china

चीन के एक वीडियो ने लोगों के होश उड़ा दिए। वैसे तो चीन में अजोबी-गरीब हरकते होना कोई बड़ी बात नहीं है, पर इस वीडियो को देखकर लोगों को आश्चर्य हो गया। पानी में आग लगने की बात तो शायद आपने सिर्फ सुनी ही होगी, पर यहां पानी के नल से ही आग बहने लगी।

जिनपिंग ने नए तरीके की सैन्य प्रशिक्षण प्रणाली स्थापित करने, नए दौर के लिए ज्यादा मजबूत सशस्त्र बलों के निर्माण पर जोर देते हुए कहा कि कम्युनिस्ट पार्टी का लक्ष्य सशस्त्र बलों को विश्वस्तरीय सेना के रूप में डवलप करने का है।

चीनी दूतावास के प्रवक्ता जी रोंग ने कहा कि चीनी मोबाइल ऐप्स बैन करने के लिए भारत हमेशा राष्ट्रीय सुरक्षा का सहारा ले रहा है, जिसका हम सख्त खिलाफ है। वहीं रोंग ने भारत से सभी चीनी ऐप्स पर लगाए गए प्रतिबंध को हटाने की बात कहा है। इसके अलावा चीन ने कहा कि आपसी दुश्मनी के को दूर रखकर विकास में एक-दूसरे का साथ दें।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना ने वर्ष 2012 में एक लक्ष्य तय किया था कि साल 2020 के आखिर तक वे अपने देश में घरेलू गरीबी को पूरी तरह से खत्म कर देंगे।

पहले चीन ने सन 1978 में एक बच्चे की पालिसी का ऐलान किया था। इस नीति का उल्लंघन करने वाले कपल पर जुर्माना लगाया जाता था और उन्हें रोजगार से भी वंचित होना पड़ता था।

ध्वनि से चार गुना तेज गति वाली इस पहली स्वदेशी मिसाइल 'अस्त्र' का परीक्षण जल्द ही स्वदेशी लड़ाकू विमान तेजस से किया जाएगा। ऐसे में लद्दाख सीमा पर चीन से लगातार बढ़ते तनाव के बीच भारत लगातार अपनी सैन्य ताकत को मजबूत करने में लगा है।

आतंक का सिलसिला थम ही नहीं रहा है। नगरोटा में तैनात सुरक्षाबलों ने भारत को दहलाने की साजिश करने वाले आतंकियों की सारी कोशिशों को नाकाम कर दिया। ऐसे में बीते दिनों आतंकवादियों के पास से मिले कुछ पुख्ता सबूतों से भारतीय सुरक्षाबलों के कान खड़े हो गए हैं।

दुनिया भर में आतंकवाद से लड़ने के मामले में भारत को छोड़कर शेष ब्रिक्स देशों की लुंजपुंज नीति इसकी उपयोगिता पर ही सवाल खड़े करती है।

अरब सागर और हिंद महासागर में आईएनएस विक्रमादित्य एयरक्राफ्ट कैरियर से मिग-29एस ने आसमान में उड़ान भरी। दुश्मनों की कांपती हड्डियां इस बात का सबूत हैं कि आसमान में इन उड़ाने से उनके नापाक हौसले चूर-चूर हो गए हैं।

ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि भारत से आयातित प्रशीतित बटरफिश के पैकेट, रूस के सैल्मन पैकेट और अर्जेंटीना से आए प्रशीतित मांस के पैकेट के नमूनों की जांच में कोरोना वायरस मिला है।