राम मंदिर पर बड़ा ऐलान: इस दिन शुरू हो रहा निर्माण, तैयारियां हुई तेज

अनलॉक-1.0 में 8 जून से मंदिरों को खोलने की मंजूरी मिल गई है। ऐसे में अयोध्या रामजन्मभूमि परिसर में मंदिर निर्माण को लेकर तैयारियां भी पूरी हो गई हैं।

नई दिल्ली। अनलॉक-1.0 में 8 जून से मंदिरों को खोलने की मंजूरी मिल गई है। ऐसे में अयोध्या रामजन्मभूमि परिसर में मंदिर निर्माण को लेकर तैयारियां भी पूरी हो गई हैं। राम मंदिर परिसर में चल रहे समतलीकरण के बाद फाउंडेशन बनाए जाने की तैयारी को लेकर एलएंडटी कंपनी के अधिकारियों ने परिसर में सभी बदोबस्त कर लिया है। वही, राम मंदिर निर्माण की प्रक्रिया के लिए यहां धार्मिक अनुष्ठान का भी आयोजन किया जाएगा।

ये भी पढ़ें…तिलमिला उठे हार्दिक: BJP में शामिल हो रहे विधायकों पर आया गुस्सा, दिया ये बयान

मंदिर निर्माण कार्य शुरू होगा

ये धार्मिक अनुष्ठान का आयोजन परिसर में स्थित प्राचीन कुबेर टीला पर होगा, जहां भगवान शिव का मंदिर हैं।  ऐसे में 10 जून को महंत कमल नयन दास अन्य संतों के साथ पूजन क्रिया को शुरू करेंगे, जो सुबह 8:00 बजे से शुरू होकर 2 घंटे तक किया जाएगा। फिर इसके बाद मंदिर निर्माण कार्य शुरू होगा।

इस पर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास के उत्तराधिकारी महंत कमल नयन दास के अनुसार, भगवान राम ने लंका पर विजय प्राप्ति से पहले भगवान रामेश्वरम की स्थापना कर अभिषेक किया था, इसलिए मंदिर निर्माण से पहले भगवान शशांक शेखर का पूजन किया जाएगा।

ये भी पढ़ें…बड़ी खबर: अब कर पाएंगे राम लला के दर्शन, करना होगा इन नियमों का पालन

भगवान शशांक शेखर की आराधना

इसके साथ ही ये भी कहा कि मंदिर निर्माण की तैयारी पूरी हो चुकी है। और तराशे गए पत्थरों से ही मंदिर का निर्माण किया जाना है और राम लला अपने गर्भगृह में विराजमान होंगे। लेकिन इसके पहले रामजन्मभूमि में स्थित कुबेर टीला पर भगवान शशांक शेखर की आराधना की जाएगी। फिर कार्य को शुरू किया जाएगा।

पूजन को लेकर कमल नयन दास शास्त्री के मुताबिक, हर कार्य के प्रारंभ में रुद्राभिषेक आवश्यक होता है। भगवान श्री राम को लंका पर विजय प्राप्त करनी थी तो सबसे पहले भगवान श्री रामेश्वर जी की स्थापना की, क्योंकि यह देखा गया कि मंदिर उपेक्षित पड़ा है। शिवजी अभी तक उपेक्षित रहे तो अच्छा है भगवान का अभिषेक किया जाए।

ये भी पढ़ें…सीएम योगी के सख्त आदेश, अस्पतालों का नियमित निरीक्षण करे अधिकारी

अभिषेक 10 तारीख को

आगे कमल नयन दास ने कहा है कि राम मंदिर का कार्य प्रारंभ है। सारी तैयारी पूरी है। इसमें कोई देर नहीं है। महामारी खत्म होते ही बड़े जोरों से कार्य होगा। अभिषेक 10 तारीख को होगा।

आगे बताते हुए सुबह 8:00 बजे से कितने ब्राह्मण लगेंगे यह कोई महत्व नहीं है। हम लोग बैठक पूजा करेंगे। सुबह 8:00 बजे से हमलोग खुद अभिषेक करेंगे। राम मंदिर निर्माण को शुरू करने के लिए यह पूजा अनुष्ठान होगा। मंदिर भव्य बनाने के लिए यह पूजा अनुष्ठान होगा।

ये भी पढ़ें…शव से ऐसी बदसलूकी: लोग रह गए हैरान, कोरोना से हुई थी मौत

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।