CAA से सब अस्त-वस्त: प्रदर्शनकारियों ने पुलिस-कोर्ट को किया अनदेखा

नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी को लेकर दिल्ली के शाहीन बाग़ में प्रदर्शनकारी जमा हुए हैं और सीएए व एनआरसी के विरोध में आंदोलन लगातार जारी है।

Published by Shivani Awasthi Published: January 15, 2020 | 2:35 pm
Modified: January 15, 2020 | 2:39 pm

Shaheen Bagh

दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी को लेकर भारत में विरोध प्रदर्शन कम होने का नाम नहीं ले रहा। इसी कड़ी में दिल्ली के शाहीन बाग़ में प्रदर्शनकारी जमा हुए हैं और सीएए व एनआरसी के विरोध में आंदोलन कर रहे हैं। इस आंदोलन में दिल्ली-पंजाब समेत दूर दराज से लोग एकत्र हुए हैं। वहीं प्रदर्शन को खत्म करने को लेकर भाजपा दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने एक वीडियो भी जारी किया। जिसमें उन्होंने प्रदर्शन को खत्म करने की अपील की है।

सीएए और एनआरसी के विरोध में शाहीन बाग़ में प्रदर्शन:

बता दें कालिंदी कुंज-शाहीन बाग रोड पर पिछले एक महीने से हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी बैठे हैं, इनमें अधिकतर महिलाएं हैं। ये विरोध केंद्र सरकार के द्वारा लागू किए गए नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ है। इसी कड़ी में
शाहीन बाग में प्रदर्शन अभी भी जारी है और अब बाहर से भी यहां पर लोग प्रदर्शन में शामिल हो रहे हैं। बुधवार को पंजाब से भारतीय किसान यूनियन के कई प्रदर्शनकारी यहां पर पहुंचे है।

ये भी पढ़ें: निर्भया के दोषियों को मिला वक्त, 22 जनवरी को नहीं होगी फांसी

दिल्ली हाईकोर्ट ने दिए थे प्रदर्शनकारियों को हटाने के आदेश:

मंगलवार को हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस और केंद्र सरकार को आदेश दिया था कि वह जनहित के अनुसार फैसला ले और कानून व्यवस्था को लागू करे।

कोर्ट के आदेश के बाद दिल्ली पुलिस शाहीन बाग की गलियों में जाकर दिनभर महिलाओं को सड़क खाली करने के लिए मनाने में जुटी रही। पुलिस मंच तक पहुंची तो महिलाओं ने एलान कर दिया कि वे किसी भी हालत में यहां से नहीं उठेंगी।

ये भी पढ़ें: लोग मचाते रह गए शोर, यूनिवर्सिटी ने शुरू किया Article 370 और CAA पर कोर्स

मनोज तिवारी ने जारी किया वीडियो:

धरने से न हटने के बाद दिल्ली के बीजेपी प्रमुख मनोज तिवारी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से एक वीडियो जारी किया, जिसमें उन्होंने शाहीन बाग में CAA-NRC के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों से हटने के लिए अपील की।

मनोज तिवारी में लोगों के आवाजाही में होने वाली परेशानी का भी जिक्र किया। इतना ही नहीं, उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भी हमला किया।

ये भी पढ़ें: CAA: मणिशंकर का विवादित बयान, कहा- देखते हैं किसका हाथ मजबूत, हमारा या कातिलों का