गहलोत की बल्ले-बल्ले: समर्थन में आए 109 MLA, पायलट के साथ 16 विधायक

राजस्थान में पिछले कई दिनों से चल रही राजनीतिक उठापटक अब थमती हुई नजर आ रही है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को विधायक दल का समर्थन प्राप्त हो चुका है।

Published by Shreya Published: July 13, 2020 | 6:12 pm
Modified: July 13, 2020 | 6:47 pm

जयपुर: राजस्थान में बीते कई दिनों से चल रही राजनीतिक उठापटक अब थमती हुई नजर आ रही है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को विधायक दल का समर्थन प्राप्त हो चुका है। कांग्रेस विधायक दल ने CM के समर्थन में प्रस्ताव पारित किया है कि बीजेपी के षड्यंत्रकारी मकसदों को कभी पूरा नहीं होने दिया जाएगा। कांग्रेस पूरी तरह से एकजुट है।

अशोक गहलोत को मिला 109 विधायकों का समर्थन

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को 109 विधायकों का समर्थन मिला है। इनमें से 104 वहां पर मौजूद हैं। वहीं पांच ने अपना समर्थन पत्र सौंपा है। वहीं कांग्रेस नेता और राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट की बात करें तो उन्हें केवल 17 विधायक का समर्थन है। वहीं कांग्रेस आलाकमान ने सचिन पायलट को वापस जयपुर लौटने के लिए कहा है।

यह भी पढ़ें: बागी भाजपा विधायक: अपनी ही पार्टी के सांसद पर साधा निशाना, कही ये बड़ी बात

अशोक गहलोत ने किया शक्ति प्रदर्शन

अशोक गहलोत ने सोमवार दोपहर, जयपुर में अपना शक्ति प्रदर्शन किया। उन्होंने मीडिया को अपने आवास में बुलाया है, जहां पर विधायकों की संख्या का शक्ति प्रदर्शन किया गया। इस दौरान अशोक गहलोत ने मीडिया के सामने विक्ट्री साइन दिखाया। मुख्यमंत्री गुट का दावा है कि उनके पास 109 विधायक मौजूद हैं।

पायलट के समर्थन में 17 विधायक

वहीं पायलट के पास 17 विधायकों का समर्थन होने की बात कही जा रही है। ऐसे में सचिन पायलट द्वारा किए जा रहे 30 विधायकों के समर्थन के दावे पर संशय होने लगा है। बता दें कि सचिन पायलट ने दावा किया था कि उनके पास 30 कांग्रेस विधायकों का समर्थन है। हांलाकि पार्टी की तरफ से इस दावे को खारिज कर दिया गया।

यह भी पढ़ें: बन्द हुआ कलेक्ट्रेट: दूर दराज से आने वाले लोगों की बढ़ी मुसीबत, मचा कहर

कांग्रेस के बड़े नेताओं ने की सचिन से बातचीत

वहीं पार्टी ने संदेश भेज सचिन पायलट को कहा है कि हम सभी आपको प्यार करते हैं और आपका सम्मान करते हैं। हम लोग खुले दिल से आपका स्वागत करते हैं। कृपया वापस आ जाइए और बात करिए। वहीं खबर ये भी है कि कांग्रेस के राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, केसी वेणुगोपाल, पी चिदंबरम और अहमद पटेल जैसे बड़े नेताओं ने भी पायलट को मनाने के लिए उनसे बातचीत की है।

यह भी पढ़ें: सरकार में है दमः 27 साल का दफन राज, खुला तो अच्छे अच्छे हों जाएंगे बेनकाब

बारगेनिंग के मूड में नहीं पायलट

कांग्रेस ने सचिन पायलट को जयपुर वापस लौटने के लिए कहा है। ताकि स्थानीय स्तर पर आगे की बातचीत की जा सके। कहा ये भी जा रहा है कि सचिन पायलट अब बारगेनिंग के मूड में हैं। उन्होंने अपने पास प्रदेश अध्यक्ष का पद रखने की शर्त के साथ ये भी मांग की है कि उनके समर्थक मंत्रियों को गृह और वित्त विभाग जैसे पोर्टफोलियो दिए जाएं।

डीके शिवकुमार का दावा कांग्रेस नहीं छोड़ेंगे पायलट

राजस्थान में चल रहे सियासी भूचाल के बीच कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने सोमवार को सचिन पायलट को सच्चा कांग्रेसी बताते हुए, सभी को आश्वस्त किया है कि सचिन पायलट कांग्रेस छोड़कर नहीं जाएंगे। डीके शिवकुमार का बीजेपी पर आरोप है कि भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस को अस्थिर करने की कोशिश की है।

यह भी पढ़ें: माई गवर्नमेंट: आ गया कोरोना हेल्प डेस्क वाट्सएप नंबर, जिलाधिकारी ने दी जानकारी

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।