dimple yadav

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का आज 47वां जन्मदिन दिन है। लेकिन कोरोना महामारी के कारण हर साल धूमधाम से अपने अध्यक्ष का जन्मदिन मनाने वाले कार्यकर्ताओं में थोड़ी मायूसी है।

समाजवादी पार्टी की बात करें तो इस समय अखिलेश यादव इस पार्टी को संभाल रहे हैं और अध्यक्ष हैं। लेकिन अखिलेश यादव के जीवन को संभालने वाली उनकी पत्नी डिंपल यादव हैं। डिंपल सुर्खियों में नहीं रहती हैं क्योंकि उनको सुर्खियों में रहना पसंद नहीं है।

बात करें अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल की तो इनके फेसबुक पर करीब 18 लाख फालोवर है तो वहीं ट्विटर पर करीब 3 लाख और इंस्टाग्राम पर करीब 22 हजार प्रशंसक हैं। बावजूद इसके कि डिंपल यादव ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर मात्र 6 पोस्ट ही किया है।

खूबसूरत महिलाओं में हमेशा भारतीय फिल्म अभिनेत्रियों की बात होती है, लेकिन कई भारतीय राजनेताओं की पत्नियां अभिनेत्रियों से सुंदरता में कम नहीं हैं। इन नेताओं की पत्नियों की सुंदरता और शालीनता की चर्चा हमेशा होती रहती है।

प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि जीत के लिए डिंपल यादव अपनी नकली बुआ सास के पैर छू रही है, लेकिन अपने ससुर के पैर छूते हुए हमने और जनता ने उन्हें कभी नहीं देखा है।

कन्नौज में समाजवादी पार्टी की लोकसभा प्रत्याशी डिम्पल यादव के समर्थन में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को रोड शो किया। रोड शो में हजारों की संख्या में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता शामिल हुए।

केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने गठबंधन उम्मीदवार डिम्पल यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि वह तो संसद में समय ही नहीं देती हैं तो जनता की समस्या क्या बताएंगी। कभी उन्होंने कन्नौज की समस्या को संसद में उठाया ही नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के डर से इन लोगों ने गठबन्धन बनाया है।

कन्नौज लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी की कैंडिडेट डिंपल यादव ने रसूलाबाद विधानसभा क्षेत्र में रोड शो किया। डिंपल यादव ने रोड शो के दौरान ग्रामीणों से मुलाकात की। इसके साथ ही साथ उन्होंने नुक्कड़ सभाएं कर ग्रामीणों को संबोधित किया।

बीजेपी प्रत्याशी सुब्रत पाठक कन्नौज में रह कर प्रचार की कमान संभालें हुए है। सुब्रत पाठक डिंपल के लिए लगातार मुश्किलें खड़ी कर रहे है। बीजेपी ने डिंपल को पैराशूट कैंडिडेट करार दिया है और इसे मुद्दा बनाकर जनता के बीच जा रही है।