J-K: बड़े हमले की साजिश नाकाम, 3 आतंकी गिरफ्तार, एक ट्रक हथियार बरामद

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने प्रदेश में बड़े आतंकी साजिश को नामाम कर दिया है। पंजाब-जम्मू-कश्मीर सीमा के पास पुलिस ने तीन आतंकियों को गिरफ्तार किया है। इन आतंकियों के पास से पुलिस ने 6 AK-47 राइफलें बरामद की हैं। इतना ही नहीं पुलिस ने एक ट्रक बरमाद किया है।

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर पुलिस ने प्रदेश में बड़े आतंकी साजिश को नामाम कर दिया है। पंजाब-जम्मू-कश्मीर सीमा के पास लखनपुर से पुलिस ने तीन आतंकियों को गिरफ्तार किया है। इन आतंकियों के पास से पुलिस ने AK-56 और दो AK-47 राइफलें बरामद की हैं। इतना ही नहीं पुलिस ने एक ट्रक बरमाद किया है जिसमें हथियार और गोला बारूद भरा हुआ है।

कहा जा रहा है कि आतंकी कश्मीर घाटी में किसी बड़े हमले को अंजाम देने की फिराक में थे। एसएसपी कठुआ ने ट्रक के जब्त किए जाने की पुष्टि की है।
एसएसपी कठुआ श्रीधर पाटिल ने ट्रक के जब्त किए जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि गिरफ्तार किए गए तीनों आतंकियों का संबंध आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से है।

यह भी पढ़ें…HP प्लांट में ब्लास्ट के बाद लगी भीषण आग, मचा हड़कंप, कई गांव कराए जा रहे खाली

सुरक्षाबलों को इनपुट मिला था कि ट्रक से हथियार ले जाया जा रहा है। इसके बाद सुरक्षाबलों ने ट्रक को पकड़ा और तीन आतंकियों को हथियारों के साथ गिरफ्तार किया है।

बता दें कि कुछ दिन पहले ही बारामुला में सुरक्षाबलों ने लश्कर से जुड़े 8 ओवर ग्राउंड वर्करों के गिरफ्तार किया था। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया था कि ये सभी आतंकी पाकिस्तान के इशारे पर यहां लोगों को धमकाने और घाटी को अशांत करने में जुटे थे।

यह भी पढ़ें…SCO की कॉन्फ्रेंस में भाग लेने नहीं पहुंचा पाकिस्तान, भेजा गया था न्योता

कठुआ के एसएसपी ने बताया कि हथियार और गोला-बारूद ले जा रहे एक ट्रक को जब्त किया गया है। सुरक्षा बलों के लिए दो दिनों में ये दूसरी बड़ी सफलता है। इससे पहले बुधवार को सुरक्षा बलों ने लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी आसिफ को ढेर किया था।

यह भी पढ़ें…भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव, लद्दाख में भिड़े सैनिक

डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया था कि पाकिस्तान द्वारा समर्थित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और हिज्बुल मुजाहिदीन घाटी में लोगों को बंद का समर्थन करने के लिए धमका रहे हैं। उन्होंने कहा कि आतंकी संगठनों ने लोगों को बाजार ना खोलने और दैनिक कामकाज ना करने की धमकी दी है, लेकिन पुलिस इस बात को सुनिश्चित कर रही है।