Top

भारत के हाथ से मैच फिसला, बांग्लादेश ने जीता अंडर-19 वर्ल्ड कप

अंकोलेकर की गेंद पर रकीबुल ने सिंगल लेकर क्रिकेट इतिहास में बांग्लादेश की टीम को पहली बार वर्ल्ड चैं‌पियन बना दिया है। बांग्लादेश ने भारत को तीन विकेट से हरा दिया।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 9 Feb 2020 4:29 AM GMT

भारत के हाथ से मैच फिसला, बांग्लादेश ने जीता अंडर-19 वर्ल्ड कप
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुंबई: सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड को छह विकेट से हराकर आईसीसी अंडर-19 विश्व कप के फाइनल में पहुंची टीम बांग्लादेश का सामना टीम इंडिया से हुआ। टीम बांग्लादेश पहली बार फइनल में पहुंची थी। बांग्लादेश ने दूसरे सुपर लीग सेमीफाइनल में गुरुवार को न्यूजीलैंड को 6 विकेट से हराकर फाइनल में अपनी जगह बनाई थी ।

आज पहली बार भारत और बांग्लादेश अंडर 19 वर्ल्ड कप फाइनल में रिकॉर्ड पांचवीं बार खिताब जीतने के लिए कड़ी पोटचेफ्स्ट्रूम में यह फाइनल भारतीय समयानुसार दोपहर 1:30 बजे शुरू हुआ था। भारत की 2018 की विजेता टीम में पृथ्वी शॉ और शुभमन गिल थे जो सीनियर टीम में जगह बनाने में कामयाब रहे तो प्रेजेंट टीम में यशस्वी जायसवाल, स्पिनर रवि बिश्नोई और तेज गेंदबाज कार्तिक त्यागी हैं, जो इस टूर्नामेंट के बाद स्टार बन गए।

बांग्लादेश ने भारत को तीन विकेट से हराया

बांग्लादेश ने भारत को तीन विकेट से हराकर क्रिकेट इतिहास में पहली बार वर्ल्ड चैंपियन का ताज अपने सिर पर सजा लिया है। डकथर्व लुइस के बाद बांग्लादेश को जीत के लिए 170 रन की जरूरत थी, जिसे बारिश रुकने के बाद उन्होंने आसानी से हासिल कर लिया।

बांग्लादेशी टीम ने शुरुआत शानदार की ‌थी और बिना किसी नुकसान के 50 रन बना लिए थे, मगर इसके बाद रवि बिश्नोई ने चार विकेट लेकर विपक्षी टीम को 65 रन पर चार झटके दे द‌िए थे और इसके बाद टीम की उम्मीदें भी जिंदा हो गई थी।

मगर जब भारत जीत की ओर बढ़ रहा था, उस समय परवेज हुसैन वापस में मैदान पर आ गए, जो पहले रिटायर्ड हर्ट होकर चले ‌थे और उन्होंने अकबर अली के साथ मिलकर मुकाबला बांग्लादेश के पक्ष में कर दिया।

बांग्लादेश को जब परवेज के रूप में 7वां झटका लगा, तब तब टीम ने 143 रन बना लिए थे और अकबर अली मैदान पर ही ‌थे। हालांकि जब टीम को 15 रन की जरूरत थी तो बारिश के कारण मुकाबला रोकना पड़ा। उस समय तक डकवर्थ लुइस के आधार पर बांग्लादेश भारत से 16 रन आगे ‌था।

ये भी देखें : प्रमोशन में आरक्षण का मुद्दा गरमाया! SC के फैसले पर LJP और कांग्रेस ने उठाए सवाल

डकवर्थ लुइस नियम के आधार पर बांग्लादेश को अब 170 रनों का लक्ष्य दिया गया है और वह अब सात रन दूर हैं।

बारिश के कारण मुकाबला रूक गया है। मैदान पर कवर्स आ गए हैं। डकवर्थ लुइस नियम के आधार पर बांग्लादेश 16 रन आगे है और अगर अब खेल नहीं भी होता है तो वह चैंपियन बन जाएगी। मौसम को लेकर अंपायर चर्चा कर रहे हैं। आसमान में काले बादल छा गए हैं

