PM मोदी का देश की जनता के नाम पत्र, गिनाईं सरकार की उपलब्धियां

कोरोना संकट के बीच मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला साल आज शनिवार को पूरा हो गया है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता के नाम पत्र लिखा है। इस पत्र में पीएम मोदी ने पिछले 1 साल की सरकार की उपलब्धियों के बारे में बताया है।

नई दिल्ली: कोरोना संकट के बीच मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला साल आज शनिवार को पूरा होने गया है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता के नाम पत्र लिखा है। इस पत्र में पीएम मोदी ने पिछले 1 साल की सरकार की उपलब्धियों के बारे में बताया है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि एक साल में लिए गए फैसले बड़े सपनों की उड़ान है।

पीएम मोदी ने भरोसा जताया है कि देश कोरोना संकट से जंग जीत जाएगा। उन्होंने लोगों से अपील की है कि इस आपदा से निकलने के लिए धैर्य बनाए रखने की जरूरत है। पीएम ने कहा कि कोरोना की मार से देश की अर्थव्यवस्था भी उबर जाएगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने जनता को लिखे पत्र में कहा है कि आज से एक साल पहले भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में एक नया स्वर्णिम अध्याय जुड़ा। देश में दशकों बाद पूर्ण बहुमत की किसी सरकार को लगातार दूसरी बार जनता ने जिम्मेदारी सौंपी। इस अध्याय को रचने में आपकी बहुत बड़ी भूमिका रही है। ऐसे में आज का यह दिन मेरे लिए, अवसर है आपको नमन करने का, भारत और भारतीय लोकतंत्र के प्रति आपनी इस निष्ठा को प्रणाम करने का।

यह भी पढ़ें…इस राज्य में लॉकडाउन 5.0! सीएम ने दिए संकेत, होंगे ये नियम

प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर सामान्य स्थिति होती तो मुझे आपके बीच आकर आपके दर्शन का सौभाग्य मिलता, लेकिन वैश्विक महामारी कोरोना के कारण से जो परिस्थितियां बनी हैं उन परिस्थितियों में, मैं इस पत्र के द्वारा आपका आशीर्वाद लेने आया हूं। बीते साल में आपके स्नेह, शुभाशीष और आपके सक्रिय सहयोग ने मुझे निरंतर एक नई ऊर्जा, नई प्रेरणा दी है। इस दौरान आपने लोकतंत्र की जिस सामूहिक शक्ति के दर्शन कराए वह आज पूरे विश्व के लिए एक मिसाल बन चुकी है।

पहले कार्यकाल की उपलब्धियां

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा है कि 2014 में जनता ने देश में एक बड़े परिवर्तन के लिए मतदान किया था, देश की नीति और रीति बदलने के लिए वोट किया था। उन 5 वर्षों में देश ने व्यवस्थाओं को जड़ता और भ्रष्टाचार के दलदल से बाहर निकलते देखा है। देश ने अंत्योदय की भावना के साथ गरीबों का जीवन आसान बनाने के लिए गवर्नेंस को परिवर्तित होते देखा है। पीएम मोदी ने कहा कि हमने गरीबों के बैंक खाते खोलकर, उन्हें मुफ्त गैस कनेक्शन देकर, मुफ्त बिजली कनेक्शन देकर, शौचालय बनवाकर और घर बनवाकर गरीब की गरिमा भी बढ़ाई।

यह भी पढ़ें…इमरजेंसी की हालत देख नाराज हुए मंत्री, अधिकारियों को लगाई जमकर फटकार

उन्होंने कहा है कि उस कार्यकाल में जहां सर्जिकल स्ट्राइक हुई, एयर स्ट्राइक हुई, वहीं हमने वन रैंक वन पेंशन, वन नेशन वन टैक्स- जीएसटी, किसानों की MSP की बरसों पुरानी मांगों को भी पूरा किया। पहला कार्यकाल अनेकों आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए समर्पित रहा।

दूसरे कार्यकाल की कार्यों का जिक्र

पीएम मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल के बारे में कहा है कि 2019 में आपका आशीर्वाद, जनता का आशीर्वाद, देश के बड़े सपनों के लिए था, आशाओं-आकंक्षाओं की पूर्ति के लिए था। इस एक साल में लिए गए फैसले इन्हीं बड़े सपनों की उड़ान है। उन्होंने आगे कहा है कि ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ इस मंत्र को लेकर आज देश सामाजिक हो या आर्थिक, वैश्विक हो या आंतरिक, हर दिशा में आगे बढ़ रहा है।

यह भी पढ़ें…ऐतिहासिक निर्णयों ने भारत की विकास यात्रा को नई गति और लक्ष्य दिए-PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल के पहले साल की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए कहा है कि पिछले एक साल में कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए जो अधिक चर्चा में रहे और इस वजह से इन उपलब्धियों का स्मृति में रहना भी बहुत स्वाभाविक है। अनुच्छेद 370, राम मंदिर निर्माण, तीन तलाक हो या फिर नागरिकता संशोधन कानून, ये सारी उपलब्धियां सभी को स्मरण हैं।

उन्होंने कहा है कि एक के बाद एक हुए इन ऐतिहासिक निर्णयों के बीच अनेक फैसले और बदलाव ऐसे भी हैं जिन्होंने भारत की विकास यात्रा को नई गति और नए लक्ष्य दिए हैं। लोगों की अपेक्षाओं को भी पूरा किया है। पीएम मोदी ने अपने पत्र में कहा कि चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के पद के गठन ने जहां सेनाओं में समन्वय को बढ़ाया है, मिशन गगनयान के लिए भी भारत ने अपनी तैयारियां तेज कर दी हैं।

यह भी पढ़ें…रक्षा मंत्री राजनाथ ने की अमेरिका से बात, चीन पर दिया ये बड़ा बयान

दुनिया को चौंकाएंगे भारतीय

अर्थव्यवस्था पर पीएम मोदी ने कहा कि मुझे भरोसा है कि देश की अर्थव्यवस्था कोरोना से कैसे उबरेगी, इसके लिए भी भारत मिसाल बनेगा। अर्थव्यवस्था के क्षेत्र में 130 करोड़ भारतीय न केवल दुनिया को चौंकाएंगे, बल्कि प्रेरणा भी बनेंगे। इस वक्त की सबसे बड़ी जरूरत आत्मनिर्भर बनना है। इस दिशा में हाल ही में दिया गया 20 लाख करोड़ का आर्थिक पैकेज बड़ा कदम है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।