Top

हैदराबाद रेप केस: पुलिसकर्मियों पर हुई फूलों की वर्षा, महिलाओं ने बांटी मिठाई

हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या के बाद चारों आरोपियों की पुलिस एनकाउंटर में मौत हो गई है। इसके बाद तेलंगाना में महिलाओं ने एनकाउंटर करने वाले पुलिसकर्मियों को मिठाई खिलाई और फूल बरसाए।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 6 Dec 2019 6:03 AM GMT

हैदराबाद रेप केस: पुलिसकर्मियों पर हुई फूलों की वर्षा, महिलाओं ने बांटी मिठाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या के बाद चारों आरोपियों की पुलिस एनकाउंटर में मौत हो गई है। इसके बाद तेलंगाना में महिलाओं ने एनकाउंटर करने वाले पुलिसकर्मियों को मिठाई खिलाई और फूल बरसाए।

सोशल मीडिया में इस एनकाउंटर पर का जश्न मनाते हुए वीडियो देखने को मिल रहा है। पूरे राज्य में इस वक्त जश्न का माहौल है। साथ ही पुलिसकर्मियों को कंधे पर बिठाते हुए जनता ने हैदराबाद पुलिस जिंदाबाद के नारे लगाए।

हैदराबाद रेप केस के चारों आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया है। इस एनकाउंटर को साइबराबाद पुलिस कमिश्नर सज्जनार और उनकी टीम ने मिलकर अंजाम दिया है।

चारों आरोपियों के मारे जाने के बाद साइबराबाद पुलिस कमिश्नर सज्जनार की पूरे देश में काफी प्रशंसा हो रही है। सोशल मीडिया पर उनकी तस्वीरें वायरल हो रही हैं। आइये जानते हैं कि पुलिस कमिश्नर सज्जनार और उनके एनकाउंटर के बारे में।

कौन है सज्जनार?

साइबराबाद पुलिस के कमिश्नर वी. सी. सज्जनार एनकाउंटर स्पेशलिस्ट माने जाते हैं। सज्जनार 1996 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं और इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (स्पेशल इंटेलिजेंस ब्रांच) के रूप में भी काम कर चुके हैं। इन्हें एनकाउंटर मैन के नाम से भी जाना जाता है।

ये भी पढ़ें...हैदराबाद गैंगरेप: सभी आरोपी एनकाउंटर में ढेर, पीड़िता के पिता समेत जानें किसने क्या कहा

दिशा केस, 2019

हैदराबाद में बीते दिनों जब महिला डॉक्टर दिशा (बदला हुआ नाम) के साथ रेप और फिर जिंदा जलाने की घटना आई तो पूरे देश को झकझोर गया। लेकिन आठ दिन के अंदर पुलिस के साथ हुई एक मुठभेड़ में इन चारों आरोपियों को ढेर कर दिया गया।

ये भी पढ़ें...हैदराबाद गैंगरेप: केस नहीं लड़ेंगे वकील, पीड़िता की मां ने कहा-दोषियों को जिंदा जला दो

वारंगल केस

तेलंगाना के वारंगल में इससे पहले जब एक कॉलेज गर्ल के ऊपर तेजाब छिड़का गया था, तब भी वहां पर काफी विवाद हुआ था। लेकिन कुछ ही समय बाद 3 आरोपियों को एनकाउंटर में ढेर कर दिया गया था।

ये मामला 2008 का था, हिरासत में रहने के दौरान तीनों आरोपियों पर पुलिस वालों पर हमला कर दिया था लेकिन बाद में पुलिस के साथ एनकाउंटर में आरोपी ढेर हो गए।

सिर्फ रेप आरोपी ही नहीं बल्कि उन्होंने कई माओवादियों के एनकाउंटर में भी वह टीम का हिस्सा रहे थे। हैदराबाद में बतौर पुलिस कमिश्नर उन्होंने डेढ़ साल पहले ही कमान संभाली थी।

हालांकि, अभी इस एनकाउंटर की मजिस्ट्रेट जांच होनी बाकी है, क्योंकि हर पहलू को देखा जाएगा कि क्या एनकाउंटर करना जरूरी था या नहीं। आपको बता दें कि हैदराबाद में 27 नवंबर को स्कूटी से जा रही महिला डॉक्टर के साथ चार आरोपियों ने रेप किया था और उसके बाद उसे जिंदा जला दिया था।

ये भी पढ़ें...हैवानियत ही हैवानियत! हैदराबाद के बाद अब रूस में, मर्डर कर लाश के साथ किया रेप

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story