भीषण सड़क हादसा: नहीं रहे CRPF के सब इंस्पेक्टर, ऐसे हुआ अंतिम संस्कार

सिलीगुड़ी से ड्यूटी कर लौटते समय सड़क दुर्घटना में मृत बलिया के सीआरपीएफ के सब इंस्पेक्टर का आज पूर्ण सैनिक व राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया ।

बलिया । सिलीगुड़ी से ड्यूटी कर लौटते समय सड़क दुर्घटना में मृत बलिया के सीआरपीएफ के सब इंस्पेक्टर का आज पूर्ण सैनिक व राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया । सेना के विशेष वाहन से आज दोपहर पैतृक ग्राम जिले के भीमपुरा थाना क्षेत्र के ब्राहीमपुर बनकटवा ग्राम पहुंचा। अंतिम दर्शन के लिये ग्रामीणों का हुजूम उमड़ पड़ा ।

ये भी पढ़ें…तबाह हुआ ये देश: नहीं मिल रही दफनाने की जगह,मारी-मारी फिर रही लाशें

CRPF के सब इंस्पेक्टर महेंद्र यादव का शव

सैनिक वाहन के पहुँचते ही उपस्थित लोगों की आंखे नम हो गई तथा परिजनों के साथ ही उमड़े लोग बिलख पड़े । सीआरपीएफ के जवानों ने श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए गॉड ऑफ ऑनर दिया ।

तहसीलदार जितेंद्र सिंह, एसओ भीमपुरा शिवमिलन, एसआई गणेश पाण्डेय आदि ने पुष्प चक्र अर्पित कर सलामी दी। इसके बाद जुलूस की शक्ल में मऊ जनपद के दोहरीघाट स्थित मुक्तिधाम पर पहुँचा तथा सरयू नदी के तट पर अंत्येष्टि हुई ।

महेंद्र तेरा नाम अमर रहेगा

मुखाग्नि मृतक के इकलौते बेटे राहुल ने दिया । अंतिम संस्कार के समय महेंद्र यादव अमर रहे , जब तक सूरज चांद रहेगा , महेंद्र तेरा नाम अमर रहेगा , नारे गुंजायमान हुए ।

ये भी पढ़ें…अभी-अभी एक्टर की मौत: फूट-फूट कर रोये सलमान, शोक में डूबा बॉलीवुड

इस मौके पर सपा के पूर्व विधायक गोरख पासवान व पूर्व जिलाध्यक्ष आद्या शंकर यादव सहित विभिन्न राजनैतिक दलों व सामाजिक संगठनों के लोग मौजूद रहे , हालांकि शासित दल से जुड़े जन प्रतिनिधियों की अनुपस्थिति लोगों को खली ।

उल्लेखनीय है कि भीमपुरा थाना क्षेत्र के ब्राहीमपुर बनकटवा निवासी महेंद्र यादव 50 की नियुक्ति सीआरपीएफ के जमशेदपुर बटालियन में एसआई पोस्ट पर हुई थी।

ये भी पढ़ें…. सावधान: पाकिस्तान से आया टिड्डी दल यूपी में जल्द देगा दस्तक

एक गाड़ी को बचाने के दौरान

फिलहाल उनके बटालियन की ड्यूटी सिलीगुड़ी शिलांग में थी। गत 21 मई को दोपहर ड्यूटी से लौटते समय उनका सरकारी वाहन अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गई , जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई।

उनके शव के साथ आये बटालियन के कमांडेंट अनूप सिंह सिंह ने बताया कि दुर्घटना के दिन बंगाल में आये चक्रवात के कारण आंधी पानी चल रही थी , जिसमें एक गाड़ी को बचाने के दौरान महेन्द्र की गाड़ी पेड़ से जा टकराई, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई थी ।

रिपोर्ट- अनूप कुमार हेमकर

ये भी पढ़ें…चर्च में गंदी हरकत: पादरी की सामने आई काली करतूत, वायरल हुई तस्वीरे

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।