@samajwadiparty

सपा वरिष्ठ नेता आजम खां के घर के बाहर नोटिसों का भंडार देखकर लोग हैरान हो गए। आजम खां के रामपुर स्थित आवास में मंगलवार को मुख्य दरवाजे के बाहर पुलिस स्टेशन के अधिकारियों ने जमीन हड़पने समेत अन्य कई मामलों से संबंधित कोर्ट की कई नोटिस एक साथ चिपका दिए हैं। 

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के नेता विरोधी दल राम गोविंद चौधरी ने आरोप लगाया है कि पार्टी नेता मो. आजम खां को हराने के लिए रामपुर के प्रशासनिक अधिकारी किसी भी हद तक जा सकते हैं। इनके रहते रामपुर में निष्पक्ष चुनाव नहीं हो सकता है। श्री चौधरी का यह बयान मुख्य निर्वाचन अधिकारी को पार्टी का ज्ञापन सौंपने के बाद दिया है।

सपा अध्यक्ष ने बुधवार को कहा कि हकीकत यह है कि सपा सरकार ने मथुरा के विकास के लिए जो योजनाएं शुरू की थीं, वो भी भाजपा सरकार में अधूरी छोड़ दी गई हैं। उन्होंने कहा कि सपा सरकार में पशु पालन और दुग्ध उद्योग पर विशेष ध्यान दिया गया था। अमूल और पराग के नए प्लांट भोगनीपुर (कानपुर) वाराणसी और लखनऊ में और इटावा में मदर (डेयरी) प्लांट भी लगाया गया था।

पुलिस प्रशासन  द्वारा किये गए कार्यवाही के खिलाफ आज सपा मुखिया ने सपाईयों को आजम खां के समर्थन में  सुबह रामपुर पहुंचने का आदेश दिया था। इसके मददेनजर पुलिस सुबह से ही सतर्क हो गई और जिले की सीमायें सील कर किसी भी सपाई को शहर में घुसने नहीं दिया।

सपा जिलाध्यक्ष तनवीर खान के नेतृत्व मे दर्जनों सपा नेता और कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट परिसर मे जमकर हंगामा काटा। उन्होंने सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन देकर सीएम योगी पर तमाम आरोप लगाए है। उनका आरोप है कि रामपुर कि जौहर यूनिवर्सिटी मे बगैर किसी भेदभाव के शिक्षा दी जा रही है।

प्रदेश में उन्नाव रेप कांड का मामला लगातार गरमाता ही जा रहा है। रेप पीड़िता की कार का एक्सीडेंट होने के बाद ये मामला और भी तूल पकड़ता जा रहा है। विपक्ष इस मामले को हाथ से गवाना नहीं चाहता है। सपा, बसपा और कांग्रेस की ओर से निशाना साधा जा रहा है। 

लखनऊ। समाजवादी पार्टी बीती 17 जुलाई को सोनभद्र के गांव उम्भा में हुए भीषण नरसंहार में मृत 10 लोगों की मौत पर संवेदना व्यक्त करने और इस घटना पर जनता का रोष जताने के लिए आगामी 23 जुलाई को सोनभद्र कूच करो अभियान चलाएगी। इस अभियान में पार्टी कार्यकर्ता व पदाधिकारी बड़ी संख्या में भाग लेंगे। 

 समाजवादी पार्टी ने एक बयान जारी करके कहा है कि पीजीआई में भर्ती महंत ज्ञानदास ने सपा मुखिया अखिलेश यादव को फिर से यूपी का मुख्यमंत्री बनने का आर्शीवाद दिया है। सपा मुखिया अखिलेश, बीमारी के कारण बीते एक सप्ताह से पीजीआई में भर्ती अयोध्या के हनुमानगढ़ी के महंत ज्ञानदास की कुशलक्षेम लेने रविवार को पीजीआई पहुंचे ।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का आज 46 वां जन्मदिन है। टीपू से उत्तर प्रदेश के 'सुल्तान' बन चुके अखिलेश यादव का जन्म 1 जुलाई, 1973 को इटावा के सैफई में हुआ और इस तरह से जिदंगी के 46 साल का सफर उन्होंने आज तय कर लिया है।