मगर यशस्वी ने 40वें ओवर में पांच रन दे दिए। बांग्लादेश के पक्ष में मुकाबला जाता दिख रहा है।

भारत को एक और विकेट की जरूरत है और इसीलिए अटैक पर प्रियम गर्ग आए हैं।

आकाश सिंह की गेंद पर अकबर अली ने स‌िंगल लिया और इसी के साथ बांग्लादेश के 150 रन पूरे हो गए हैं। मुकाबला काफी रोमांचक हो गया है। जहां बांग्लादेश को जीत के लिए 28 रन चाहिए, वहीं भारत को तीन विकेट की जरूरत है।

गेंदबाजों की ओर से शानदार गेंदबाजी, पिछले 20 गेंदों में एक भी रन नहीं दिया गेंदबाजों ने।

रवि बिश्नोई के 10 ओवर पूरे हो चुके हैं और उन्होंने तीन मेडन सहित 30 रन देकर चार बड़े वि‌केट लिए। बिश्नोई ने मुकाबले में भारत की वापसी करवाई और पूरा मैच ही पलट के रख दिया।

बड़ी सफलता, बल्ले से कमाल दिखाने के बाद अब यशस्वी जायसवाल ने गेंद से भी कमाल कर दिया। सबसे बड़ा विकेट लिया। 32वें ओवर की आखिरी गेंद पर उन्होंने परवेज को आकाश सिंह के हाथों कैच करवा दिया। परवेज 47 रन पर आउट हुए।

भारत के हाथ से मुकाबला निकलता जा रहा है। अकबर और परवेज ने लगभग मैच का पासा पलट दिया है। हालांकि इस समय भी भारत के पास जीत का मौका है। इसके लिए गेंदबाजों को अकबर और परवेज की साझेदारी को तोड़ना जरूरी है।

ये भी देखें : गुमनामी के अंधेरे में खो गया बिहार के दरभंगा का रामलीला

अविषेक और अकबर अली टीम को पटरी पर लेकर आए गए हैं। 28 ओवर के बाद बांग्लादेश को जीत के लिए बस 50 रन की जरूरत है। परवेज 38 और अकबर 26 रन बनाकर खेल रहे हैं

25 ओवर का खेल हो चुका है और बांग्लादेश ने 6 विकेट के नुकसान पर 110 रन बना लिए हैं। जीत के लिए टीम को 68 रनों की जरूरत है। परवेज हुसैन और अकबर अली क्रीज पर हैं। परवेज वापस से मैदान पर लौट आए हैं, जो हैमस्ट्रिंग के कारण रिटायर्ड हर्ट हो गए थे। परवेज 26 और अकबर 23 रन बनाकर खेल हैं।

अविशेक के विकेट पर सुशांत का ही नाम था। इसीलिए दो बार गेंद छूटने के बाद ओवर की आखिरी गेंद पर सुशांत ने कार्तिक त्यागी के हाथों अविशेक को कैच आउट करवा दिया।

दूसरी बार...एक ही ओवर में दो बार कैच छोड़ा भारत ने... सुशांत की गेंद पर स्लिप पर तिलक वर्मा ने अविशेक का कैच छोड़ दिया।

सुशांत की गेंद पर रवि बिश्नोई ने अविशेक दास का कैच छोड़ दिया। रवि पॉइंट पर थे और मगर दास का तेज तर्रार शॉट उनके हाथों से निकल गया। इसके अगले ही गेंद पर अविशेक ने चौका जड़ दिया।

अटैक पर सुशांत मिश्रा आए और पहली ही गेंद पर शमीम हुसैन को उन्होंने यशस्वी जायसवाल के हाथों कैच करवा दिया। गर्ग ने यहां पर गेंदबाजी में बदलाव किया था, जिसका परिणाम भी आया। हुसैन ने स्वीपर कवर की ओर शॉट लगाया, जहां शानदार फील्डर जायसवाल मौजूद थे, उन्होंने डीप से आगे की ओर डाइव लगाई और बेहतरीन कैच लपक लिया।

