Fitch Ratings

रेटिंग एजेंसी फिच ने कहा है कि हमने इस वित्त वर्ष के जीडीपी अनुमान में जून के ग्लोबल इकोनॉमी आउटलुक के मुकाबले 5 फीसदी की और कमी कर दी है।

विश्व की तीन बड़ी क्रेडिट रेटिंग एजेंसियों में शामिल फिच रेटिंग्स ने अपनी ताजा रिपोर्ट में कहा है कि भारतीय अर्थव्यवस्था अगले वित्त वर्ष यानी के 2021-22 में 9.5 फीसदी की दर से बढ़ने की उम्मीद है।

आ​र्थिक मंदी के बीच फिच रेटिंग्स ने भारत के लिए राहत की खबर दी है। क्रेडिट रेटिंग एजेंसी फिच रेटिंग्स ने भारत की लॉन्ग टर्म रेटिंग को 'BBB-' बरकरार रखा है। साथ ही भारत के आउटलुक को भी स्थिर रखा है। अपनी एक रिपोर्ट में इस एजेंसी ने भारत को लेकर कहा, '