COP 14 : क्लाइमेट चेंज एक चिंतित विषय, 10 साल में बंजर जमीनें बनेंगी उपजाऊ

इस बार भारत को कांफ्रेंस ऑफ द पार्टीज की मेजबानी मिली है। यह कार्यक्रम 2 सितंबर से शुरू हुआ है और 13 सितंबर तक चलेगा। इसमें दुनियाभर के वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।

Published by Manali Rastogi Published: September 9, 2019 | 1:18 pm
Modified: September 9, 2019 | 1:21 pm
COP 14 : क्लाइमेट चेंज एक चिंतित विषय, 10 साल में बंजर जमीनें बनेंगी उपजाऊ

COP 14 : क्लाइमेट चेंज एक चिंतित विषय, 10 साल में बंजर जमीनें बनेंगी उपजाऊ

नोएडा: कॉन्फ्रेंस ऑफ द पार्टीज यानी COP 14 अधिवेशन को आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संबोधित दिया। ग्रेटर नोएडा के इंडिया मार्ट एंड एक्सपो में आयोजित इस अधिवेशन में पीएम ने कई मुद्दों पर बातचीत की। इस अधिवेशन में जलवायु परिवर्तन, जैव विविधता और बढ़ते रेगिस्तान को लेकर चर्चा की गई।

यह भी पढ़ें: दंगल गर्ल की बेज्जती: फिर पकड़ी वहीं राह, कभी धर्म के नाम पर छोड़ा था बॉलीवुड

COP 14 कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि धरती भारत के संस्कारों में पवित्र है। हम धरती से हर सुबह जमीन पर पैर रखने से पहले माफी मांगते हैं। पीएम मोदी ने ये भी बोला कि आज पूरी दुनिया को क्लाइमेट चेंज मामले में नकारात्मक सोच का सामना करना पड़ रहा है।

क्लाइमेट चेंज एक बड़ा मुद्दा

पीएम मोदी ने ये भी कहा कि क्लाइमेट चेंज की वजह से समुद्रों का जल स्तर बढ़ रहा है, भारी बारिश और बाढ़ की वजह से लोग परेशान हैं और तूफान भी हर जगह आ रहा है। पीएम ने कहा कि इन्ही मसलों को लेकर तीन बड़े कार्यक्रमों का आयोजन किया गया है, जिसकी मदद से हमारी कोशिशों के बारे में दुनिया को पता लगता है।

यह भी पढ़ें: रामपुर दौरा रद्द होने के बाद अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस। देखें तस्वीरें

पीएम ने ये भी कहा है कि भारत जलवायु परिवर्तन, जैव विविधता और भूमि क्षरण के मसले पर दुनिया में कई कदम उठाने को तैयार है।कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि पानी की समस्या आज दुनिया में काफी बढ़ गई है। ऐसे में पानी बचाने के लिए दुनियाभर को एक एक सेमिनार बुलाने की जरूरत है जहां पर इन मसलों का हल निकाला जा सके। पानी बचाने और इसका सही इस्तेमाल करने की ओर भारत अपना कदम उठा चुका है। भारत ने ग्रीन कवर (पेड़ों की संख्या) को बढ़ाया, 2015-2017 के बीच भारत का जंगल का एरिया बढ़ा है।

सिंगल यूज़ प्लास्टिक पर लगानी होगी रोक

पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया को भी जल्द ही सिंगल यूज़ प्लास्टिक पर रोक लगानी होगी। भारत ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत काफी सफलता पाई है, आज भारत में शौचालयों की संख्या 38 से 99 फीसदी तक पहुंची है। पीएम मोदी ने ऐलान किया कि भारत आने वाले समय में बंजर जमीन को उपजाऊ बनाने की ओर कदम बढ़ा रहा है, भारत 21 मिलियन हेक्टेयर्स से लेकर 26 मिलियन हेक्टयर्स बंजर भूमि को 2030 तक उपजाऊ करेगा।

यह भी पढ़ें: SBI का बड़ा ऐलान: ग्राहकों को मिली खुशखबरी, अब होगा फायदा ही फायदा

पीएम ने जंगलों को लेकर कहा कि अभी हम और भी जंगल के हिस्से को बढ़ाने पर आगे बढ़ रहे हैं। हमारी सरकार किसानों की आय दोगुना करने की ओर बढ़ रही है, इसमें अलग-अलग तरीके से खेती सिखाई जा रही है। पानी की समस्या को लेकर हमने अलग मंत्रालय बनाया है, ताकि सभी का हल किया जा सके। इतना ही नहीं प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल को रोकने की ओर बढ़ चुका है।

यह भी पढ़ें: रेखा-अक्षय रोमांस! बवाल के बाद ट्विंकल ने करना बंद कर दिया ये काम

मालूम हो, इस बार भारत को कांफ्रेंस ऑफ द पार्टीज की मेजबानी मिली है। यह कार्यक्रम 2 सितंबर से शुरू हुआ है और 13 सितंबर तक चलेगा। इसमें दुनियाभर के वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। साथ ही, तमाम इंटरनेशनल मुद्दों पर अपनी राय भी रखी। इसके अलावा अपने अनुभवों और उपायों कों भी साझा किया।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App