×

रन फॉर यूनिटी: बोले अमित शाह, सरदार पटेल के इस सपने को BJP ने पूरा किया

गृहमंत्री अमित शाह ने सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर गुरुवार को देश भर में राष्ट्रीय एकता दिवस मनाया जा रहा है। साथ ही इस अवसर पर अमित शाह ने रन फॉर यूनिटी को हरी झंडी भी दिखाई।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 31 Oct 2019 4:33 AM GMT

रन फॉर यूनिटी: बोले अमित शाह, सरदार पटेल के इस सपने को BJP ने पूरा किया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: गृहमंत्री अमित शाह ने सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर गुरुवार को देश भर में राष्ट्रीय एकता दिवस मनाया जा रहा है। साथ ही इस अवसर पर अमित शाह ने रन फॉर यूनिटी को हरी झंडी भी दिखाई।

गृहमंत्री ने इस मौके पर दिल्ली के मेजर ध्यानंद स्टेडियम में लोगों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल ने देश को एकजुट करने का काम किया है। बीजेपी ने अनुच्छेद 370 हटाकर देश को एक करने का काम किया है। सरदार पटेल के जो कुछ सपने अधूरे थे उन्हें बीजेपी ने पूरा किया है।

यह भी पढ़ें...PM मोदी ने स्टैचू ऑफ यूनिटी पर सरदार पटेल को दी श्रद्धांजलि, दिलाई एकता की शपथ

अमित शाह ने कहा कि देश की आजादी के बाद 550 से ज्यादा रियासतों में देश को बांटने का काम अंग्रेजों ने किया था। पूरा देश और दुनिया मानती थी कि भारत को आजादी तो मिली लेकिन भारत बिखर जाएगा। लेकिन सरदार वल्लभ भाई पटेल ने एक के बाद रियासत को देश के साथ जोड़ने का काम किया।

इस मौके पर अमित शाह ने कहा कि सरदार पटेल ने 550 से ज्यादा रियासतों को एक करके देश को अखंड बनाया परन्तु एक कसक छूट गयी थी जम्मू और कश्मीर, जम्मू और कश्मीर का भारत के साथ विलय तो हुआ मगर अनुच्छेद 370 और 35A के कारण जम्मू और कश्मीर हमारे लिए जैसे एक समस्या बनकर रह गया।

यह भी पढ़ें...पाकिस्तान में मौत का तांडव! आग में जले 16 की दर्दनाक मौत, ट्रेन में बड़ा हादसा

अधूरा सपना पूरा किया

उन्होंने कहा कि 70 साल हो गए लेकिन किसी ने अनुच्छेद 370 को छूना भी मुनासिब नहीं समझा, 2019 में देश की जनता ने फिरसे एक बार मोदी जी को देश का प्रधानमंत्री बनाया और 5 अगस्त को देश की पार्लियामेंट ने 370 और 35A को हटाकर सरदार साहब का अधूरा स्वप्न पूरा करने का काम किया।

यह भी पढ़ें...देश की पहली महिला PM इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि आज, जानिए रोचक बातें

बता दें कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख अब एक केंद्र शासित प्रदेश हैं। पहले जम्मू-कश्मीर का ही हिस्सा लद्दाख भी था लेकिन अब दोनों अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश बन गए हैं। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख गुरुवार से केंद्र शासित प्रदेश बन गए हैं।

भारत सरकार ने 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 को हटा दिया था। 31 अक्टूबर यानी आज से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दो अलग राज्य बन गए हैं। अब राज्य में संसद के बने कई कानून लागू हो सकेंगे।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story