अब नहीं बचेंगे जमाती: क्राइम ब्रांच ने तैयार की 40 सवालों की लिस्ट, पूछताछ हुई शुरु

तब्लीगी मरकज मामले में जिन विदेशी नागरिकों की क्वारनटीन की अवधि समाप्त हो चुकी है, उनसे दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने पूछताछ शुरु कर दी है।

Published by Shreya Published: April 16, 2020 | 2:13 pm
Modified: April 16, 2020 | 2:14 pm
अब नहीं बचेंगे जमाती: क्राइम ब्रांच ने तैयार की 40 सवालों की लिस्ट, पूछताछ हुई शुरु

अब नहीं बचेंगे जमाती: क्राइम ब्रांच ने तैयार की 40 सवालों की लिस्ट, पूछताछ हुई शुरु

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज के जरिए देश के विभिन्न राज्यों में कोरोना का व्यापक संक्रमण हो गया है। वहीं अब तब्लीगी मरकज मामले में जिन विदेशी नागरिकों की क्वारनटीन की अवधि समाप्त हो चुकी है, उनसे दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने पूछताछ शुरु कर दी है।

पुलिस ने की 2400 विदेशी जमातियों की पहचान

दिल्ली पुलिस जमात में शामिल 2400 विदेशी जमातियों की पहचान कर चुकी है। तब्लीगी मरकज मामले की जाँच पड़ताल (Investigation) में दिल्ली पुलिस को इन विदेशी नागरिकों के बारे में जानकारी हाथ लगी है। पुलिस की तरफ से ये पहले ही साफ किया जा चुका है कि मरकज के आयोजन में हिस्सा लेने वाले सभी विदेश नागरिकों को आरोपित बनाया जाएगा।

यह भी पढे़ं: कोरोना की चपेट में आया पुलिस का पूरा परिवार, इन तीन इलाकों को किया गया सील

1500 विदेशियों को भेजा गया क्वारनटीन सेंटर

मुख्यालय सूत्रों के मुताबिक, क्राइम ब्रांच को जैसे-जैसे विदेशी नागरिकों के बारे में पता चलता गया, उनके खिलाफ लुक आउट सकरुलर (एलओसी) जारी किया जाता रहा। अब तक पुलिस ने 2400 विदेश नागरिकों की पहचान कर ली है। पुलिस ने इन विदेशी नागरिकों में से 1500 से ज्यादा विदेशियों को पकड़कर क्वारनटीन सेंटर भिजवाया है।

जिन लोगों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है, उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कर दिया गया है। इन सभी मरीजों को दिल्ली के 8 अलग-अलग हॉस्पिटल्स में एडमिट किया गया है। हालांकि पुलिस को अभी भी जमात में शामिल करीब 900 विदेशियों के बारे में नहीं पता चल सका है।

यह भी पढे़ं: कार ने किया खेल: GF को छोड़ कर जा रहा था, हुआ ऐसा कि होश उड़ गए सभी के

क्राइम ब्रांच ने तैयार की 40 सवालों की लिस्ट

आपको बता दें कि जमात में शामिल हुए विदेशी नागिरकों से पूछताछ (Inquiry) करने के लिए क्राइम ब्रांच ने 40 सवालों की लिस्ट तैयार की है। इन 40 सवालों की लिस्ट में वे किस देश के रहने वाले हैं, वे दिल्ली कब आए थे, वो यहां किसके कहने पर आए, क्या मौलाना साद की तरफ से उन्हें आमंत्रित किया गया था, क्या उनसे मरकज में पैसे की मांग की गई थी, या उन्होंने खुद ही चंदा दिया, चंदे में कितने पैसे दिए। क्या चंदे की रसीद दी गई है। दिल्ली में उन सभी को कहां रोका गया। क्या उन्हें दुनिया भर में फैल रहे कोरोना के बारे में जानकारी थी या नहीं। अगर थी तो वे मरकज में इतनी बड़ी संख्या में क्यों इकट्ठा हुए जैसे सवाल शामिल हैं।

यह भी पढे़ं: लॉकडाउन कोरोना समस्या का समाधान नहीं, तैयारी करने का वक्त हैः राहुल गांधी

क्वारनटीन सेंटर में ही दर्ज हो रहे जमातियों के बयान

क्राइम ब्रांच फिलहाल क्वारनटीन सेंटर में ही विदेशी जमातियों के बयान दर्ज कर रही है। पुलिस की योजना है कि सभी के बयान दर्ज करने के बाद चार्जशीद सीधे कोर्ट में ही दाखिल की जाए। इसके बाद अदालत के आदेश के अनुसार ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। ये विदेशी जमाती अपने-अपने देश न भाग जाएं, इसलिए इन सभी के खिलाफ LOC जारी की गई है। इन विदेशी नागरिकों पर वीजा नियमों का उल्लंघन करने का आरोप है। इसके अलावा इन पर टूरिस्ट वीजा पर आकर धार्मिक प्रचार करने का भी आरोप है। ऐसे में अदालत ही ट्रायल या गिरफ्तारी का फैसला करेगी।

यह भी पढे़ं: यूपी में दवा की होम डिलीवरी, कई बड़े मेडिकल स्टोर्स को पैनल में किया गया शामिल