85 रन बनाकर आधी टीम हुई बोल्ड

अंकोलेकर का काफी महंगा ओवर। पहले उन्होंने वाइड गेंद से बांग्लादेश को गिफ्ट में पांच रन दे द‌िए और फिर ओवर की आखिरी गेंद पर अकबर अली ने मिड विकेट के ऊपर से छक्का जड़ दिया। इस ओवर में बांग्लादेश ने कुल 12 रन जोड़े।

रवि बिश्नोई ने मुकाबले में भारत की वापसी करवा दी है। उन्होंने शहादत हुसैन को अपना चौथा शिकार बनाया। जहां एक समय बांग्‍लादेश का स्कोर बिना किसी नुकसान के 50 रन था, वहीं अब टीम का स्‍कोर चार विकेट पर 65 रन है। शानदार। बिश्नोई की गेंद को हुसैन ने आगे निकलकर हिट गया, मगर उनके बल्ले का अंदरुनी किनारा लगा, गेंद विकेटकीपर के हाथों में, जब तक वह वापस क्रीज में आते, तब तक तो विकेटकीपर ने बेल्स गिरा दी।

इस समय तो पूरे स्टेडियम में सिर्फ एक ही नाम सुनाई दे रहा है... बिश्नोई...बिश्नोई, हो भी क्यों न, एक समय मुकाबले में बांग्लादेश हावी दिख रही थी और इस समय बिश्नोई ने 62 रन पर विपक्षी टीम को तीसरा झटका दे दिया। बिश्नोई ‌ने तौहीद को एलबीडब्‍ल्यू किया।

ये भी देखें : दिल्ली चुनाव में 62.59% मतदान, EC ने बताया- आंकड़े बताने में क्यों हुई देरी

बांग्लादेश को परवेज के रूप में एक और झटका लगा। वह रिटायर्ड हर्ट हो गए हैं। वह दर्द से जूझ रहे थे और उन्हें मजबूरन मैदान से बाहर जाना पड़ा। अब क्रीज पर दोनों नए बल्लेबाज हैं। सलामी बल्लेबाज परवेज 25 रन पर रिटायर्ड हर्ट हुए।

रवि बिश्नोई ने भारत की उम्मीदें जगा दी है। 13वें ओवर की 5वीं गेंद पर उन्होंने महमुदुल को बोल्ड कर दिया। 62 रन पर बांग्लादेश को दूसरा झटका। भारत को इस विकेट की सख्त जरूरत थी, बिश्नोई का आक्रामक जश्न, वहीं परवेज ग्राउंड पर लेट गए हैं, उन्होंने अपने हाथों से आंखों को बंद कर लिया है। शायद उनके पैर में क्रैंप आ गया है। फीजियो उनकी जांच कर रहे हैं।

अटैक पर महमुदुल हसन आए और उन्होंने आकाश सिंह की गेंद पर मिड ऑफ और कवर के बीच से चौका जड़कर खाता खोला।

आखिरकार भारत को पहली सफलता मिल ही गई। बिश्नोई ने हसन को कार्तिक त्यागी के हाथों कैच करवा दिया। बिश्नोई की गेंद पर हसन ने हवा में शॉट खेला, जो सीधा त्यागी के हाथों में। हसन ने 17 रन बनाए।

पहले भारतीय बल्लेबाजों ने खराब प्रदर्शन किया और अब गेंदबाज भी निराश कर रहे हैं। बिश्नोई की गेंद पर हसन ने मिड विकेट के ऊपर से छक्का लगाया और इसी के साथ बांग्लादेश के 50 रन पूरे हो गए हैं।

छठें ओवर में आकाश सिंह की पांचवीं गेंद पर परवेज ने मिड विकेट के ऊपर से चौका लगाया। हालांकि इस शॉट के बाद उनका बल्ला निचले हिस्से से टूट गया है।

अटैक पर आकाश सिंह आए हैं और बांग्‍लादेश की ओपनिंग जोड़ी को तोड़ने के लिए लगातार कोशिश कर रहे हैं।

