Top

विराट कोहली का सिरदर्द बना ओपनिंग जोड़ी का चुनाव, जानें पूरा मामला

नए साल का आगाज टीम इंडिया ने शानदार अंदाज में किया है मगर इसके बावजूद टीम के कप्तान विराट कोहली का सिरदर्द बढ़ चुका है। टीम मैनेजमेंट व कप्तान के लिए सिरदर्दी खड़ी करने वाले भारतीय खिलाड़ी ही हैं।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 11 Jan 2020 3:11 PM GMT

विराट कोहली का सिरदर्द बना ओपनिंग जोड़ी का चुनाव, जानें पूरा मामला
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: नए साल का आगाज टीम इंडिया ने शानदार अंदाज में किया है मगर इसके बावजूद टीम के कप्तान विराट कोहली का सिरदर्द बढ़ चुका है। टीम मैनेजमेंट व कप्तान के लिए सिरदर्दी खड़ी करने वाले भारतीय खिलाड़ी ही हैं। टीम के पास अधिक विकल्प की समस्या पैदा हो गई है। कप्तान विराट के सामने सबसे बड़ी समस्या यह खड़ी हो गई है कि किसे खिलाएं और किसे नहीं। यह फैसला करना उनके लिए काफी मुश्किल हो गया है।

तीन ओपनर कर रहे अच्छा प्रदर्शन

श्रीलंका के खिलाफ सीमित ओवर्स के मुकाबले में टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा को आराम दिया गया है। हिटमैन की गैरमौजूदगी में पारी की शुरुआत शिखर धवन ने बेहतरीन अंदाज में की। इस सीरीज में केएल राहुल के साथ ओपनिंग का जिम्मा संभालते हुए उन्होंने एक हाफ सेंचुरी लगाई। अब विराट के सामने यह समस्या खड़ी हो गई है कि विश्व टी-20 में रोहित शर्मा के साथ धवन और केएल राहुल में से किसे पारी की शुरुआत करने की जिम्मेदारी सौंपी जाए। तीनों खिलाड़ी इतना बढिय़ा प्रदर्शन कर रहे हैं कि यह फैसला करना मुश्किल काम है कि किसे खिलाया जाए और किसे बैठाया जाए।

यह भी पढ़ें...‘दीदी’ के गढ़ में बोले पीएम मोदी, भारत की होगी 21वीं सदी

धवन ने प्रदर्शन पर संतुष्टि जताई

सलामी बल्लेबाजों की दौड़ के बारे में पूछने पर धवन ने कहा कि सभी तीनों खिलाड़ी (रोहित, लोकेश और मैं) अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। रोहित ने पिछले साल शानदार प्रदर्शन किया है। राहुल पिछले एक दो महीने से बेहतरीन कर रहे हैं और वह अच्छे खिलाड़ी हैं और अब मैं भी पिक्चर में आ गया हूं। मैंने भी आज अच्छा प्रदर्शन कर दिखाया है। धवन ने कहा कि अभी पिक्चर अच्छी बन रही है। खैर ये सरदर्दी मेरी नहीं है। इसलिए मैं इसके बारे में नहीं सोचता क्योंकि यह चीज मेरे हाथों में नहीं है। मेरे हाथों में प्रदर्शन करना और अच्छा खेलना है। धवन ने पुणे में शानदार प्रदर्शन के बाद कहा कि मैं खुश हूं और संतुष्ट हूं कि मुझे दो मौके मिले और इनका फायदा उठाया। बाकी कोचों और कप्तान के ऊपर है, तो उनकी सरदर्दी मैं क्यों लूं? धवन ने कहा कि बाएं हाथ का बल्लेबाज होना उनके लिए अच्छा है। उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से बाएं हाथ का बल्लेबाज होना फायदेमंद है क्योंकि इससे गेंदबाजों की लाइन एवं लेंथ में खलल पड़ता है और इसका खेल पर असर पड़ता है।

यह भी पढ़ें...CWC में सोनिया का मोदी सरकार पर हमला, कहा- धर्म के आधार पर बांटता है CAA

खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर कोहली खुश

पुणे में श्रीलंका के खिलाफ तीन मैच की टी-20 शृंखला 2-0 से जीतने के बाद कोहली ने कहा कि धवन, राहुल और रोहित तीनों ही शानदार खिलाड़ी हैं। अब बात यहां आकर थमती है कि कौन बेहतर बल्लेबाजी कर रहा है। रोहित नियमित रूप से टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। लोगों को खिलाडिय़ों को एक-दूसरे खिलाफ रखना बंद कर देना चाहिए। हमें इस बात पर खुश होना चाहिए कि इतने खिलाड़ी टीम को जीत दिलाने के लिए बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं। हमें टीम के खिलाडिय़ों को एक-दूसरे के खिलाफ नहीं खड़ा करना चाहिए। मैं इसमें यकीन नहीं करता। टीम के सामने टी-20 के लिए मध्यक्रम के बल्लेबाजों का चयन भी मुसीबत भरा है। मनीष पांडेय, शार्दुल, श्रेयस अय्यर, शिवम दुबे सभी इन दिनों अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें...PM मोदी के सामने CM ममता ने उठाया CAA-NRC का मुद्दा

सही ट्रैक पर चल रही है टीम

पुणे में शानदार जीत के बाद कोहली काफी खुश नजर आए। विराट ने कहा कि हमने साल की सही ट्रैक पर शुरुआत की है। यह साल का सही आगाज है। एक मैच में हमने लक्ष्य का पीछा किया तो दूसरे में हमने पहले बल्लेबाजी की। हम ऐसी टीम नहीं चाहते जो पहले बल्लेबाजी करे तो स्थायी ना हो। हम बाद में बल्लेबाजी करते हुए जिस विश्वास से खेलते हैं, वैसे ही पहले बल्लेबाजी करते हुए भी खेलना है। हम हर हाल में उसी रवैये के साथ बल्लेबाजी करना चाहते हैं।

यह भी पढ़ें...दिल्ली में फिर आग का तांडव, मौके पर 20 फायर ब्रिगेड की गाड़ियां, रेस्क्यू जारी

मनीष-शार्दुल की जोरदार बल्लेबाजी

पुणे में टॉस गंवाकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम की शुरुआत तो बेहद शानदार रही। केएल राहुल ने 36 गेंदों में 54 रन बनाकर सबका दिल जीता तो चोट के बाद वापसी कर रहे शिखर धवन ने 36 गेंदों में 52 रन बनाए। पहले विकेट के लिए 97 रन की ओपनिंग साझेदारी के बूते ही टीम इंडिया तेज शुरुआत करने में कामयाब रही। हालांकि टीम इंडिया का मध्यक्रम लडख़ड़ा गया, लेकिन पारी के अंत में मनीष पांडे और शार्दुल ठाकुर ने तेजतर्रार बल्लेबाजी से सबको प्रभावित किया। इन दोनों की तेज बल्लेबाजी से ही टीम का स्कोर 200 के पार पहुंच सका। टीम इंडिया के इस विशाल स्कोर का ही नतीजा था कि उसे 78 रन से जीत हासिल हुई।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story