कोरोना से भी खतरनाक वायरस: पूरी दुनिया को लिया था चपेट में, गई थी लाखों जानें

चीन को बुरी तरह से पश्त करने के बाद जानलेवा कोरोना वायरस दूसरे देशो में भी अपने पैर पसार चुका है। कोरोना वायरस दुनिया के 73 देशों को अपना शिकार बना चुका है।

लखनऊ: चीन को बुरी तरह से पश्त करने के बाद जानलेवा कोरोना वायरस दूसरे देशो में भी अपने पैर पसार चुका है। कोरोना वायरस दुनिया के 73 देशों को अपना शिकार बना चुका है। इस जानलेवा वायरस की वजह से चीन में वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) ने हेल्थ इमरजेंसी लागू कर दी थी। आज हम आपको ऐसी 5 बीमारियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके चलते पूरी दुनिया में हेल्थ इमरजेंसी लागू की जा चुकी है।

स्वाइन फ्लू

साल 2009, अप्रैल में H1N1 यानि स्वाइन फ्लू के चलते भी हेल्थ इमरजेंसी लागू हुई थी। ये बीमारी मेक्सिको से फैली थी। हालांकि इसका इलाज ढूंढ निकाला गया है, लेकिन अभी तक दुनिया के कई देशों में इसका असर देखने को मिलता है। इसका इलाज मौजूद है।

यह भी पढ़ें: गया था चिड़ियाघर घूमने: हुआ ऐसा हाल, सात पुश्ते रखेंगी याद

इबोला वायरस

जानलेवा कोरोना की ही तरह इबोला वायरस ने खूब तहलका मचाया था। इस वायरस के चलते दुनिया में हेल्थ इमरजेंसी लागू करनी पड़ी थी। सबसे पहले इस वायरस के लक्षण साल 2014 में पश्चिमी अफ्रीका के गुयाना में देखे गये थे। फिर साल 2018 में इबोला वायरस डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो से फैला। अभी तक इसकी दवाई पर प्रयोग जारी है।

पोलियो

पोलियो एक ऐसी बीमारी है जिसने दुनिया भर के कई देशों को बुरी तरह प्रभावित किया। पोलियो ने इतनी तेज अपने पैर पसारे थे कि साल 2014 में इसके चलते हेल्त इमरजेंसी लागू करनी पड़ी। जब मीडिल ईस्ट से दुनिया में पोलिया फैला तो स्वास्थ्य इमरजेंसी लगाई। इसका इलाज मौजूद है।

यह भी पढ़ें: कोरोना के इस झूठ से न हों परेशान, स्वास्थ्य मंत्री ने बताई हकीकत

जीका वायरस

वहीं दो साल पहले 17 जुलाई 2018 में जीका वायरस की वजह से पूरी दुनिया में मेडिकल इमरजेंसी लगाई गई थी। जीका वायरस ब्राजील से फैला था। अभी तक इस वायरस के लिए कोई भी दवाई नहीं बनाई जा सकी।

कोरोना वायरस

 

वहीं दुनिया भर में हाहाकार मचाने वाला वायरस कोरोना ने कईयों की जिंदगी ले ली। ये वायरस सबसे पहले वुहान शहर से फैला है। इसके लेकर 31 जनवरी 2020 को WHO ने ग्लोबल इमरजेंसी घोषित कर दी थी। आज दुनिया के करीब 73 देशों में इसका असर देखने को मिल रहा है। अभी तक इसका इलाज ढूंढा जा रहा है।

यह भी पढ़ें: भारत ने चीन-पाकिस्तान की चालबाजी को किया बेनकाब, रच रहें थे खतरनाक साजिश

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App