बारिश लाई तबाही: जान बचा भाग रहे लोग, अब इन जगहों के लिए जारी हाई अलर्ट

महामारी ने तो देश के ऊपर कहर ढा ही रखा है, और इधर कुदरत की मार से भी हाहाकार मचा हुआ है। पहाड़ों पर तूफानी ताकत ने अपना जंजाल बिछाया हुआ है।

बारिश लाई तबाही: जान बचा भाग रहे लोग, अब इन जगहों के लिए जारी हाई अलर्ट

नई दिल्ली। महामारी ने तो देश के ऊपर कहर ढा ही रखा है, और इधर कुदरत की मार से भी हाहाकार मचा हुआ है। पहाड़ों पर तूफानी ताकत ने अपना जंजाल बिछाया हुआ है। ऐसे में बारिश, बाढ़ और भूस्खलन की वजह से हर तरह अगर कुछ नजर आ रहा है तो वो लोगों की परेशानियां। उत्तराखंड में मानसून ने लोगों को बुरी तरह से अपनी चपेट में ले रखा है। वहीं बाढ़ और भूस्खलन से चारों धाम की यात्राएं पूरी तरह से ठप हो गई है।

ये भी पढ़ें… सेना से घिरेगी रामनगरी: आने-जाने पर रोक, इन सख्त नियमों का करना होगा पालन

लगातार भूस्खलन

इसके साथ ही बदरीनाथ-केदरनाथ मार्ग पर ऋषिकेश के आगे तोता घाटी में 7 जगहों पर सड़कों ने खाई का चोला ओढ़ लिया हैं। इन मुश्किलों की वजह से बीते 7 दिनों में सरकार राष्ट्रीय राजमार्ग 58 पर यातायात शुरू नहीं कर पाई है।

कूदरती आपदाओं की वजह से उत्तराखंड के चमोली में लगातार भूस्खलन हो रहा है। पहाड़ों से मलबा एक बार फिर एनएच-58 पर आ गिरा है। भूस्खलन से बदरीनाथ-हरिद्वार रोड बंद हो गई और वहां से आ-जा रही गाड़ियां फंस गईं हैं।

उत्तराखंड के चमोली में लगातार भूस्खलन
उत्तराखंड के चमोली में लगातार भूस्खलन

ये भी पढ़ें…बैंकों में बड़ा बदलाव: मोदी सरकार करेगी ऐलान, अब होगा इनका निजीकरण

जान जोखिम में डालकर नदी पार कर सके

यहां के ईराणी और झिंझी ग्राम पंचायत क्षेत्र में पैदल पुलिया गुरुवार देर रात बारिश के पानी में बह गई। कई लोग जान जोखिम में डालकर नदी पार कर सके हैं।

दूसरी तरफ टिहरी के खेड़ा गांव में बारिश के बीच पहाड़ दरकने से एक घर पूरी तरह से मलबे में तब्दील हो गया। इस मलबे में दबे परिवार के लोगों को रेस्क्यू टीम ने कड़ी मेहनत के बाद बाहर निकाला है। उत्तराखंड में शुक्रवार को 3 लोगों की मौत हो गई।

ये भी पढ़ें…बड़ी खुशखबरी: करोड़ों लोगों को मिलेगी राहत, अगस्त में आई खुशियां ही खुशियां

बारिश के बीच पहाड़ दरकन
बारिश के बीच पहाड़ दरकने

यहां हल्की से मध्यम बारिश

ऐसे में स्काइमेट वेदर रिपोर्ट के अनुसार, अगले 24 घंटों में उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, झारखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय, कर्नाटक, गोवा, केरल, आंध्र प्रदेश, लक्षद्वीप और अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ल-एनसीआर, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, बिहार, गुजरात, महाराष्ट्र, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, ओडिशा, और जम्मू-कश्मीर में हल्की बारिश की संभावना जताई जा रही है।

ये भी पढ़ें…अब सुशांत की बहन ने पीएम से मांगा न्याय, मोबाइल फोन बंद करके रिया लापता

4 महीने चलने वाले बरसात

जानकारी देते हुए भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने बताया कि 4 महीने चलने वाले बरसात के दूसरे हिस्से में मॉनसून सामान्य रह सकता है। मतलब अगस्त-सितंबर के दौरान सामान्य बारिश हो सकती है।

आगे IMD ने कहा, ‘मात्रा के आधार पर बात करें तो इस मौसम के दूसरे हिस्से में पूरे देश में एलपीए की 104 प्रतिशत वर्षा हो सकती है जिसमें 8 प्रतिशत कम-ज्यादा की मानक त्रुटि शामिल है।’

ये भी पढ़ें…शिवराज सरकार का खेल! किसान पिटाई केस में हटाए थे अधिकारी, अब दिया तोहफा

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App