Top

आसमान से हुई मौत की बारिश: कई लोगों ने तोड़ा दम, जिले में मचा हाहाकार

उत्तर प्रदेश में शनिवार देर शाम मौसम ने एकाएक करवट बदल ली। तेज आंधी-तूफ़ान के बाद हुई बारिश में जहां लोगों को थोड़ी राहत मिली वहीं जिले में दो की मौत हो गई जबकि कई लोंगो के भी घायल होने की ख़बर है।

Ashiki Patel

Ashiki PatelBy Ashiki Patel

Published on 31 May 2020 5:33 AM GMT

आसमान से हुई मौत की बारिश: कई लोगों ने तोड़ा दम, जिले में मचा हाहाकार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रायबरेली: उत्तर प्रदेश में शनिवार देर शाम मौसम ने एकाएक करवट बदल ली। तेज आंधी-तूफ़ान के बाद हुई बारिश में जहां लोगों को थोड़ी राहत मिली वहीं जिले में दो की मौत हो गई जबकि कई लोंगो के भी घायल होने की ख़बर है।

आंधी तूफान में गई दो की जान

जानकारी के अनुसार जिले के ऊंचाहार कोतवाली क्षेत्र के पूरे बरइन मजरे सवैया धनी में तेज आंधी से एक महिला शांति (45) के ऊपर पक्की दीवार गिर गई। महिला को गंभीर चोटे आई। परिवार के लोगों ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ऊंचाहार पहुंचाया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

ये भी पढ़ें: एलन मस्क की spaceX ने अंतरिक्ष के लिए भरी उड़ान, नासा ने ऐसे रचा इतिहास

वहीं जिले के गदागंज थाना क्षेत्र के मनिहर गर्वी निवासी महराजदीन (55) बाइक से किसी कार्य से काकोरन गया था शाम को आए तूफान में एक घर की छत पर लगे टीन से उसका गला कट गया और मौके पर ही उसकी दर्दनाक मौत हो गई। उधर जिले के ही खीरो थाना क्षेत्र के रनापुर पहरौली गांव में आकाशीय बिजली गिरने से तीन युवक झुल गए। इसमें एक युवक की अस्पताल ले जाते समय रास्ते में मौत हो गई जबकि दो अन्य की हालत गम्भीर है। जिनका सीएचसी में इलाज जारी है।

ये भी पढ़ें: रेलवे ने किया ये बदलाव, ट्रेन का टिकट बुक करने से पहले जान लें ये नियम

मौसम विभाग ने अगले दो दिनों के लिए अलर्ट जारी किया

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में शनिवार को कई जिलों में आंधी-तूफान और बिजली गिरने से 28 लोगों की जान गई है। कई जगहों पर पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए जिससे यातायात भी प्रभावित हुआ। इस बीच मौसम विभाग ने अगले दो दिनों के लिए अलर्ट जारी किया है। राज्य में गरज-चमक के साथ बहुत तेज बारिश होने की संभावना है। पश्चिमी विक्षोभ और यूपी- बिहार के सीमावर्ती इलाकों में हवा के कम दबाव के चलते मौसम में बदलाव रहेगा। इन दोनों सिस्टम को अरब सागर से लगातार पर्याप्त नमी मिल रही है जिससे दोनों के कम से कम 48 घंटे तक सक्रिय रहने की सम्भावना है।

पूर्वी यूपी के 12 जिलों में अगले 36 घंटे में आंधी-पानी के आसार

मौसम विभाग के अनुसार, इन दो सिस्टम की वजह से उत्तर प्रदेश के बृज और मध्य क्षेत्र में मौसम का मिजाज काफी बिगड़ा हुआ है। इसके कारण बृज क्षेत्र के आगरा-मथुरा से लेकर हाथरस, मैनपुरी, एटा, फिरोजाबाद, औरैया, इटावा, कन्नौज और रुहेलखण्ड के बदायूं, बरेली, शाहजहांपुर, पीलीभीत, लखीमपुर के अलावा हरदोई, सीतापुर, लखनऊ तक में आंधी के अलावा गरज-चमक के साथ बारिश हुई है। बुंदेलखंड के चित्रकूट, महोबा, बांदा, जालौन और हमीरपुर में भी इसके कारण मौसम में बदलाव के संकेत हैं। इसी तरह पूर्वी यूपी के कम से कम 12 जिलों में भी अगले 36 घंटे में आंधी-पानी के आसार है।

ये भी पढ़ें: तय समय पर ही होगा हरिद्वार कुंभ, अखाड़ा परिषद की सहमति के बिना कोई फैसला नहीं

बुंदेलखंड और कानपुर के आसपास आंधी-बारिश और बिजली गिरने से उन्नाव में 7, कन्नौज में 6, बांदा और कानपुर शहर में एक-एक व्यक्ति की जान चली गई। हालांकि, 5 मौतें राज्य के अन्य जिलों में हुई हैं, जिसकी जानकारी फिलहाल राहत आयुक्त की ओर से नहीं दी गई है। वहीं, फिरोजाबाद में 10, आगरा में 3 घायल हुए हैं। यहां 10 पशुओं की मौत हो गई है। कानपुर शहर के बिल्हौर में आंधी-बारिश के साथ आधा घंटे तक ओले गिरे, जिससे फसल चौपट हो गईं। सैकड़ों गाड़ियों के शीशे टूट गए और कई लोग घायल भी हुए। घाटमपुर में भी जमकर ओलावृष्टि हुई।

रिपोर्ट: नरेंद्र

ये भी पढ़ें: Live: लॉकडाउन 4.0 हुआ खत्म, अब तक 1.73 लाख से ज्यादा कोरोना संक्रमित

Ashiki Patel

Ashiki Patel

Next Story