Maharashtra politics

पिछले साल विधानसभा चुनावों में हारने के बाद से पंकजा पार्टी से नाराज हैं। एकनाथ खडसे की तरह उन्होंने अपनी हार के लिए पार्टी की गुटबाजी को जिम्मेदार ठहराया था। पंकजा ने राहत पैकेज की घोषणा करके सीएम से बाढ़ पीड़ित किसानों के लिए दीपावली को अच्छा बनाने का आग्रह किया था।

पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस और शिवसेना नेता संजय राउत के बीच हुई गुपचुप मुलाकात के एक दिन बाद ही राज्य के दो बड़े दिग्गजों की अचानक मुलाकात हुई।

बॉलीवुड के कई बड़े सितारों के ड्रग कनेक्शन को लेकर मचे बवाल के बीच शिवसेना नेता संजय राउत और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की गुपचुप मुलाकात हुई है।

महाराष्ट्र में कोरोना संकट काफी गहरा गया है मगर इस संकट के बीच भी विधानपरिषद चुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज हो गई हैं।इस बीच प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोराट ने साफ तौर पर कहा है कि कांग्रेस सिर्फ एक सीट पर राजी नहीं है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, शरद पवार, उद्धव ठाकरे और संजय राउत उन नेताओं में से हैं, जिनके फोन टैप किए गए थे। फोन टैंपिंग की खबर सामने आने के बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि मैं बाल ठाकरे का चेला हूं, जो कुछ करता हूं, खुले तौर पर करता हूं।

शिवसेना के दांव के कारण सीएम पद से हाथ धोने वाले राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के चीफ राज ठाकरे के साथ मुलाकात कर विभिन्न मुद्दों पर लंबी बातचीत की है।

महाराष्ट्र में शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन की उद्धव ठाकरे सरकार के पहले मंत्रिमंडल विस्तार में अजित पवार को बड़ी जिम्मेदारी मिलना पहले से ही तय माना जा रहा था। पवार एनसीपी के कद्दावर नेता हैं और माना जा रहा है कि इसी कारण शरद पवार की ओर से उन्हें डिप्टी सीएम बनाने की हरी झंडी दी गई।