बजाने या दीप जलाने से कोरोना वायरस से जंग नहीं लड़ी जा सकती। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी टेस्ट की संख्या बढ़ाए जाने की मांग करते हुए कहा कि कोरोना को हराने के लिए जो कुछ किया जाना चाहिए, वह नहीं किया जा रहा।

यह भी पढ़ें...CRPF के एक अधिकारी कोरोना पॉजिटिव, DG एपी माहेश्वरी ने खुद को किया क्वारनटीन

ममता और पवार भी साथ नहीं

विभिन्न मुद्दों पर मोदी का तीखा विरोध करने वाली पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि अभी मैं पीएम मोदी के मामलों में नहीं पड़ना चाहती क्योंकि मैं कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में जुटी हुई हैं। उन्होंने कहा कि जिसे पीएम मोदी की बात सही लगती हो वह उनकी बात माने। हर किसी को इस मुद्दे पर अपना फैसला खुद करना है। शरद पवार की पार्टी एनसीपी पीएम की अपील को लेकर दोफाड़ होती दिखी। जहां पवार ने कहा कि ऐसे कदमों से कोरोना को नहीं हराया जा सकता, वहीं उनकी पार्टी के कई नेताओं ने मोदी की अपील का खुलकर समर्थन किया। इस बीच ओवैसी ने मोदी की अपील को नौटंकी करार दिया है।

दीपों से जगमग होगा देश

वैसे कुल मिलाकर यह कहा जा सकता है कि मोदी की अपील को देश के विभिन्न हिस्सों में अच्छा खासा समर्थन मिल रहा है। इसी आधार पर जानकारों का आकलन है कि रविवार को रात नौ बजे नौ मिनट के लिए सचमुच पूरा देश एकजुट होकर कोरोना के खिलाफ जंग में विजय का शंखनाद करेगा और करोड़ों देशवासी हिंदुस्तान को दीपों से जगमग देंगे।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story