बाप रे बाप! इतना मोटा है ये खतरनाक आतंकी, पकड़ने गई पुलिस तो हुआ ये हाल…

Published by Shivani Awasthi Published: January 19, 2020 | 10:01 am
Modified: January 19, 2020 | 10:03 am

दिल्ली: ईराक में एक आतंकी की गिरफ्तारी पुलिस टीम के लिए सर दर्द बन गयी। दरअसल, आईएसआईएस (ISIS) आतंकी (Terrorist) को स्वाट टीम ने पकड़ तो लिया लेकिन जब उसे गिरफ्तार कर पुलिस वैन में बैठाया गया तो आतंकी वैन में अटा ही नहीं। बाद में पिकअप ट्रक की मदद से उसे ले जाना पड़ा। इसके पीछे की वजह थी उसका बढ़ा हुआ वजह। आतंकी का वजन 250 किलोग्राम (250 KG) है। आतंकी आईएसआईएस से ताल्लुक रखता है। उसकी पिकअप से ले जाती फोटो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है।

आतंकी का वजन 250 किलोग्राम, पिकअप ट्रक में लादकर ले जाया गया:

मामला ईराक के मोसुल का है, जहां पुलिस टीम ने आईएसआईएस आतंकी को गिरफ्तारी कर बड़ी सफलता हासिल की। पुलिस ने छापेमारी के दौरान पश्चिमी इराक के एक घर से आतंकी को पकड़ा। हालाँकि आतंकी मकान में बैठा रहा और पुलिस को देख कर हिल भी नहीं सका। वजह थी उसका वजह।

ये भी पढ़ें: गजब शौक नेताजी के: महिला के कपड़े पहनना था पसंद! श्रीदेवी के साथ किया काम

दरअसल आतंकी 250 किलोग्राम का था। पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर किसी तरफ मकान से बाहर निकाला लेकिन j उसे पुलिस वैन से ले जाने के लिए बैठाया गया तो वह वैन में घुस ही नहीं सका।

आईएसआईएस का खूंखार आतंकी है अबु अब्दुल बारी

पुलिस टीम हैरान ही रह गयी, बाद में पिकअप बुलानी पड़ी, इसकी मदद से उसे ले जाया गया। आतंकी की पहचान शिफ अल निमा जिसे अबु अब्दुल बारी के नाम से हुई। आईएसआईएस आतंकियों के बीच जब्बा द जिहादी के नाम से मशहूर ये आतंकी सुरक्षा बलों के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के लिए जाना जाता था। वहीं ये आईएसआईएस के वरिष्ठ नेताओं में से एक था।

ये भी पढ़ें:गोलियों की तड़तड़ाहट से दहला कश्मीर: आमने-सामने पाक सैनिक और BSF जवान

मौलवियों को फांसी और मस्जिद को बम से उड़ाने का जारी किया था फतवा:

इस बारे में जांच अधिकारियों ने जानकारी दी कि अबु अब्दुल बारी ने फतवा जारी करते हुए उन विद्वानों और मौलवियों को फांसी देने का आदेश दिया था, जिन्होंने आईएसआईएस के प्रति निष्ठा रखने से इनकार कर दिया था। वहीं उसने शहर की एक मस्जिद को ब्‍लास्‍ट में उड़ाने का भी फतवा जारी किया था। इस मस्जिद को साल 2014 में आईएसआईएस ने पूरी तरह से नष्‍ट कर दिया था और मोसुल को अपने कब्‍जे में ले लिया था।

बताया जा रहा है कि गिरफ्तार आतंकी ओबेसिटी का शिकार है। लंदन के थिंक टैंक क्‍यूलिआम के फाउंडर माजिद नवाज ने उसके बारे में लिखा, ‘वह बहुत भारी था और पुलिस वैन में नहीं आ सकता था। उसके वजन के कारण पुलिस को पिकअप ट्रक में डालकर उसे ले जाना पड़ा।’

ये भी पढ़ें:दुनिया के सबसे छोटे व्यक्ति का निधन, गिनीज वर्ल्ड में शामिल है नाम