बांग्लादेश ने काफी शानदार शुरुआत की है। 5 ओवर के खेल में बांग्लादेश ने बिना किसी नुकसान के 29 रन बना लिए हैं. परवेज और तनजीद दोनों 9 रन बनाकर खेल रहे हैं।

यहां पर भारत के पक्ष में कुछ भी सही जाता नहीं दिख रहा है. पहले तो सुशांत मिश्रा ने नो बॉल फेंककर विपक्षी टीम को फ्री हिट दे दी और दूसरी तरफ नो बॉल पर खराब विकेटकीपिंग और गेंद बाउंड्री तक चली गई।

ये भी देखें : रो पड़े सलमान: शादी कर शिल्पा ने ये क्या पूछ लिया भाईजान से

कार्तिक त्यागी ने तीसरे ओवर की आखिरी गेंद लो फुल टॉस फेंकी, जिस पर एलबीडब्‍ल्यू की जोरदार अपील की गई। मगर गेंद आउटसाइड लेग थी। कार्तिक त्यागी ने तीसरे ओवर की आखिरी गेंद लो फुल टॉस फेंकी, जिस पर एलबीडब्‍ल्यू की जोरदार अपील की गई। मगर गेंद आउटसाइड लेग थी

कार्तिक त्यागी के ओवर की आखिरी गेंद पर तनजीद ने मिड ऑन और मिड ऑफ के बीच से चौका जड़ा। कार्तिक त्यागी का पहला ओवर काफी महंगा रहा। 13 रन लुटाए भारतीय गेंदबाज ने।

तनजीद के बल्ले से कवर पॉइंट की ओर से तेज तर्रार बाउंड्री, बांग्लादेश की टीम में एक अलग ही आत्मविश्वास नजर आ रहा है।

कार्तिक त्यागी ने वाइड गेंद के साथ अटैक की शुरुआत की। दूसरी गेंद भी वाइड और अतिरिक्त गेंद पर परवेज हुसैन ने डीप की ओर शॉट लगाकर तीन रन जोड़े।

लक्ष्य का पीछा करने के लिए बांग्लादेश के सलामी बल्लेबाज परवेज हुसैन और तनजीद हसन क्रीज पर आ गए हैं। कार्तिक त्यागी भारतीय अटैक की शुरुआत करेंगे।

बांग्लादेश को टीम इंडिया ने दिया 177 रनों का टारगेट

शानदार गेंदबाजी और जबरदस्त फील्डिंग बांग्लादेश की ओर से। तनजीम ने सुशांत को शोरीफुल के हाथों कैच आउट करवा दिया। शोरीफुल का शानदार कैच, सुशांत ने थर्ड मैन की ओर हवा में शॉट मारा था, जहां शोरीफुल ने आगे की ओर डाइव लगाकर कैच लपका। पिछली 13 पारियों में भारत पहली बार ऑल आउट हुआ है।

शानदार गेंदबाजी और जबरदस्त फील्डिंग बांग्लादेश की ओर से. तनजीम ने सुशांत को शोरीफुल के हाथों कैच आउट करवा दिया। शोरीफुल का शानदार कैच, सुशांत ने थर्ड मैन की ओर हवा में शॉट मारा था, जहां शोरीफुल ने आगे की ओर डाइव लगाकर कैच लपका। पिछली 13 पारियों में भारत पहली बार ऑल आउट हुआ है।

45वें ओवर की आखिरी गेंद पर अविशेक दास ने कार्तिक त्यागी को डक करके भारत को नौवां झटका दे दिया। बांग्लादेश की टीम हावी होती दिख रही है। दास ने त्यागी को अकबर अली के हाथों कैच करवा दिया।

भारत की आ‌खिरी उम्मीद अथर्व अंकोलेकर भी तीन रन बनाकर बोल्ड हो गए। अविशेक की गेंद को वह समझ नहीं पाए और बोल्ड हो गए। भारत ने अपने पांच विकेट यहां पर सिर्फ 14 रन पर गंवा दिए। भारत के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं ये।

