विकास के ताबड़तोड़ खुलासे: सामने आया BJP विधायकों का नाम, मचा हड़कंप

विकास दुबे इस समय उत्तर प्रदेश पुलिस का मोस्ट वांटेड क्रिमिनल बन गया है। कुख्यात अपराधी विकास दुबे कानपुर से आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद से ही फरार चल रहा है।

Published by Shreya Published: July 6, 2020 | 2:53 pm
Modified: July 6, 2020 | 3:18 pm

लखनऊ: विकास दुबे इस समय उत्तर प्रदेश पुलिस का मोस्ट वांटेड क्रिमिनल बन गया है। कुख्यात अपराधी विकास दुबे कानपुर से आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद से ही फरार चल रहा है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई है। विकास दुबे भले ही अब तक पुलिस के हाथ ना लगा हो, लेकिन उसे लेकर कई सनसनीखेज खुलासे हो रहे हैं। इस बीच उसके कुछ पुराने वीडियोज भी वायरल हो रहे हैं। इसमें से एक है साल 2017 का एसटीएफ जांच का वीडियो, जिसके सामने आने के बाद हडकंप मच गया है। इस वीडियो में विकास दुबे ने दो बीजेपी विधायकों के नाम भी लिए हैं, भगवती प्रसाद सागर और अभिजीत सिंह सांगा का।

यह भी पढ़ें: कानपुर कांड खुलासा: सीओ ने अधिकारियों को बताई थी ये बात, रुक जाता हत्याकांड

जिला पंचायत चुनाव के दौरान लगा था हत्या का आरोप

दरअसल, विकास दुबे पर जिला पंचायत चुनाव के दौरान एक व्यक्ति की हत्या का आरोप लगा था। विकास पर उस शख्स की हत्या का षड्यंत्र रचने का आरोप लगा था। इस मामले में STF ने उससे पूछताछ की थी। इस पूछताछ की वीडियो सामने आई है। तो चलिए आपको बताते हैं कि इस दौरान एसटीएफ और विकास दुबे के बीच क्या सवाल-जवाब हुए थे।

यह भी पढ़ें: चीन की बड़ी हार: मोदी के खौफ में लेना पड़ा ये फैसला, सेना अभी भी हाई अलर्ट पर

सवाल-

थाने में जो तुम्हारी एफिडेविट पड़ रही है, उसके लिए तुम पर कोई दबाव बनाया गया था?

जवाब-

दबाव नहीं, लेकिन अपनी कोशिश की थी, अपने लोकल नेता, हमारे यहां के प्रबुद्ध लोग हैं, उनसे किया था।

सवाल-

कौन-कौन हैं?

जवाब-

हमारे लोकल विधायक भगवती प्रसाद सागर जी हैं और अभिजीत सिंह सांगा जी हैं। एमएलए और ब्लॉक प्रमुख हैं, राजेश कमल जी और जिला पंचायत अध्यक्ष हैं और तीन-चार प्रधान भी हैं।

सवाल-

क्या इन लोगों ने डराया धमकाया?

जवाब-

नहीं, डराया धमकाया नहीं, इन लोगों ने समझाया था कि देखो अगर ये नहीं हैं और ये फर्जी हैं तो इनकी मदद करो। अगर मुल्जिम हैं तो कई बात नहीं, लेकिन ये फर्जी हैं इसलिए इनके लिए जो हिसाब करना था उनको वो किया।

सवाल-

इन लोगों से तुम्हारी बात होती है?

जवाब-

हां, टेलिफोनिक भी और आने-जाने से मुलाकात भी होती है।

यह भी पढ़ें: रिलायंस ने रचा इतिहास, ऐसा करने वाली बनी पहली भारतीय कंपनी

विकास दुबे ने कहा फर्जी तरीके से आया हत्या में नाम

वहीं इस विकास दुबे ने इस हत्या के मामले में कहा था कि हत्या में उसका नाम कथित रूप से फर्जी तरीके से आ गया था। उसने कहा था कि  साहब पूरी जनता जानती है और मैं खुद जानता हूं कि जिस समय ये हत्या हुई, उस समय मेरा नाम तीसरी तहरीर में षड्यंत्र में बढ़ाया गया था। मेरा नाम षड्यंत्र रचने में आया था। इसमें वह बता रहा है कि कैसे एक हत्या में उसका कथित रूप से फर्जी तरीके से आ गया था।

यह भी पढ़ें: रेलवे का नया रिकॉर्ड: अब इससे दौड़ेंगी ट्रेनें, दुनिया में पहली बार होगा ऐसा

विधायक ने विकास दुबे से अपने रिश्तों को किया खारिज

इस वीडियो के सामने आने के बाद हड़कंप मच गया और बीजेपी विधायक भगवती सागर ने विकास दुबे के साथ अपने रिश्तों को खारिज कर दिया। एक न्यूज चैनल से बात करते हुए विधायक भगवती सागर ने कहा कि विकास दुबे एक बड़ा अपराधी है और वह अपने बचाव के लिए सत्ता पक्ष के किसी भी नेता या जनप्रतिनिधि का नाम ले सकता है।

यह भी पढ़ें: भारी बारिश से हाहाकार: सड़क पर तैर रहीं गाड़ियां, इन राज्यों में जमकर बरसेंगे बादल

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।