नवरोज स्पेशल: जानिए देश के सबसे अमीर पारसियों के बारे में

28 दिसंबर 1937 को जन्मे रतन नवल टाटा ने टाटा समूह को नई बुलंदियों पर पहुंचाया है। रतन टाटा जमशेदजी टाटा के दत्तक पोते नवल टाटा के बड़े बेटे हैं। 2000 में पद्‍मभूषण और 2008 में पद्‍मविभूषण से रतन टाटा को सम्मानित किया जा चुका है।

नवरोज स्पेशल: जानिए देश के सबसे अमीर पारसियों के बारे में

नवरोज स्पेशल: जानिए देश के सबसे अमीर पारसियों के बारे में

लखनऊ: पारसी समुदाय नौरोज या नवरोज काफी धूमधाम से मनाता है। नवरोज पारसी समुदाय का कैलंडर होता है। नवरोज के दिन से पारसियों के लिए नया साल शुरू होता है। नौरोज या नवरोज एक बेहद खास त्यौहार होता है। नौरोज या नवरोज मनाने के पीछे पारसी समुदाय की अपनी मान्यता है।

यह भी पढ़ें: बाहुबली प्रभास ने देवसेना को लेकर कही दी दिल की बात, जानिए दोनों के बीच का असली रिश्ता?

नौरोज का उत्सव मनुष्य के पुनर्जीवन और उसके हृदय में परिवर्तन के साथ प्रकृति की स्वच्छ आत्मा में चेतना व निखार पर बल देता है। इसको मनाने का उद्देश्य सिर्फ इतना है कि यह एक बेहतरीन अवसर होता है जो पिछले वर्ष की थकावट व दिनचर्या के कामों से छुटकारा व विश्राम की संभावना उत्पन्न कराता है।

यह भी पढ़ें: बहुत पछतायेंगे! भईया तुरंत कराओ आधार से रजिस्टर अपना नंबर

यह त्योहार समाज में नववर्ष के सकारात्मक प्रभाव को दर्शाता है। कई अन्य देशों में भी ईरानी लोगों द्वारा यह त्यौहार मनाया जाता है, इन जगहों में यूरोप, अमेरिका भी शामिल है। आज नवरोज है।

यह भी पढ़ें: भूटान यात्रा पर रवाना हुए पीएम मोदी, रुपे कार्ड करेंगे लॉन्च

ऐसे में हम आपको बताएंगे भारत के अमीर पारसियों के बारे में। इन पारसियों ने देश की इकॉनमी बढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। ये और कोई नहीं बल्कि पालोंजी मिस्त्री, आदि गोदरेज, सायरस पूनावाला और रतन टाटा हैं।

पालोंजी मिस्त्री

देश के दिग्गज इंजीरियरिंग और कंस्ट्रक्शन ग्रुप को पालोंजी मिस्त्री ही संभाल रहे हैं। 151 साल पुराने शापोरजी पालोंजी ग्रुप को पालोंजी मिस्त्री ने संभाला है लेकिन अब उनके बड़े बेटे शापोर इसे संभालते हैं। उनके दूसरे बेटे सायरस मिस्त्री़ टाटा ग्रुप के चेयरमैन थे लेकिन बाद में उन्हे इस पद से हटा दिया गया।

आदि गोदरेज

आदि गोदरेज को भी आप सब जानते हैं। आदि गोदरेज गोदरेज समूह के अध्यक्ष हैं और भारत के धनी उद्योगपतियों में से एक हैं। आदि कई सारे भारतीय उद्योग संगठनों के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। सन 2011 से वे इंडियन स्कूल ऑफ़ बिज़नस के बोर्ड के अध्यक्ष हैं और कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ इंडियन इंडस्ट्री के पूर्व अध्यक्ष भी रह चुके हैं।

सायरस पूनावाला

साइरस एस पूनावाला एक भारतीय व्यापारी हैं, जो पूनवाला समूह के चेयरमैन हैं। इसमें सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, भारतीय बायोटेक कंपनी शामिल है। भारतीय बायोटेक कंपनी बच्चों की वैक्सीन बनाती हैं। सीरम ने मार्च 2016 को खत्म हुए वर्ष के लिए 695 मिलियन के राजस्व पर 360 मिलियन डॉलर का रिकार्ड लाभ दर्ज किया।

रतन टाटा

28 दिसंबर 1937 को जन्मे रतन नवल टाटा ने टाटा समूह को नई बुलंदियों पर पहुंचाया है। रतन टाटा जमशेदजी टाटा के दत्तक पोते नवल टाटा के बड़े बेटे हैं। 2000 में पद्‍मभूषण और 2008 में पद्‍मविभूषण से रतन टाटा को सम्मानित किया जा चुका है।