ये भी देखें : दिल्ली वोटिंग का खुलासा: इसलिए पड़े कम वोट, इनको होगा फायदा

इस बार फिर बल्लेबाजों के बीच आपसी तालमेल की कमी और रवि बिश्नोई रन आउट हो गए। 170 रन पर भारत का सातवां विकेट गिर गया। शोरीफुल की गेंद को अथर्व ने हिट किया और वह सिंगल लेने के लिए दौड़े, मगर रवि बिश्नोई क्रीज में नहीं पहुंच पाए और रन आउट हो गए।

रकीबुल हसन की गेंद पर ध्रुव जुरेल और अथर्व अंकोलेकर के बीच आपसी तालमेल की कमी दिखाई दी। हसन की गेंद पर जुरेल सिंगल लेने के लिए दौड़े, अथर्व ने भी अपने कदमों को आगे बढ़ाया, मगर गेंद को देखते हुए वह वापस क्रीज में लौट आए। मगर तब तक जुरेल भी दूसरे छोर पर पहुंच गए थे। दोनों भारतीय बल्लेबाज एक ही छोर पर आ गए थे, जिससे जुरेल आसानी से रन आउट हो गए। भारत को बड़ा झटका लगा है। ध्रुव सिर्फ 22 रन ही बना पाए।

42वें ओवर के लिए अटैक पर शोरीफुल आए और सभी की नजरें उन पर थी, जो अपनी हैट्रिक बॉल थे। स्ट्राइक पर ध्रुव जुरेल थे, मगर भारतीय बल्लेबाज ने उन्हें हैट्रिक लेने का कोई मौका ही नहीं दिया।

सिद्धेश वीर आते ही पवेलियन लौटे। शोरीफुल इस्लाम ने लगातार दूसरी गेंद पर दूसरा विकेट हासिल किया। बांग्लादेश एक बार फिर मैच में वापसी कर चुका है। सिद्धेश शोरीफुल की गेंद पर बिना खाता खोले एलबीडब्ल्यू हुए।

40वां ओवर में शोरीफुल इस्लाम ने भारत को बड़ा झटका दिया। ओवर की पांचवीं गेंद पर जायसवाल ने तनजीद हसन को कैच थमा बैठे। 121 गेंदों में 88 रन बनाकर जायसवाल वापस लौटे। अपनी इस पारी में उन्होंने आठ चौके और एक छक्का लगाया।

39वें ओवर की चौथी गेंद पर यशस्वी जायसवाल ने चौका लगाया। ओवर की पहली गेंद वाइड रही। इस ओवर में छह रन आए

38वां करने आए शोरीफुल इस्लाम और इस ओवर में केवल पांच रन दिए। यशस्वी 80 रन बनाकर अपने शतक के करीब पहुंच गए हैं

36वें ओवर की आखिरी गेंद पर जायसवाल ने एक बार फिर चौका लगाया। इस बार उन्होंने रकीबुल की गेंद पर कवर्स पर ड्राइव खेली। इस ओवर में सात रन आए

35वां ओवर लेकर आए शमीम हुसैन ने चार दिए। यशस्वी जायसवाल ने पारी को संभालने की जिम्मेदारी ले रखी है

34वें ओवर की पहली गेंद पर यशस्वी जायसवाल ने शानदार शॉट खेला और एक्सट्रा कवर पर चौका लगाया। भारत ने इस ओवर में सात रन हासिल किए

ये भी देखें : कैसे बयां करें हम आपको ये हाल-ए-दिल, तेरे इश्क में डूबने के लिए मैसेज है काफी…..

