PM मोदी के PK: जानिए आखिर कौन हैं ये, जो बन गए चर्चा में

प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव के तौर पर पीके मिश्रा को नियुक्त किया गया है। पूर्व प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्रा के पदमुक्त होने के बाद उन्हें यह जिम्मेदारी दी गई। नृपेंद्र मिश्रा पीएम मोदी के साथ 2014 से ही जुड़े हुए थे और नई सरकार बनने के बाद उनके कार्यकाल को बढ़ाया गया।

Published by Dharmendra kumar Published: September 11, 2019 | 4:42 pm
Modified: September 11, 2019 | 4:43 pm

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव के तौर पर पीके मिश्रा को नियुक्त किया गया है। पूर्व प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्रा के पदमुक्त होने के बाद उन्हें यह जिम्मेदारी दी गई। नृपेंद्र मिश्रा पीएम मोदी के साथ 2014 से ही जुड़े हुए थे और नई सरकार बनने के बाद उनके कार्यकाल को बढ़ाया गया। लेकिन उन्होंने पिछले महीने पीएम मोदी से कार्यमुक्त करने की इच्छा जाहिर की जिसके बाद पीके मिश्रा को यह जिम्मेदारी सौंपी गई। तो वहीं, पीके सिन्हा को प्रमुख सलाहकार बनाया गया है।

पीएम मोदी के करीबी हैं पीके मिश्रा

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी के करीबी अधिकारियों में पीके मिश्रा से एक हैं। मिश्रा और पीएम मोदी के पास साथ काम करने का अनुभव गुजरात से ही है।

यह भी पढ़ें…प्रसाद में चढ़ाया जाता है नारियल, बजरंग बली मुंह में रखते ही कर देते हैं दो टुकड़े

पीएम मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे उस वक्त भी मिश्रा ने उनके साथ काम किया है। बतौर प्रशासनिक अधिकारी मिश्रा को तय समय में काम को पूरी कुशलता से अंजाम देने के लिए जाना जाता है।

कौन हैं पीके मिश्रा

पीके मिश्रा, गुजरात कैडर के 1972 बैच के आईएएस अफसर हैं। कृषि, आपदा प्रबंधन, ऊर्जा, नियामक मामले और आधारभूत संरचना सरीखे विभिन्न क्षेत्रों में वह कई प्रोग्राम्स का प्रबंधन कर चुके हैं।

यह भी पढ़ें…तूफान का कहर! मची ऐसी तबाही, चली गई कई लोगों की जान

हालिया नियुक्ति से पहले वह पीएम के एडिश्नल प्रिंसिपल सेक्रेट्री, कैबिनेट मंत्री की रैंक पर और सेक्रेट्री अग्रीकल्चर एंड कॉपरेशन भी रह चुके हैं। उन्होंने इस दौरान नेशनल एग्रीकल्चर डेवलपमेंट प्रोग्राम और नेशनल फूड सिक्योरिटी मिशन जैसी योजनाओं में अपना योगदान दिया।

मिश्रा ने यूनीवर्सिटी ऑफ ससेक्स से इकनॉमिक्स/डेवलपमेंट स्टडीज में PhD कर रखी है और इस साल की शुरुआत में उन्हें आपदा प्रबंधन में बेहतरीन काम के लिए United Nations SASAKAWA Award से भी नवाजा गया था।

पीके सिन्हा कौन हैं

प्रदीप कुमार सिन्हा 1977 बैच के उत्तर प्रदेश काडर के अधिकारी हैं। सिन्हा ऊर्जा सचिव और शिपिंग सेक्रटरी के तौर पर केंद्र में सेवाएं दे चुके हैं। सिन्हा अर्थशास्त्र से ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रैजुटए हैं।

यह भी पढ़ें…शाहजहांपुर केस! वायरल हुआ वीडियो, इसने मांगी गई 5 करोड़ की रंगदारी

सिन्हा उत्तर प्रदेश सरकार और भारत सरकार में कई अहम पद संभाल चुके हैं। पीएम के करीबी अधिकारियों में इन्हें गिना जाता है। इस नियुक्ति से पहले सिन्हा पीएमओ में ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी के तौर पर काम कर रहे थे।

पीएम ने की नृपेंद्र मिश्रा की तारीफ

इससे पहले पीएम मोदी ने नृपेंद्र मिश्रा की विदाई के लिए एक औपचारिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया। इस भोज समारोह में पीएम मोदी के साथ ही कई बड़े नेता भी मौजूद थे।

पीएम मोदी ने नृपेंद्र मिश्रा की तारीफ करते हुए उन्हें कुशल प्रशासनिक अधिकारी बताया। मोदी ने यह भी कहा था कि मिश्रा के साथ काम करते हुए उन्हें कई महत्वपूर्ण चीजें सीखने को मिलीं।