आतंकियों पर बरसाई गोलियां: इस तरह उतारा मौत के घाट, पाक तक गूंजी तड़तड़ाहट

आतंक के खिलाफ सेना ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पांच आतकवादियों को मौत के घाट उतार दिया। इसके साथ ही आतंकियों के हमले की साजिश को भी नाकाम कर दिया।

Published by Shivani Awasthi Published: February 16, 2020 | 4:19 pm
Modified: February 16, 2020 | 4:34 pm

दिल्ली: आतंक के खिलाफ सेना ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पांच आतकवादियों को मौत के घाट उतार दिया। इसके साथ ही हमले की साजिश रच रहे आतंकियों के मंसूबों को भी नाकाम करते हुए 25 विस्फोटक उपकरणों को निष्क्रिय कर दिए। इस बारे में रक्षा मंत्रालय ने जानकारी दी है। बता दें कि यह मामला अफगानिस्तान का है, जहां तालिबानी आतंकियों के खिलाफ ये कड़ी कार्रवाई की गयी है।

अफगान सेना ने 5 तालिबानी आतंकी मार गिराए:

मामला, अफगानिस्तान का है, जहां रविवार को दक्षिण कंधार में सेना ने बड़ी कार्रवाई की है। दरअसल, अफगान सेना आतंकियों की तलाश में अभियान चलाया। इस दौरान सेना ने आतंकियों को हेर लिया और गोलियां तड़तड़ा दी। दोनों तरफ से मुठभेड़ हो गयी।

ये भी पढ़ें: खौफनाक आतंकी हमला: 30 लोगों को उतारा मौत के घाट, सेना ने संभाला मोर्चा

आतंकवादियों के खिलाफ सेना का छापेमारी अभियान:

हालाँकि सेना को बड़ी सफलता तब मिली, जब पांच तालिबानी आतंकियों को मार गिराया। बता दें कि अफगान रक्षा मंत्रालय ने इस बारे में बयान जारी कर सूचना दी। मंत्रालय ने बताया, ‘अफगान सेना ने शनिवार को खाकरेज जिले में आतंकवादियों की तलाश में अभियान चलाते हुए छापेमारी की। इस दौरान कंधार के अति सुरक्षित क्षेत्र की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एहतियात के तौर पर सुरक्षात्मक उपाय किए।’

ये भी पढ़ें: लापता है खतरनाक आतंकी मसूद अजहर! FATF से बचने के लिए पाक की नई चाल

हमले की साजिश में 25 आईईडी तलाश कर किये निष्क्रिय:

वहीं सेना ने आतंकी हमले की साजिश के तहत लगाये गये 25 आईईडी भी छापेमारी में बरामद किये, जिन्हें निष्क्रिय कर बड़ा हमला होने से रोक दिया।

ये भी पढ़ें:पाकिस्तान में तख़्तापलट! सेना पर भड़के इमरान, बोले- मैं PAK आर्मी से नहीं डरता

गौरतलब है कि इससे पहले 11 फरवरी को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक सैन्य अकादमी के बाहर आत्मघाती हमले में पांच लोगों की मौत हो गई थी। मृतकों में चार सैन्यकर्मी शामिल हैं। रक्षा मंत्रालय ने बताया कि हमले में छह लोग घायल भी हुए थे।