×

लॉकडाउन के बाद दिल्ली मेट्रो सेवा शुरू करने की तैयारी, होगी 12 हजार CISF जवानों की तैनाती

सीआईएसएफ द्वारा जारी प्रस्ताव के अनुसार लॉकडाउन खुलने के बाद जब मेट्रो सेवा एक बार फिर शुरू होगी तो मुसाफिरों को कुछ नियमों का अनुपालन के साथ यात्रा करना होगा।

Ashiki
Published on: 24 April 2020 7:02 AM GMT
लॉकडाउन के बाद दिल्ली मेट्रो सेवा शुरू करने की तैयारी, होगी 12 हजार CISF जवानों की तैनाती
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन की अवधि को बढ़ा दी गई। जिसके मद्देनजर रेलवे, बस, ट्रैन, मेट्रो और हवाई यात्रा पर भी पूरी तरह से प्रतिबन्ध लगा दिया गया। इसी बीच लॉकडाउन खुलने के बाद दिल्ली मेट्रो ने कुछ बदलाव के साथ एक बार फिर अपने संचालन की तैयारियां कर ली है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए मेट्रो प्रशासन कुछ बदलाव के साथ यात्रिओं के लिए कुछ नियम बनाएं हैं। जिसके बिना स्टेशन में भी प्रवेश नहीं मिलेगा। इसके साथ ही सीआईएसएफ ने भी तैयारी करते हुए गुरुवार को कुछ प्रस्ताव भी पेश किया है।

ये भी पढ़ें: चीन के इस शहर में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मरीज, घरों से निकलने पर बैन

आरोग्य सेतु एप की मदद

सीआईएसएफ द्वारा जारी प्रस्ताव के अनुसार लॉकडाउन खुलने के बाद जब मेट्रो सेवा एक बार फिर शुरू होगी तो मुसाफिरों को कुछ नियमों का अनुपालन के साथ यात्रा करना होगा। इस दौरान मेट्रो में सफर करने से पहले बेल्ट या धातु की कोई और चीज आपको स्कीनिंग के वक्त उतारना पड़ेगा। साथ ही आपको मास्क की अनिवार्यता के साथ सभी यात्रियों को अपने फोन में 'आरोग्य सेतु एप' जरूर डाउनलोड करनी होगी। लेकिन इसमें कुछ रियायत देते हुए कहा गया है कि अगर किसी के पास मोबाइल नहीं है और उसने आरोग्य सेतु एप को डाउनलोड नहीं किया है तो उसे प्रवेश करने से नहीं रोका जाएगा।

ये भी पढ़ें: अमेरिकियों का ट्रंप ऐसे करेंगे कोरोना उपचार, डॉक्टर पड़ गए हैरत में

सोशल डिस्टेंसिंग का रखना होगा ध्यान

अगर किसी यात्री में फ्लू और बुखार जैसे लक्षण दीखते हैं तो उन्हें यात्रा करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। साथ ही स्टेशन पर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पूरी सख्ती से पालन किया जाएगा। सभी यात्रियों को कम से कम 1 मीटर की दूरी बनाए रखना अनिवार्य होगा।

CISF के 12 हजार जवान होंगे तैनात

मेट्रो स्टेशनों पर 12 हजार से ज्यादा CISF के जवानों को तैनात किया जाएगा। ये जवान स्टेशन की हर गतिविधि पर नजर रखेंगे। स्टेशन के प्रवेश द्वार पर यात्रियों को CISF की ओर से सेनेटाइज भी दिया जाएगा। साथ ही सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग भी करायी जाएगी और इसमें सामान्य तापमान वाले यात्रियों को ही मेट्रो स्टेशन में प्रवेश दिया जाएगा।

ये भी पढ़ें: सरकार का बड़ा कदम, कर्मचारियों की छंटनी रोकने को कंपनियों को देगी राहत

लॉकडाउन के बीच सड़क पर निकलीं ममता, चलती गाड़ी से किया ये काम

हाकिम से रोटी की गुहार, भूख से बिलबिलाते बच्चों को लेकर तहसील पहुंचे मजदूर

Ashiki

Ashiki

Next Story