रकीबुल ने बांग्लादेश के लिए वह काम किया जो वह पूरे टूर्नामेंट में करते आ रहे हैं। 32वें ओवर की तीसरी गेंद पर उन्होंने प्रियम गर्ग को पवेलियन भेजा। कप्तान प्रियम कवर की ओर शॉट खेलना चाहते थे लेकिन गेंद तनजीम हसन ने कैच लपका और उनकी पारी का अंत किया। नौ गेंदों में सात रन बनाकर वह वापस लौटे

29वें ओवर की दूसरी गेंद पर यशस्वी जायसवाल ने लॉन्ग ऑन पर छक्का लगाया। भारत की पारी धीरे धीरे आगे बढ़ रही है

28वें ओवर की तोउहिद हृदय की गेंद पर सिंगल लेकर अपने 50 रन पूरे किए। 89 गेंदों में उन्होंने अर्धशतक जड़ा जिसमें चार चौके लगाए। इस टूर्नामेंट का यह उनका चौथा 50+ स्कोर बनाया है

25 ओवर हो गए हैं भारत की आधी पारी खत्म हो चुकी है लेकिन अब तक टीम केवल 80 रन बना पाई है। बांग्लादेश के गेंदबाजों ने काफी अच्छी गेंदबाजी करते हुए भारतीय बल्लेबाजों को बांधे रखा है। यशस्वी जायसवाल और तिलक वर्मा की अच्छी साझेदारी ने टीम को संभाले रखा है

24वें ओवर की पांचवीं गेंद पर तिलक वर्मा ने बैकवर्ड पॉइंट शॉट खेला और चौका लगाया। इस ओवर में अविशेक दास ने छह रन दिए।

21वां ओवर लेकर आए शोरीफुल इस्लाम और उसमें केवल तीन रन दिए। यशस्वी और तिलक किसी तरह जोखिम नहीं ले रहे हैं लेकिन अब उन्हें तेजी दिखाने की जरूरत है

पहले 10 में केवल 10 रन जोड़ने के बाद अगले 10 ओवर में भारत ने 40 रन बनाए हैं। एक मजबूत साझेदारी की जरूरत थी भारत को और अब उन्हें यशस्वी और तिलक से इसकी उम्मीद है

19वां ओवर लेकर आए शोरीफुल इस्लाम और इस ओवर में केवल दो रन दिए। दोनों बल्लेबाजों के बीच अर्धशतकीय साझेदारी हो चुकी है और उन्हें अब इसे बढ़ाने की जरूरत है

ये भी देखें : नहीं छोड़ेगा कोरोना वायरस: अगर की ये गलतियां तो, भुगतनी पड़ेगी सजा

जायसवाल ने 17वें ओवर की तीसरी गेंद एक बार फिर चौका जड़ा। इस ओवर में शमीम हुसैन ने 11 रन दिए, भारत का रनरेट अब धीरे-धीरे बेहतर हो रहा है

शमीम हुसैन 17वां ओवर लेकर आए और यशस्वी जायसवाल ने चौके के साथ शुरुआत की। जायसवाल ने स्लॉग स्वीप करते हुए मिड विकेट पर शॉट खेला और भारत का स्कोर 50 तक पहुंचाया।

पिछले दस साल में अंडर 19 वर्ल्ड कप में पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम नहीं जीती है, क्या आज भारत यह रिकॉर्ड बदलेगा

बांग्लादेश के सबसे इन-फॉर्म रकिबुल हसन अपना पहला ओवर लेकर आए उसमें उन्होंने केवल दो रन दिए।

भारतीय टीम फिलहाल 2।77 के रनरेट से रन बना रही है। उन्हें अब थोड़ी तेजी से रन जोड़ने की जरूरत है। तिलक और यशस्वी 38 गेंदों में 27 रनों की साझेदारी कर चुके हैं

10 ओवर का खेल खत्म हो चुका है। भारत ने दिव्यांश का विकेट खोकर 23 रन बनाए हैं। बांग्लादेशी गेंदबाजों ने अब तक भारतीय बल्लेबाजों को खुलकर खेलने का मौका नहीं दिया है।

नौवें ओवर की पांचवीं गेंद पर जायसवाल ने चौका लगाया, शानदार टायमिंग के साथ उन्होंने मिड ऑन पर शॉट खेला। इस ओवर में छह रन आए

तिलक वर्मा के पैर की स्ट्रैपिंग की जा चुकी है वह क्रीज से बाहर नहीं गए हैं और बल्लेबाजी कर रहे हैं। भारत के लिए औऱ मुश्किल बढ़ा सकते हैं

