मृतक व्यक्ति के नाम पर मिला सरकारी आवास, मरने के बाद भी निकाले जा रहे थे पैसे

डीआरडीए सह प्रभारी जिला अधिकारी अनिल क्लोमेंट ओढ़या के मुताबिक ये मामला उनके संज्ञान में है। जांच के आदेश दे दिए गये हैं और बहुत जल्द इस पूरे मामले का खुलासा कर दिया जाएगा। 

Fraud

मृतक व्यक्ति के नाम पर मिला सरकारी आवास, मरने के बाद भी निकाले जा रहे थे पैसे (फोटो: सोशल मीडिया)

गढ़वा: झारखंड के शहर गढ़वा में फर्जीवाड़े  का एक बड़ा ही हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां चार साल पहले मर चुके एक व्यक्ति के नाम पर सरकार ने आवास दिया।

उससे भी ज्यादा हैरान कर देने वाली बात ये कि उसी मृत व्यक्ति के नाम पर पिछले महीने बैंक जाकर पैसा भी निकाल लिया गया। मृतक के बैंक से पैसे निकालने और आवास मिलने की घटना अब पूरे शहर में चर्चा का विषय बन गई है।

ये पूरा वाकया जिले के डंडई प्रखण्ड के जरही गांव का है। यहां पर धनेसर राम नामक एक व्यक्ति को पीएम आवास 2016-17 में मिला था और उसने पीएम आवास की प्रथम क़िस्त यानी चालीस हजार की निकासी भी पिछले महीने यानी 20 अक्टूबर 2020 बैंक से कर लिया है।

bank
बैंक (फोटो-सोशल मीडिया)

लोगों के आये अच्छे दिन, इस तट पर सोने के मोती ढूंढने के लिए जुट रही हजारों की भीड़

इलाके में हर तरफ हो रही इस धोखाधड़ी की चर्चा

वहीं, कुछ दिन बाद खुलासा हुआ कि वह व्यक्ति चार वर्ष पहले ही मर चुका है। इस प्रकरण के सामने आने के बाद से इलाके में हर तरफ बस उसी की चर्चा हो रही है।

इस सम्बन्ध में मृतक के पोते धर्मेंद्र ने बताया कि मेरे बाबा के नाम पर पीएम आवास आया है और पिछले महीने 40 हजार की निकासी भी हुई है। उसने इसकी शिकायत बीडीओ से भी की है।

किसानों का दिल्ली बाॅर्डर पर डेरा, बैठक में शाह के प्रस्ताव पर करेंगे फैसला

money
पैसे की फोटो(सोशल मीडिया)

अधिकारियों ने दिए जांच के आदेश

उधर जब जिले में बैठे अधिकारियों को इस बात की जानकारी हुई तो उन्होंने तुरन्त इसकी जांच का जिम्मा बीडीओ को करने का आदेश दे दिया।

डीआरडीए सह प्रभारी जिला अधिकारी अनिल क्लोमेंट ओढ़या के मुताबिक ये मामला उनके संज्ञान में है। जांच के आदेश दे दिए गये हैं और बहुत जल्द इस पूरे मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।  जो भी दोषी होगा उसके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

बता दें कि फर्जीवाड़े का ये कोई पहला मामला नहीं है। इसके पहले भी इस तरह के मामले सामने आ चुके हैं। कुछ मामलों  में कार्रवाई भी हुई है लेकिन इस तरह की घटनाओं पर रोक नहीं लग पा रही है।

कोरोना वायरस पर ICMR की बड़ी चेतावनी, वैक्सीन आने के बाद भी करना होगा ये काम

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App