Top

प्लेन हाईजैक: जब टंडन जी ने बेखौफ हाईजैकर से छुआए अटलजी के पैर

एक बार अटल जी गेस्ट हाउस में डिनर कर रहे थे और रात में उनको दिल्ली वापस जाना था. अटल जी जिस कमरे में बैठे थे उसके बाहर वाले कमरे में लालजी टंडन और कुछ अन्य नेता बैठे थे.

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 21 July 2020 7:02 AM GMT

प्लेन हाईजैक: जब टंडन जी ने बेखौफ हाईजैकर से छुआए अटलजी के पैर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नील मणि लाल

लखनऊ: अटल बिहारी वाजपेयी और लालजी टंडन से जुड़ा एक वाकया एक विमान की हाईजैकिंग से सम्बन्धित है. दरअसल, अटल बिहारी वाजपेयी जब भी लखनऊ आते थे तो मीराबाई मार्ग स्थित स्टेट गेस्ट हाउस में रुकते थे. एक बार अटल जी गेस्ट हाउस में डिनर कर रहे थे और रात में उनको दिल्ली वापस जाना था. अटल जी जिस कमरे में बैठे थे उसके बाहर वाले कमरे में लालजी टंडन और कुछ अन्य नेता बैठे थे.

जारी है ऑपरेशन क्लीनः चौथे दिन गोतस्करों से मुठभेड़, पैर में लगी गोली, साथी फऱार

ये है पूरा वाक्य

अचानक लखनऊ के तत्कालीन डीएम और गवर्नर मोतीलाल वोरा के सलाहकार वहां पहुंचे. ये लोग घबराये हुए थे. इन अफसरों ने लालजी टंडन से कहा कि तत्काल अटलजी से मुलाकात करनी है. ये कहते हुए दोनों अफसर अटल जी के कमरे में दाखिल हो गए. उन्होंने अटल जी से कहा कि अमौसी अही अड्डे पर एक युवक ने एक विमान हाइजैक कर लिया है और उसके हाथ में बम जैसी कोई चीज है. वो युवक कह रहा है कि अगर अटल बिहारी वाजपेयी आ जाएँ तो वह सभी यात्रिओं को छोड़ देगा.

अफसरों ने अटल जी से आग्रह किया कि वे हवाई अड्डे चल चलें. अटल जी ये सुनते ही चल पड़े और एक कार में बैठ कर अटलजी, लालजी टंडन और अन्य लोग अमौसी पहुंचे. सीधे सभी लोग विमान तक गए.

फर्जी डॉक्टरः एटा में दो डॉक्टरों की जंग, कौन है असली का मामला

युवक ने लालजी टंडन को पहचाना

सबसे पहले लालजी टंडन जहाज के नीचे पहुंचे और उस युवक को अपना परिचय दिया. उस युवक ने लालजी टंडन को पहचान लिया. जब लालजी टंडन को कोई खतरे की बात नहीं महसूस हुई तो उन्होंने अटलजी के साथ विमान के भीतर जाने की बात कही. इसके बाद दोनों लोग सबसे पहले विमान में दाखिल हुए. पीछे पीछे अन्य अफार भी आ गए.

जब अटल जी विमन में पहुंचे तो लालजी टंडन ने उस युवक से कहा, अटलजी इतनी दूर से तुमसे मिलने आये हैं. इनके पैर तो छू लो. ये सुनते ही उस युवक ने अटल जी के पैर छुए.लालजी टंडन का ये किस्सा काफी मशहूर हुआ था और स्वयं लालजी टंडन बातचीत में इसका जिक्र करते थे.

कंपनियों को भाया ये कल्चरः स्थायी हो सकता है वर्क फ्राम होम, हो जाएं तैयार

Newstrack

Newstrack

Next Story