भारत के तिलक मुश्किल में पड़ गए हैं। ओवर की तीसरी गेंद पर तिलक ने शॉट खेला और रन ले रहे थे तभी गेंद जाकर उनके घुटने पर लगी और वह नीचे गिर गए। फीजियो आए हैं क्रीज पर लेकिन तिलक बहुत दर्द में दिख रहे हैं

आठवें ओवर की चौथी गेंद पर यशस्वी जायसवाल ने चौका लगाया। यह भारत की पारी का पहला चौका है दबाव हटाने के लिए भारत को बड़े शॉट लगाने की जरूरत है

धीमी शुरुआत के बाद भारत को बड़ा झटका लगा और दिव्यांश सक्सेना आउट हो गए। ओवर की चौथी गेंद पर सक्सेना ने महमुदुल हसन को कैच दिया और पवेलियन लौट गए। 17 गेंदों में 2 रन बनाकर वह आउट हुए। भारत अब बैकफुट पर आ गया है

ये भी पढ़ें:शहीद हुआ भारतीय जवान, तो सेना ने पाकिस्तान का कर दिया ये हाल

सेमीफाइनल में भारत ने PAK को दी थी मात

रिजल्ट जो भी हो, भारत ने अंडर 19 स्तर पर अपना दबदबा स्थापित कर दिया है। सेमीफाइनल में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को दस विकेट से हराने वाली भारतीय टीम 2000 के बाद सातवां फाइनल खेलेगी, जब उसने पहला खिताब जीता था। अंडर 19 स्तर पर सफलता सीनियर स्तर पर कामयाबी की गारंटी नहीं होती क्योंकि सभी खिलाड़ी जूनियर से सीनियर स्तर के बदलाव में लय कायम नहीं रख पाते।

उन्मुक्त चंद की कप्तानी में भारत ने 2012 में खिताब जीता था, लेकिन वो सीनियर स्तर पर चल नहीं सके। अब उत्तराखंड की रणजी टीम में भी वह अंतिम एकादश में जगह बनाने के लिए जूझ रहे हैं। दूसरी ओर शॉ और गिल ने सीनियर स्तर पर भी पहचान बनाई।

कल के हीरो साबित होंगे आज के युवा

भारत ही एक ऐसी टीम है, जिसने हर अंडर 19 विश्व कप में नई टीम उतारी है। यहां प्रतिभाओं की कमी नहीं है और बुनियादी ढांचा दुरुस्त है। भारत के अंडर 19 फील्डिंग कोच अभय शर्मा ने कहा,'टीम की सफलता का सबसे बड़ा कारण है कि हम एक क्रिकेटर को एक ही विश्व कप खेलने देते हैं। दूसरी टीमों में ऐसे क्रिकेटर हैं जो पिछला विश्व कप भी खेले हैं।'

ये भी पढ़ें:कोरोना वायरस पर बड़ा आदेश: देश में इन भारतीयों की एंट्री बैन

भारत और बांग्लादेश आमने-सामने

भारतीय टीम ने अंडर 19 वर्ल्ड कप से पहले दुनियाभर में 30 मैच खेले। दक्षिण अफ्रीका के हालात में ढलने के लिए श्रीलंका और मेजबान के खिलाफ त्रिकोणीय सीरीज भी खेली। फाइनल में भारत का सामना बांग्लादेश से होगा, जो पिछली बार क्वार्टर फाइनल में हार गई थी। प्रियम गर्ग की अगुवाई वाली टीम ने एशिया कप और इंग्लैंड में त्रिकोणीय सीरीज में उसे हराया था।

अभय शर्मा ने हालांकि कहा,'बांग्लादेश बहुत अच्छी टीम है। हम उसे हल्के में नहीं लेंगे।' वहीं, बांग्लादेश के कोच अकबर अली ने सेमीफाइनल के बाद कहा था,'हम अनावश्यक दबाव नहीं लेना चाहते। भारत के खिलाफ हमें तीनों विभागों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा। मैं अपने प्रशंसकों से कहूंगा कि हमारे लिए दुआ करते रहें।'

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story