कर्मचारियों की छंटनी: हजारों की नौकरी पर संकट, अब इस कंपनी ने लिया फैसला

कोरोना वायरस महामारी की वजह से लोगों की नौकरी पर संकट खड़ा हो गया है। अब इस बीच एक एयरलाइन अपने छह हजार कर्मचारियों की छंटनी करने पर विचार कर रही है।

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी की वजह से लोगों की नौकरी पर संकट खड़ा हो गया है। अब इस बीच एक एयरलाइन अपने छह हजार कर्मचारियों की छंटनी करने पर विचार कर रही है। दरअसल, ऑस्ट्रेलिया की क्वांटास एयरलाइन अपने करीब छह हजार कर्मचारियों को नौकरी से निकालने की यजना बना रही है। कोरोना महामारी के चलते दुनियाभर में विमानन क्षेत्र की कंपनियों का परिचालन लगभग ठप पड़ा हुआ है। वहीं इस महामारी की मार का ऑस्ट्रेलिया की सबसे बड़ी एयरलाइन को भी करना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें: बारिश की चेतावनी: यूपी-दिल्ली समेत यहां मानसून की दस्तक, अलर्ट जारी

15 हजार कर्मचारियों का अवकाश बढ़ाने का फैसला

इसके अलावा कंपनी ने अपने 15 हजार कर्मचारियों का अवकाश और बढ़ाने का भी निर्णय लिया है। ऑस्ट्रेलियाई क्वांटास एयरलाइन की तरफ से गुरुवार को अपनी लागत में अरबों डॉलर की कटौती करने और नई पूंजी जुटाने का एलान किया है। इसके अलावा कंपनी ने अपने 100 विमानों को एक साल तक नहीं चलाने का भी फैसला किया है। साथ ही कंपनी अपने छह शेष बोइंग 747 विमानों को भी तत्काल हटाने जा रही है।

यह भी पढ़ें: शहरी विकास मंत्रालय ने जारी की नई रेटिंग, साफ सफाई में नोएडा को मिले 3 स्टार

कम आमदनी की वजह से बेहद छोटी हुई एयरलाइन

क्वांटास एयरलाइन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एलन जॉयसी ने एक न्यूज एंजेसी को बताया कि बीते कुछ सालों से कम कमाई की वजह से अब एयरलाइन बेहद छोटी हो गई है। अधिकारी ने कहा कि अवकाश पर भेजे गए कर्मचारियों के करियर में एक बड़ी बाधा आ गई है। एलन जॉयसी ने कहा कि हमारे फैसले से हमारे हजारों लोग प्रभावित होंगे।

यह भी पढ़ें: छात्रों की मुश्किलें बढ़ी: जिले में परीक्षा को लेकर हो रहे असमंजस, न जाए अब क्या होगा आगे

दुनियाभर में एयरलाइंस कंपनियां कर रही कर्मचारियों की छंटनी

बता दें कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से दुनिया भर में एयरलाइंस कंपनियों की तरफ से कर्मचारियों की छंटनी की जा रही है। दुबई की एमिरेट्स एयलाइंस ने एक दिन में अपने 600 पायलट्स को नौकरी से निकाल दिया। कंपनी की तरफ से छंटनी किए गए इन पायलटों में भारत के पायलट भी शामिल हैं। जो कि हाल ही में इंडिगो को छोड़ इस कंपनी में शामिल हुए थे। यह एविएशन सेक्टर में सबसे बड़ी छंटनी माना जा रहा है।

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान हमले को तैयार: परमाणु बम को लेकर हुआ बड़ा खुलासा, अलर्ट हुआ भारत

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें ।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App